हाइलाइट्स

  • अल्लूरी सीताराम राजू का जन्म 4 जुलाई को हुआ
  • अल्लूरी ने अंग्रेजों से लोहा लिया
  • बिरसा मुंडा की तरह लड़े थे अल्लूरी

लेटेस्ट खबर

Viral Video: यूपी के पीलीभीत कोतवाली थाने में झंडारोहण के बाद नागिन डांस

Viral Video: यूपी के पीलीभीत कोतवाली थाने में झंडारोहण के बाद नागिन डांस

gujarat riots 2002: बिलकिस बानो गैंगरेप केस के सभी दोषी रिहा, गुजरात सरकार की माफी नीति के तहत आए बाहर

gujarat riots 2002: बिलकिस बानो गैंगरेप केस के सभी दोषी रिहा, गुजरात सरकार की माफी नीति के तहत आए बाहर

MP Rain: मध्य प्रदेश में भारी बारिश से हाल बेहाल, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

MP Rain: मध्य प्रदेश में भारी बारिश से हाल बेहाल, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

Tiger-Shraddha एक बार फिर करेंगे स्क्रीन शेयर!, फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' के रीमेक में आ सकते है नजर

Tiger-Shraddha एक बार फिर करेंगे स्क्रीन शेयर!, फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' के रीमेक में आ सकते है नजर

Atal Bihari Vajpayee : पूर्व पीएम वाजपेयी की चौथी पुण्यतिथि, राष्ट्रपति, पीएम ने दी श्रद्धांजलि

Atal Bihari Vajpayee : पूर्व पीएम वाजपेयी की चौथी पुण्यतिथि, राष्ट्रपति, पीएम ने दी श्रद्धांजलि

Alluri Sitarama Raju: अंग्रेजों की बंदूकों पर भारी थे अल्लूरी सीताराम राजू के तीर, बजा दी थी ईंट से ईंट

अल्लूरी सीताराम राजू, एक ऐसे क्रांतिकारी रहे जिन्होंने गरीबी में रहकर न सिर्फ बचपन गुजारा बल्कि देश की पराधीनता देखकर अंग्रेजी हुकूमत को जड़ से उखाड़ने का संकल्प ले लिया था.. 

झरोखा के 9 जून के अंक में हमने आपको महान स्वतंत्रता सेनानी बिरसा मुंडा (Birsa Munda) के बारे में बताया था... आज हम आपको दक्षिण भारत के एक ऐसे क्रांतिकारी के बारे में बताएंगे जिन्होंने बिरसा की तरह ही जंगलों में रहकर अंग्रेजों से लोहा लिया... ये क्रांतिकारी थे अल्लूरी सीताराम राजू (Alluri Sitarama Raju).

अल्लूरी सीताराम राजू का जन्म विशाखापट्टनम जिले के पंडरंगी गांव में 4 जुलाई 1897 को हुआ था... बचपन में पिता गुजर गए... जंगल से कभी लकड़ियां तोड़ते तो कभी काश्तकारी करते राजू गुजरत बसर करते थे... राजू का वेश किसी महात्मा जैसा था. गोदावरी के जंगलों में रहने वाले उन्हें पवित्र साधु कहते थे.

ये भी देखें- Field Marshal General Sam Manekshaw: 9 गोलियां खाकर सर्जन से कहा- गधे ने दुलत्ती मार दी, ऐसे थे मानेकशॉ

तीर्थयात्रा के नाम पर वे मुंबई, वडोदरा, बनारस, ऋषिकेश, बद्रीनाथ, असम, बंगाल, नेपाल घूमे... तीर्थयात्रा के दौरान उन्होंने घुड़सवारी, निशानेबाजी और तीरंदाजी सीखी थी... वापस कृष्णदेवी पेटा आए, तो श्रीराम ने संन्यस्त जीवन बिताने का निश्चय लिया...

रेम्पा विद्रोह का राजू ने नेतृत्व किया था... चित्तपल्ली पुलिस स्टेशन पर हुए हमले का उसने नेतृत्व किया था... राजू का बंदूकों की जरूरत थी... उन्होंने थानेदार की पीठ पर बंदूक लगाकर कहा कि बंदूकें निकालो, मैं सिर्फ बंदूके लेने आया हूं... थानेदार ने सब बंदूके दे दीं... उन्होंने यहां के सारे कागजात जला डाले...

राजू और उनके सैनिक दिन में किसानों के वेष में रहते थे और देहात में मजदूरी करते थे... गुप्त रूप से बैठके करते थें और रात में पुलिस चौकी पर हमले करते थे.

ये भी देखें- Treaty of Versailles: आज ही हुई थी इतिहास की सबसे बदनाम 'वर्साय की संधि', जर्मनी हो गया था बर्बाद!

