हाइलाइट्स

  • गंगा दशहरा के दिन धरती पर अवतरित हुईं थी मां गंगा
  • दान पुण्य का है इस दिन विशेष महत्व
  • हरिद्वार के हरि की पौड़ी घाट पर पहुंचे बड़ी संख्या में श्रद्धालु

लेटेस्ट खबर

Kaali Poster पर बढ़ा विवाद, निर्मात Leena Manimekalai के खिलाफ यूपी और दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR

Kaali Poster पर बढ़ा विवाद, निर्मात Leena Manimekalai के खिलाफ यूपी और दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR

RAJASTHAN: अजमेर दरगाह के खादिम ने दी नूपुर शर्मा के सिर कलम करने की धमकी, वीडियो वायरल

RAJASTHAN: अजमेर दरगाह के खादिम ने दी नूपुर शर्मा के सिर कलम करने की धमकी, वीडियो वायरल

Uttar Pradesh:मैनपुरी में पुलिस स्टेशन में हुई पुलिस वाले की पिटाई, वीडियो वायरल

Uttar Pradesh:मैनपुरी में पुलिस स्टेशन में हुई पुलिस वाले की पिटाई, वीडियो वायरल

Spicejet: दिल्ली से दुबई जानेवाली फ्लाइट की पाकिस्तान में इमरजेंसी लैंडिग, सभी यात्री सेफ

Spicejet: दिल्ली से दुबई जानेवाली फ्लाइट की पाकिस्तान में इमरजेंसी लैंडिग, सभी यात्री सेफ

ED Raid: Vivo और अन्य कंपनियों के खिलाफ ED की छापेमारी, 44 ठिकानों पर नजर

ED Raid: Vivo और अन्य कंपनियों के खिलाफ ED की छापेमारी, 44 ठिकानों पर नजर

Ganga Dussehra 2022: हरिद्वार से लेकर प्रयागराज तक, गंगा दशहरा पर आस्था की डुबकी के लिए उमड़े श्रद्धालु

Ganga Dussehra: गंगा दशहरा के मौके पर हजारों श्रद्धालुओं ने गंगा में आस्था की डुबकी लगाई और मां गंगा से प्रार्थना की. हिंदू कैलेंडर के मुताबिक, गंगा दशहरा का त्योहार ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है

Ganga Dussehra 2022: देशभर में 9 जून यानि गुरुवार को गंगा दशहरा का त्योहार मनाया जा रहा है. गंगा दशहरा (Ganga Dussehra) के मौके पर सुबह से ही गंगा घाटों (Holy dip) पर श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा. हरिद्वार (Haridwar), प्रयागराज (Prayagraj), वाराणसी (Varanasi)और कानपुर (Kanpur) समेत कई जगहों पर हज़ारों श्रद्धालुओं ने गंगा में आस्था की डुबकी लगाई और मंगल कामना की प्रार्थना की. गंगा स्नान कर लोगों ने पूजा-पाठ और हवन भी किया.

यह भी देखें: World Ocean Day 2022: सैंड आर्ट से समंदर बचाने की अपील, आर्टिस्ट ने बनाई सुंदर रेत कला

भक्ति और उल्लास का ये नज़ारा हरिद्वार के हरि की पौड़ी का है जहां बड़ी संख्या में श्रद्धालु जुटे और गंगा में डुबकी लगाई. कोरोना काल के बाद ये पहला मौका है जब स्नान को लेकर कोई पाबंदी नहीं है. ऐसे में दूर-दूर से लाखों श्रद्धालु गंगा घाटों पर स्नान करने पहुंच रहे है. हालांकि, स्नान को लेकर प्रशासन ने भी एहतियात बरतने के लिए ज़रूरी इंतज़ाम किये हैं

मां गंगा हुईं थी धरती पर अवतरित

हिंदू कैलेंडर के मुताबिक, गंगा दशहरा का त्योहार ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है. इस दिन का नाम गंगा दशहरा इसलिए पड़ा क्योंकि इसी दिन मां गंगा धरती पर अवतरित हुईं थी. इस दिन सुबह सूर्योदय से पहले गंगा में स्नान करना शुभ माना जाता है. मान्यता है कि गंगा दशहरा में जो भी गंगा में पवित्र डुबकी लगाता है, उसके सभी पाप नष्ट हो जाते हैं. साथ ही गंगा दशहरा के दिन दान-पुण्य का भी खास महत्व है. आस्था के इस पर्व पर गंगा घाटों का नजारा बेहद खूबसूरत होता है.

गंगा दशहरा का शुभ मुहूर्त (Ganga Dussehra Puja Muhurt)

हिंदू पंचाग के मुताबिक, गंगा दशहरा पर शुभ चौघड़िया मुहूर्त सूर्योदय से लेकर सुबह 07 बजकर 07 मिनट तक रहेगा. साथ ही शुभ योग सुबह 08 बजकर 23 मिनट से दोपहर 2 बजकर 5 मिनट तक है. इसके अलावा सफलता योग सुबह 11 बजकर 51 मिनट से दोपहर 12 बजकर 45 मिनट तक रहेगा. इन शुभ योग में दान-पुण्य का विशेष महत्व माना जा रहा है.

