हाइलाइट्स

  • दुनिया भर में लगभग 50 मिलियन लोग मिर्गी के शिकार: WHO
  • एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर है मिर्गी या एपिलेप्सी, पड़ते हैं बार-बार दौरे
  • हाइपरटेंशन कर सकता है मिर्गी के दौरे को ट्रिगर

लेटेस्ट खबर

BIHAR: मंत्री के बेटे की दबंगई, खेत में बच्चों को खेलता देखा तो चला दी गोली, Video

BIHAR: मंत्री के बेटे की दबंगई, खेत में बच्चों को खेलता देखा तो चला दी गोली, Video

मौत के मुंह से हिरन को खींच लाया डॉगी, देखें बहादुरी से भरा Video

मौत के मुंह से हिरन को खींच लाया डॉगी, देखें बहादुरी से भरा Video

हैरतंगेज! एक मिनट में 109 पुश-अप्स कर मणिपुरी युवक ने बनाया गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड

हैरतंगेज! एक मिनट में 109 पुश-अप्स कर मणिपुरी युवक ने बनाया गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड

UP Elections 2022: अपर्णा ने बताया- BJP जॉइन करने के बाद उनसे क्या बोले मुलायम

UP Elections 2022: अपर्णा ने बताया- BJP जॉइन करने के बाद उनसे क्या बोले मुलायम

इस Share ने 8 महीने में दिया 500% का मुनाफा, मालामाल हो गए Investors

इस Share ने 8 महीने में दिया 500% का मुनाफा, मालामाल हो गए Investors

Hypertension: हाई ब्लडप्रेशर के मरीज़ों में दोगुना बढ़ सकता है मिर्गी का खतरा - स्टडी

हाई ब्लड प्रेशर ना सिर्फ दिल की बीमारियों का कारण बन सकता है बल्कि कई और गंभीर बीमारियों के लिए भी ज़िम्मेदार हो सकता है.

एक स्टडी के मुताबिक, जिन लोगों में हाई ब्लड प्रेशर यानि हाइपरटेंशन (Hypertension) की समस्या अधिक होती है उनमें दिल की बीमारी के साथ साथ मिर्गी (Epilepsy) के दौरे पड़ने का खतरा बढ़ जाता है. जर्नल एपिलेप्सिया में छपी स्टडी के मुताबिक, हाई ब्लड प्रेशर (High Blood pressure) की समस्या वयस्कों में मिर्गी के दौरे के खतरे को दोगुना तक बढ़ा सकती है.

यह भी देखें: आपकी ब्रेन हेल्थ का ध्यान रखेगी MIND डाइट!

अमेरिका की बोस्टन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन की अगुवाई में रिसर्चर्स ने 2,986 अमेरिकी व्यस्कों पर स्टडी की जिनकी उम्र कम से कम 58 साल थी. रिसर्चर्स ने हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज़, कोलेस्ट्रॉल, स्मोकिंग हैबिट्स, BMI और स्ट्रोक की हिस्ट्री को मॉनिटर किया.

रिसर्चर्स ने पाया कि हाइपरटेंशन से जूझ रहे लोगों में मिर्गी के दौरे का खतरा दोगुना हो सकता है. हालांकि, स्टडी में दूसरे रिस्क फैक्टर्स का मिर्गी से कोई संबंध नहीं पाया गया.

यह भी देखें: क्या आप जानते हैं नमक का ज़्यादा सेवन आपकी ब्रेन हेल्थ को पहुंचा सकता है नुकसान?

बता दें कि, मिर्गी या एपिलेप्सी (Epilepsy) एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर (neurological disorder) है जिसमें व्यक्ति को बार-बार दौरे (Fits) पड़ते हैं. दौरा पड़ने पर दिमागी संतुलन बिगड़ जाता है और शरीर लड़खड़ाने लगता है. दरअसल, ऐसा ब्रेन की इलेक्ट्रिकल गतिविधि (abnormal electrical activity) के अचानक बढ़ने या दबाव पड़ने की वजह से होता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, दुनिया भर में लगभग 50 मिलियन लोगों को मिर्गी है, जो इसे विश्व स्तर पर सबसे आम न्यूरोलॉजिकल बीमारियों में से एक बनाता है.