पुलिसवाले राजू की तलाश में जुट गए... अक्सर ही जब वे तलाश में निकलते उनके पैरों के पास एख तीर गिरता जिसपर चिट्ठी लगी रहती थी... इसपर लिखा रहता था, हमने अंग्रेजी राज को मिटाने की प्रतिज्ञा की है. राजू न कभी प्राणहानि करते और न ही करने देते... हथियार ही छीनते थे... एकबार गंटम और मल्लू के हाथों हंटर और कॉन्ट नाम के दो अफसर मार दिए गए... राजू को यह पसंद नहीं आया... उन्होंने दोनों को बहुत डांटा...

इन दो अंग्रेज अधिकारियों की हत्या अंग्रेज सरकार के लिए चुनौती जैसी थी... राजू को पकड़ने के लिए दुर्गम इलाकों में टेलीग्राफ के तार डाले गए... रास्ते बनाने की कोशिश की गई पर लोग रात को इसे उखाड़कर फेंक देते... आदिवासी भी इसमें खूब मदद करते थे...

15 अक्टूबर 1922 अड्डगीतला तहसील के तहसीलदार को राजू ने संदेश भेजा था... और इसमें लिखा, हम आज रात हमला करेंगे... तहसीलदार डर गया... उसने सेना बुला ली. राजू ने बाण से सैनिकों को जख्मी करके लड़ाई जीत ली.

ये भी देखें- Apple iPhone 1: आज ही बाजार में आया था पहला आईफोन, मच गया था तहलका!

अड्डगीतला से लौटते वक्त अंग्रेजों का गुप्तचर रुदय्या, राजू के हाथ लगा लेकिन राजू ने उसे छोड़ दिया और कहा कि दोबारा इधर मत आना.... राजू ने कलेक्टर को संदेश भिजवाया कि लड़ाई की ज्यादा गर्मी हो तो मुझसे आकर मिल लें...

29 अक्टूबर को रेपचोडवरम पर हमला किया और विजय हासिल की... 6 दिसंबर को हजारों की सेना राजू को पकड़ने आई. पर राजू की सेना पहाड़ों और जंगलों में छिप गई... गोरे सैनिकों और क्रांतिकारियों के बीच आमने सामने की लड़ाई हुई... कई क्रांतिकारी मारे गए... नदी नाले इनके खून से लाल हो गए...

अंग्रेज सेनापति जॉन को विजय का नशा चढ़ गया.. उसने क्रांतिकारियों के शवों की प्रदर्शनी लगाई और कहा कि राजू की मदद करोगे तो तुम्हारा भी यही हाल होगा... राजू लेकिन कहां पीछे हटने वाले थे... राजू ने अन्नवरम् पुलिस थाने पर छापा मारा... पृथ्वीसिंह आजाद और राज महेंद्री इन मित्रों को छुड़ा लिया...

दूसरे दिन कचहरी के सामने मिरचीवालों के नाम पत्र आया, आज शाम हम सब क्रांतिकारी शेखावरम में इकट्ठा हो रहे हैं. हिम्मत हो तो आ जाओ शेखावरम में... एक दिन तो मल्लू के घर पर पुलिस ने डेरा डाल दिया था... अंग्रेज अधिकारी किरन्स के साथ लड़ते हुए मल्लू अंग्रेजों के हाथ लगा... अंग्रेजों ने उसे बहुत पीड़ा पहुंचाई लेकिन उसने मुंह नहीं खोला.

ये भी देखें- Emergency Number History: दुनिया ने आज ही देखा था पहला इमर्जेंसी नंबर-999, जानें कैसे हुई थी शुरुआत

अंग्रेजों ने गरीब आदिवासियों को मारना पीटना शुरू कर दिया... झोपड़ियां तोड़ी और घरों को ध्वस्त किया... सामुदायिक दंड दिया पर लोग झुके नहीं... लेकिन 6 मई को निर्णायक युद्ध हुआ... दूसरे दिन 7 मई को राजू को पकड़ा गया.

मोती नाम के अधिकारी को पैसे का लालच हुआ... उसने राजू को मारने वाले को 10 हजार का इनाम देने का ऐलान किया... राजू को पकड़कर एक पेड़ से बांधा गया और निर्दयता से गोलियां चला दी गईं...

शूरवीर राजू को निशस्त्र मारा गया... 2 3 दिन तक राजू का शव पेड़ से बंधा रहा... ये बातें अल्लूरी सीताराम राजू की मां सूर्यनारायणअम्मा के संस्मरणों से ली गई हैं...

हाल ही में दक्षिण भारत में आई फिल्म RRR में राम चरण ने जिस सीताराम राजू का किरदार निभाया, वो दरअसल अल्लूरी सीताराम राजू का ही किरदार था... यहां हम एक बात और बता दें कि फिल्म में आलिया भट्ट ने सीता का किरदार निभाया... असल जिंदगी में भी सीताराम राजू जिसे प्यार करते थे, उन महिला का नाम भी सीता था...