यह भी देखें: Vat Savitri Puja 2022: 30 मई को है सुहागिनों का व्रत वट सावित्री पूजा, जानिये क्यों होती है बरगद की पूजा

अप नेक्स्ट

Ganga Dussehra 2022: हरिद्वार से लेकर प्रयागराज तक, गंगा दशहरा पर आस्था की डुबकी के लिए उमड़े श्रद्धालु

Ganga Dussehra 2022: हरिद्वार से लेकर प्रयागराज तक, गंगा दशहरा पर आस्था की डुबकी के लिए उमड़े श्रद्धालु

Jagannath Rath Yatra 2022: दुनियाभर में मशहूर है पुरी की जगन्नाथ रथयात्रा, जानिये इससे जुड़े रोचक तथ्य

Jagannath Rath Yatra 2022: दुनियाभर में मशहूर है पुरी की जगन्नाथ रथयात्रा, जानिये इससे जुड़े रोचक तथ्य

Monsoon prediction: मानसून की सटीक भविष्यवाणी करता है मंदिर, साइंस भी नतमस्तक है इसके आगे

Monsoon prediction: मानसून की सटीक भविष्यवाणी करता है मंदिर, साइंस भी नतमस्तक है इसके आगे

Gupt Navratri 2022: दुर्गा मां के भक्त गुप्त नवरात्रि की कर लें तैयारी, शुभ मुहूर्त में करें कलश स्थापना

Gupt Navratri 2022: दुर्गा मां के भक्त गुप्त नवरात्रि की कर लें तैयारी, शुभ मुहूर्त में करें कलश स्थापना

Amarnath Yatra 2022: 3 साल के बाद अमरनाथ यात्रा शुरू, घाटी में गूंज रहे भोलेनाथ के जयकारे

Amarnath Yatra 2022: 3 साल के बाद अमरनाथ यात्रा शुरू, घाटी में गूंज रहे भोलेनाथ के जयकारे

Vat Savitri Puja 2022: 30 मई को है सुहागिनों का व्रत वट सावित्री पूजा, जानिये क्यों होती है बरगद की पूजा

Vat Savitri Puja 2022: 30 मई को है सुहागिनों का व्रत वट सावित्री पूजा, जानिये क्यों होती है बरगद की पूजा

और वीडियो

Akshaya Tritiya 2022: कब है अक्षय तृतीया? जानिये इस दिन सोना खरीदने का क्या है महत्व

Akshaya Tritiya 2022: कब है अक्षय तृतीया? जानिये इस दिन सोना खरीदने का क्या है महत्व

Guru Teg Bahadur Prakash Parv: क्या होता है प्रकाश पर्व? जानें सिखों के 9वें गुरू तेग बहादुर को

Guru Teg Bahadur Prakash Parv: क्या होता है प्रकाश पर्व? जानें सिखों के 9वें गुरू तेग बहादुर को

Vaishakh 2022: महाकालेश्वर शिवलिंग पर बांधे गए 11 कलश, क्या है धार्मिक मान्यता

Vaishakh 2022: महाकालेश्वर शिवलिंग पर बांधे गए 11 कलश, क्या है धार्मिक मान्यता

Hanuman Jayanti 2022: उत्तर भारत के ये पांच हनुमान मंदिरों से जुड़ी है लोगों की आस्था

Hanuman Jayanti 2022: उत्तर भारत के ये पांच हनुमान मंदिरों से जुड़ी है लोगों की आस्था

Hanuman Jayanti 2022: इस बार की हनुमान जयंती पर है ये शुभ संयोग, विधिवत पूजा करने से मिलेगी सफलता

Hanuman Jayanti 2022: इस बार की हनुमान जयंती पर है ये शुभ संयोग, विधिवत पूजा करने से मिलेगी सफलता

Chaitra Navratri 2022: मां सिद्धिदात्री की उपासना से होती है सिद्धियों की प्राप्ति

Chaitra Navratri 2022: मां सिद्धिदात्री की उपासना से होती है सिद्धियों की प्राप्ति

Chaitra Navratri 2022: मां दुर्गा का मोहक रूप हैं महागौरी, महाअष्टमी पर ऐसे करें मां गौरी की पूजा अर्चना

Chaitra Navratri 2022: मां दुर्गा का मोहक रूप हैं महागौरी, महाअष्टमी पर ऐसे करें मां गौरी की पूजा अर्चना

Ramnavmi 2022: कब है रामनवमी, जानें तिथि और पूजा का शुभ मुहूर्त

Ramnavmi 2022: कब है रामनवमी, जानें तिथि और पूजा का शुभ मुहूर्त

Chaitra Navratri 2022: नवरात्रि का सातवां दिन कालरात्रि की अराधना का दिन, उपासना से होंगे भयमुक्त

Chaitra Navratri 2022: नवरात्रि का सातवां दिन कालरात्रि की अराधना का दिन, उपासना से होंगे भयमुक्त

Chaitra Navratri 2022: कन्या पूजन पर सूजी के हलवे की जगह खिलाएं सिघाड़े का हलवा

Chaitra Navratri 2022: कन्या पूजन पर सूजी के हलवे की जगह खिलाएं सिघाड़े का हलवा

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.