और भी देखें: सिर झटककर कान से ना निकालें पानी, ब्रेन डैमेज का खतरा

अप नेक्स्ट

Hypertension: हाई ब्लडप्रेशर के मरीज़ों में दोगुना बढ़ सकता है मिर्गी का खतरा - स्टडी

Hypertension: हाई ब्लडप्रेशर के मरीज़ों में दोगुना बढ़ सकता है मिर्गी का खतरा - स्टडी

Covid-19: कोरोना संक्रमण से दूर रहने के लिए आयुष मंत्रालय ने सुझाए घरेलू उपाय, जानिये यहां

Covid-19: कोरोना संक्रमण से दूर रहने के लिए आयुष मंत्रालय ने सुझाए घरेलू उपाय, जानिये यहां

Viral Food Recipe: वेंडर ने बनाया मसाला डोसा आइसक्रीम रोल, रेसिपी देख भड़के सोशल मीडिया यूज़र्स

Viral Food Recipe: वेंडर ने बनाया मसाला डोसा आइसक्रीम रोल, रेसिपी देख भड़के सोशल मीडिया यूज़र्स

Metaverse पर तमिलनाडु का जोड़ा दे रहा है शादी की दावत, भारत में ऐसा पहली बार

Metaverse पर तमिलनाडु का जोड़ा दे रहा है शादी की दावत, भारत में ऐसा पहली बार

Dark Chocolate: स्वाद में है कड़वा लेकिन सेहत को कई लाजवाब फायदे देता है डार्क चॉकलेट

Dark Chocolate: स्वाद में है कड़वा लेकिन सेहत को कई लाजवाब फायदे देता है डार्क चॉकलेट

Vitamin D toxicity: ज़रूरत से ज़्यादा विटामिन D लेने से शरीर को हो सकते हैं ये नुकसान, जानिये यहां

Vitamin D toxicity: ज़रूरत से ज़्यादा विटामिन D लेने से शरीर को हो सकते हैं ये नुकसान, जानिये यहां

और वीडियो

Dementia: साल 2050 तक तीन गुना तक भारत में बढ़ सकते हैं डिमेंशिया के मामले: लैंसेट

Dementia: साल 2050 तक तीन गुना तक भारत में बढ़ सकते हैं डिमेंशिया के मामले: लैंसेट

इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम (IBS) के लिए क्या वाकई है ग्लूटेन ज़िम्मेदार, जानिये क्या कहती है रिसर्च

इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम (IBS) के लिए क्या वाकई है ग्लूटेन ज़िम्मेदार, जानिये क्या कहती है रिसर्च

SAD: मौसम बदलने पर क्या आपका भी मन होता है उदास, जानिये क्या है वजह और इससे कैसे निपटे

SAD: मौसम बदलने पर क्या आपका भी मन होता है उदास, जानिये क्या है वजह और इससे कैसे निपटे

Pregnancy: प्रेगनेंसी में अधिक कोलीन के सेवन से बढ़ती है बच्चे की दिमागी क्षमता

Pregnancy: प्रेगनेंसी में अधिक कोलीन के सेवन से बढ़ती है बच्चे की दिमागी क्षमता

Anxiety: रेग्युलर एक्सरसाइज़ से कम किया जा सकता है एंग्ज़ायटी के लक्षण: स्टडी

Anxiety: रेग्युलर एक्सरसाइज़ से कम किया जा सकता है एंग्ज़ायटी के लक्षण: स्टडी

क्या बीमार मसूड़े बन सकते हैं खराब मेंटल हेल्थ का कारण? जानिये क्या कहती है रिसर्च

क्या बीमार मसूड़े बन सकते हैं खराब मेंटल हेल्थ का कारण? जानिये क्या कहती है रिसर्च

रेड मीट के हैं शौकीन तो सावधान हो जाइए, हो सकते हैं फैटी लीवर के शिकार

रेड मीट के हैं शौकीन तो सावधान हो जाइए, हो सकते हैं फैटी लीवर के शिकार

गिरते बालों से हैं परेशान, ट्राई कीजिए लाल प्याज़ का रस और भृंगराज, किसी वरदान से कम नहीं ये नुस्खा

गिरते बालों से हैं परेशान, ट्राई कीजिए लाल प्याज़ का रस और भृंगराज, किसी वरदान से कम नहीं ये नुस्खा

Childhood Obesity: प्रेग्नेंसी से पहले ली गई ख़राब डायट, बच्चों में बढ़ा सकती है मोटापे का खतरा

Childhood Obesity: प्रेग्नेंसी से पहले ली गई ख़राब डायट, बच्चों में बढ़ा सकती है मोटापे का खतरा

Benefits of Peanuts: मूंगफली के छोटे-छोटे दानों में छुपा है सेहत का खज़ाना, जानिये इसके फायदे

Benefits of Peanuts: मूंगफली के छोटे-छोटे दानों में छुपा है सेहत का खज़ाना, जानिये इसके फायदे

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2019 All Rights Reserved.