हाइलाइट्स

  • 30 मई को है वट सावित्री पूजा व्रत
  • बरगद के पेड़ के नीचे सुहागिन महिलाएं करती हैं पूजा
  • सावित्री और सत्यवान से जुड़ी है वट सावित्री पूजा की कथा

लेटेस्ट खबर

Maharastra Politics: सदन में बोले फडणवीस- ये 'ED' की सरकार...वापस आया हूं और शिंदे को साथ लाया हूं

Maharastra Politics: सदन में बोले फडणवीस- ये 'ED' की सरकार...वापस आया हूं और शिंदे को साथ लाया हूं

kaali mata poster controversy: मां काली का सिगरेट पीते पोस्टर दिखाया, फिल्म मेकर को गिरफ्तार करने की मांग

kaali mata poster controversy: मां काली का सिगरेट पीते पोस्टर दिखाया, फिल्म मेकर को गिरफ्तार करने की मांग

Maharashtra Floor Test: महाराष्ट्र विधानसभा में शिंदे सरकार को मिले बंपर नंबर, क्या है इनसाइड स्टोरी?

Maharashtra Floor Test: महाराष्ट्र विधानसभा में शिंदे सरकार को मिले बंपर नंबर, क्या है इनसाइड स्टोरी?

Taapsee Pannu अगले प्रोजेक्ट पर कर रही हैं सामंथा रुथ प्रभू संग काम, जल्द ही करेंगी इसका ऐलान

Taapsee Pannu अगले प्रोजेक्ट पर कर रही हैं सामंथा रुथ प्रभू संग काम, जल्द ही करेंगी इसका ऐलान

Ind vs Eng : Bumrah ने बल्लेबाजी के साथ गेंदबाजी में भी की रिकॉर्डों की बारिश, Kapil Dev तक को छोड़ा पीछे

Ind vs Eng : Bumrah ने बल्लेबाजी के साथ गेंदबाजी में भी की रिकॉर्डों की बारिश, Kapil Dev तक को छोड़ा पीछे

Vat Savitri Puja 2022: 30 मई को है सुहागिनों का व्रत वट सावित्री पूजा, जानिये क्यों होती है बरगद की पूजा

Vat Savitri Puja 2022: सुहागिन महिलाएं पति की लंबी उम्र की कामना के लिए इस दिन वट यानि बरगद के पेड़ (Hindu Festival) के नीचे पूजा करती है. महिलाएं पूजा करने के बाद, बरगद के पेड़ के चारों ओर सूत भी बांधती हैं और पेड़ की परिक्रमा करती हैं

Vat Savitri Puja 2022: हिंदू धर्म में वट सावित्री व्रत पूजा (Hindu festival) का बेहद महत्व है. वट सावित्री पूजा हिंदू कैलेंडर की ज्येष्ठ मास की अमावस्या तिथि (new moon) को की जाती है. इस साल ये व्रत 30 मई का रखा जा रहा है. सुहागिन महिलाएं पति (Hindu religion) की लंबी उम्र की कामना के लिए इस दिन वट यानि बरगद के पेड़ के नीचे पूजा करती है. महिलाएं पूजा करने के बाद, बरगद के पेड़ के चारों ओर सूत भी बांधती हैं और पेड़ की परिक्रमा करती हैं.

ये भी देखें: Chaitra Navratri 2022: कन्या पूजन पर सूजी के हलवे की जगह खिलाएं सिघाड़े का हलवा

वट सावित्री पूजा की मान्यता

मान्यता है कि ज्येष्ठ मास की अमावस्या तिथि के दिन माता सावित्री ने अपने दृढ़ संकल्प और श्रद्धा से यमराज द्वारा अपने मृत पति सत्यवान के प्राण वापस पाए थे और वट वृक्ष की छांव में देवी सावित्री ने अपने पति को पुन: जीवित किया था

वट सावित्री व्रत की पूजा विधि

वट सावित्री व्रत वाले दिन वट वृक्ष यानी बरगद के पेड़ की पूजा सामग्री लेकर जाएं
फिर वट वृक्ष को जल अर्पित करें
उसके बाद सावित्री, सत्यवान और वट वृक्ष की पूजा करें
बारी-बारी से पूजन सामग्री अर्पित करें
अब, वट वृक्ष की सात बार परिक्रमा करते हुए कच्चा सूत लपेट लें.
परिक्रमा पूरी होने के बाद वट सावित्री व्रत कथा का पाठ करें या सुनें.
उसके बाद आरती करें और पति की लंबी उम्र और सुखी वैवाहिक जीवन की कामना करें

वट सावित्री व्रत 2022 की तिथि

अमावस्या तिथि से प्रारंभ: 29 मई, 2022 दोपहर 02:54 बजे से
अमावस्या तिथि की समाप्ति: 30 मई, 2022 को शाम 04:59 बजे तक