ये भी देखें- Today's History: जिन अमेरिकी पैंटन टैंक पर इतरा रहा था पाक, Abdul Hamid ने उन्हें मिट्टी में मिला दिया था

चलते चलते आज की दूसरी घटनाओं पर नजर डाल लेते हैं

1776 अमेरिकी स्वतन्त्रता की घोषणा हुई

2005 आस्ट्रेलिया में डाल्फ़िन की एक नई प्रजाति स्नबफ़िन खोजी गई

1898 देश के पूर्व प्रधानमंत्री गुलजारीलाल नंदा का जन्म

(इस आर्टिकल के लिए रिसर्च मुकेश तिवारी @MukeshReads ने किया है)

अप नेक्स्ट

Alluri Sitarama Raju: अंग्रेजों की बंदूकों पर भारी थे अल्लूरी सीताराम राजू के तीर, बजा दी थी ईंट से ईंट

Alluri Sitarama Raju: अंग्रेजों की बंदूकों पर भारी थे अल्लूरी सीताराम राजू के तीर, बजा दी थी ईंट से ईंट

बिहार में सरकार गठन के बाद नीतीश सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार

बिहार में सरकार गठन के बाद नीतीश सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार

gujarat riots 2002: बिलकिस बानो गैंगरेप केस के सभी दोषी रिहा, गुजरात सरकार की माफी नीति के तहत आए बाहर

gujarat riots 2002: बिलकिस बानो गैंगरेप केस के सभी दोषी रिहा, गुजरात सरकार की माफी नीति के तहत आए बाहर

MP Rain: मध्य प्रदेश में भारी बारिश से हाल बेहाल, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

MP Rain: मध्य प्रदेश में भारी बारिश से हाल बेहाल, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

Atal Bihari Vajpayee : पूर्व पीएम वाजपेयी की चौथी पुण्यतिथि, राष्ट्रपति, पीएम ने दी श्रद्धांजलि

Atal Bihari Vajpayee : पूर्व पीएम वाजपेयी की चौथी पुण्यतिथि, राष्ट्रपति, पीएम ने दी श्रद्धांजलि

Morning News Brief: UP के मैनपुरी में हुए सड़क हादसे में 4 की मौत,  नीतीश कैबिनेट का विस्तार आज...TOP 10

Morning News Brief: UP के मैनपुरी में हुए सड़क हादसे में 4 की मौत, नीतीश कैबिनेट का विस्तार आज...TOP 10

और वीडियो

Lumpy Skin Disease: राजस्थान में लम्पी की चपेट में आए 4 लाख से ज्यादा पशु, एक्शन में सरकार

Lumpy Skin Disease: राजस्थान में लम्पी की चपेट में आए 4 लाख से ज्यादा पशु, एक्शन में सरकार

Tiranga Yatra: लखनऊ में तिरंगा यात्रा के दौरान बवाल और तेलंगाना में खूनी खेल...देखें Video

Tiranga Yatra: लखनऊ में तिरंगा यात्रा के दौरान बवाल और तेलंगाना में खूनी खेल...देखें Video

Rajasthan Politics: दलितों पर बढ़ते अत्याचार से कांग्रेस में भूचाल, MLA पानाचंद मेघवाल ने दिया इस्तीफा

Rajasthan Politics: दलितों पर बढ़ते अत्याचार से कांग्रेस में भूचाल, MLA पानाचंद मेघवाल ने दिया इस्तीफा

Viral Video: मनाली में बड़ा हादसा, पुल टूटने से सैलाब में 3 बच्चे समेत एक महिला बही

Viral Video: मनाली में बड़ा हादसा, पुल टूटने से सैलाब में 3 बच्चे समेत एक महिला बही

karnataka News:सावरकर की तस्वीर को लेकर शिमोगा में भिड़े दो पक्ष , कई हिस्सों में कर्फ्यू लागू

karnataka News:सावरकर की तस्वीर को लेकर शिमोगा में भिड़े दो पक्ष , कई हिस्सों में कर्फ्यू लागू

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Lucknow News : मीठा जहर! रक्षाबंधन की खुशियों पर रसमलाई का ग्रहण! 1 की मौत, 8 लड़ रहे जिंदगी की जंग

Lucknow News : मीठा जहर! रक्षाबंधन की खुशियों पर रसमलाई का ग्रहण! 1 की मौत, 8 लड़ रहे जिंदगी की जंग

Viral video: दिल्ली में युवक की दिनदहाड़े हत्या, CCTV में कैद हो गई वारदात

Viral video: दिल्ली में युवक की दिनदहाड़े हत्या, CCTV में कैद हो गई वारदात

Nupur Sharma की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियां सतर्क, Salman Rushdi पर हमले के बाद चिंता बढ़ी

Nupur Sharma की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियां सतर्क, Salman Rushdi पर हमले के बाद चिंता बढ़ी

Independence Day: श्रीनगर के लाल चौक पर ‘वंदे मातरम...’ नारों से गूंज उठी घाटी

Independence Day: श्रीनगर के लाल चौक पर ‘वंदे मातरम...’ नारों से गूंज उठी घाटी

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.