अप नेक्स्ट

Vat Savitri Puja 2022: 30 मई को है सुहागिनों का व्रत वट सावित्री पूजा, जानिये क्यों होती है बरगद की पूजा

Vat Savitri Puja 2022: 30 मई को है सुहागिनों का व्रत वट सावित्री पूजा, जानिये क्यों होती है बरगद की पूजा

Monsoon prediction: मानसून की सटीक भविष्यवाणी करता है मंदिर, साइंस भी नतमस्तक है इसके आगे

Monsoon prediction: मानसून की सटीक भविष्यवाणी करता है मंदिर, साइंस भी नतमस्तक है इसके आगे

Gupt Navratri 2022: दुर्गा मां के भक्त गुप्त नवरात्रि की कर लें तैयारी, शुभ मुहूर्त में करें कलश स्थापना

Gupt Navratri 2022: दुर्गा मां के भक्त गुप्त नवरात्रि की कर लें तैयारी, शुभ मुहूर्त में करें कलश स्थापना

Amarnath Yatra 2022: 3 साल के बाद अमरनाथ यात्रा शुरू, घाटी में गूंज रहे भोलेनाथ के जयकारे

Amarnath Yatra 2022: 3 साल के बाद अमरनाथ यात्रा शुरू, घाटी में गूंज रहे भोलेनाथ के जयकारे

Ganga Dussehra 2022: हरिद्वार से लेकर प्रयागराज तक, गंगा दशहरा पर आस्था की डुबकी के लिए उमड़े श्रद्धालु

Ganga Dussehra 2022: हरिद्वार से लेकर प्रयागराज तक, गंगा दशहरा पर आस्था की डुबकी के लिए उमड़े श्रद्धालु

Akshaya Tritiya 2022: कब है अक्षय तृतीया? जानिये इस दिन सोना खरीदने का क्या है महत्व

Akshaya Tritiya 2022: कब है अक्षय तृतीया? जानिये इस दिन सोना खरीदने का क्या है महत्व

और वीडियो

Guru Teg Bahadur Prakash Parv: क्या होता है प्रकाश पर्व? जानें सिखों के 9वें गुरू तेग बहादुर को

Guru Teg Bahadur Prakash Parv: क्या होता है प्रकाश पर्व? जानें सिखों के 9वें गुरू तेग बहादुर को

Vaishakh 2022: महाकालेश्वर शिवलिंग पर बांधे गए 11 कलश, क्या है धार्मिक मान्यता

Vaishakh 2022: महाकालेश्वर शिवलिंग पर बांधे गए 11 कलश, क्या है धार्मिक मान्यता

Hanuman Jayanti 2022: उत्तर भारत के ये पांच हनुमान मंदिरों से जुड़ी है लोगों की आस्था

Hanuman Jayanti 2022: उत्तर भारत के ये पांच हनुमान मंदिरों से जुड़ी है लोगों की आस्था

Hanuman Jayanti 2022: इस बार की हनुमान जयंती पर है ये शुभ संयोग, विधिवत पूजा करने से मिलेगी सफलता

Hanuman Jayanti 2022: इस बार की हनुमान जयंती पर है ये शुभ संयोग, विधिवत पूजा करने से मिलेगी सफलता

Chaitra Navratri 2022: मां सिद्धिदात्री की उपासना से होती है सिद्धियों की प्राप्ति

Chaitra Navratri 2022: मां सिद्धिदात्री की उपासना से होती है सिद्धियों की प्राप्ति

Chaitra Navratri 2022: मां दुर्गा का मोहक रूप हैं महागौरी, महाअष्टमी पर ऐसे करें मां गौरी की पूजा अर्चना

Chaitra Navratri 2022: मां दुर्गा का मोहक रूप हैं महागौरी, महाअष्टमी पर ऐसे करें मां गौरी की पूजा अर्चना

Ramnavmi 2022: कब है रामनवमी, जानें तिथि और पूजा का शुभ मुहूर्त

Ramnavmi 2022: कब है रामनवमी, जानें तिथि और पूजा का शुभ मुहूर्त

Chaitra Navratri 2022: नवरात्रि का सातवां दिन कालरात्रि की अराधना का दिन, उपासना से होंगे भयमुक्त

Chaitra Navratri 2022: नवरात्रि का सातवां दिन कालरात्रि की अराधना का दिन, उपासना से होंगे भयमुक्त

Chaitra Navratri 2022: कन्या पूजन पर सूजी के हलवे की जगह खिलाएं सिघाड़े का हलवा

Chaitra Navratri 2022: कन्या पूजन पर सूजी के हलवे की जगह खिलाएं सिघाड़े का हलवा

Chaitra Navratri 2022: नवरात्रि के छठे दिन होती है मां कात्यायनी की पूजा, इन मंत्रों से करें अराधना

Chaitra Navratri 2022: नवरात्रि के छठे दिन होती है मां कात्यायनी की पूजा, इन मंत्रों से करें अराधना

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.