हाइलाइट्स

  • रविवार को नेपाल में आम चुनाव के लिए हुई वोटिंग
  • चुनाव परिणाम पर करीब से नजर रख रहा भारत
  • शेरबहादुर देउवा और केपी शर्मा ओली के बीच मुकाबला
  • केपी शर्मा ओली को माना जाता है भारत विरोधी !

लेटेस्ट खबर

Britain News: नस्लवाद से ऋषि सुनक भी अछूते नहीं, खुद किया खुलासा

Britain News: नस्लवाद से ऋषि सुनक भी अछूते नहीं, खुद किया खुलासा

Gujarat Election: जानिए कौनसी हैं दूसरे चरण की VVIP सीट, कहीं बीजेपी को बढ़त-तो कहीं कांग्रेस रही भारी ?

Gujarat Election: जानिए कौनसी हैं दूसरे चरण की VVIP सीट, कहीं बीजेपी को बढ़त-तो कहीं कांग्रेस रही भारी ?

Gujarat Election 2022: गुजरात का राजनीतिक इतिहास, जानिए बीजेपी का बेस्ट स्कोर और कांग्रेस का रिकॉर्ड

Gujarat Election 2022: गुजरात का राजनीतिक इतिहास, जानिए बीजेपी का बेस्ट स्कोर और कांग्रेस का रिकॉर्ड

Saif Ali Khan ने पत्नी Kareena Kapoor से फ्लाइट में की रिक्वेस्ट, लेकिन नहीं मानीं एक्ट्रेस!

Saif Ali Khan ने पत्नी Kareena Kapoor से फ्लाइट में की रिक्वेस्ट, लेकिन नहीं मानीं एक्ट्रेस!

MCD Election: 100 करोड़ का रहा प्रचार सामग्री का कारोबार, सदर बाजार में रही गर्माहट

MCD Election: 100 करोड़ का रहा प्रचार सामग्री का कारोबार, सदर बाजार में रही गर्माहट

Nepal Election: नेपाल में किसकी सरकार बनेगी ? यहां समझिए भारत पर नतीजों का क्या होगा असर ?

रविवार को नेपाल में आम चुनावों (Nepal Elections) के लिए मतदान हुआ और अब परिणाम (Election result) की बारी है, जिस पर भारत की करीब से नजर है. 

 

रविवार को नेपाल में आम चुनावों (Nepal Elections) के लिए मतदान हुआ. नई ससंद को चुनने के साथ ही प्रांतीय विधानसभाओं के सदस्यों को चुनने के लिए भी वोट (Vote) डाले गए. नेपाल में 22,000 से ज्यादा मतदान केंद्र पर करीब एक करोड़ 80 लाख मतदाताओं (Voters) ने अपने मत का प्रयोग किया, जिसका परिणाम (Election result) एक सप्ताह के अंदर आ सकता है. लेकिन इस चुनाव पर भारत और चीन दोनों की करीब से नज़र रख रहे हैं. चलिए यहां समझते हैं कि आखिर क्यों नेपाल के ये चुनाव भारत के लिए अहम है.

किस-किस के बीच मुख्य मुकाबला ?

नेपाल में मुख्य मुकाबला प्रधानमंत्री शेरबहादुर देउवा (Sher Bahadur Deuva) और नेता प्रतिपक्ष केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) के बीच है. शेरबहादुर देउवा की पार्टी नेपाली कांग्रेस (Nepali congress) के साथ जहां प्रचंड की माओवादी केंद्र पार्टी, माधव नेपाल की यूनीफाइड सोशलिस्ट और महंथ ठाकुर की लोकतांत्रिक समाजवादी पार्टी शामिल हैं, तो वहीं केपी ओली की नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (Nepal Communist Party) के साथ उपेंद्र यादव की जनता समाजवादी पार्टी है.

भारत के लिए क्यों अहम है परिणाम ?

भारत (India) शुरू से ही नेपाल (Nepal) के चुनाव पर करीब से नजर रखते आया है और चुनाव में सुरक्षा (Election security) देने के लिए नेपाल की मदद भी की है. क्योंकि भारत के लिए नेपाल में किसकी सरकार बनेगी ये बात बेहद अहम है, क्योंकि भारत विरोधी माने जाने वाले केपी शर्मा ओली लगातार भारत विरोधी बयान देते रहे हैं और उन्होंने चुनाव में भी कालापानी, लिपुलेख और लिम्पियाधुरा (Kalapani, Lipulekh and Limpiyadhura) को मुद्दा बनाया है और कहा है कि अगर उनकी सरकार बनी तो वो इन क्षेत्रों को वापस लेकर आएंगे, जिस पर भारत अपना दावा करता है.

इसे भी पढ़ें: Ukraine News: रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच यूक्रेन पहुंचे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री सुनक, बढ़ाया मदद का हाथ

क्या है भारत-नेपाल सीमा विवाद ?

भारत और नेपाल के बीच यह सीमा विवाद (India-Nepas border dispute) पुराना है, जिसकी वजह से दोनों देशों के बीच 2 दिसंबर 1815 को ईस्ट इंडिया कंपनी (East India Company) और नेपाल के बीच सुगौली संधि (Treaty of Sugauli) हुई थी, लेकिन तब भी ये सीमा विवाद नहीं सुलझ सका था. अब चुनावी मुद्दों में इस विवाद का फिर से उठना दोनों ही देशों के लिए चिंता विषय है. क्योंकि नेपाल हमेशा से आरोप लगातार रहा है कि भारत ने इन हिस्सों पर कब्जा किया है.

भारत के करीबी माने जाते हैं शेरबहादुर देउवा

हालांकि सियासी जानकार मानते हैं कि शेरबहादुर देउवा के सत्ता में रहते भारत-नेपाल के रिश्तों में फिर से नरमी आई थी, जो केपी ओली की सरकार में खटाई में थी. सियासी जानकार मान कर चलते हैं कि शेरबहादुर देउवा की सरकार में वापसी से भारत-नेपाल के रिश्ते फिर से मधुर हो सकते हैं, वहीं केपी ओली की बात करें, तो जब वो सत्ता में थे. तो चीन (China) और नेपाल तेजी से करीब आए थे, जिसका सीधा असर भारत-नेपाल संबंधों पर पड़ा था.

यहां भी क्लिक करें: Colorado Gay Club: अमेरिका के कोलोराडो गे क्लब में ताबड़तोड़ फायरिंग, कई लोग घायल

अप नेक्स्ट

Nepal Election: नेपाल में किसकी सरकार बनेगी ? यहां समझिए भारत पर नतीजों का क्या होगा असर ?

Nepal Election: नेपाल में किसकी सरकार बनेगी ? यहां समझिए भारत पर नतीजों का क्या होगा असर ?

Britain News: नस्लवाद से ऋषि सुनक भी अछूते नहीं, खुद किया खुलासा

Britain News: नस्लवाद से ऋषि सुनक भी अछूते नहीं, खुद किया खुलासा

Sex Law: इंडोनेशिया में शादी से पहले 'सेक्स' होगा बैन, पकड़े जाने पर होगी सख्त सजा

Sex Law: इंडोनेशिया में शादी से पहले 'सेक्स' होगा बैन, पकड़े जाने पर होगी सख्त सजा

Pakistan: वैश्विक मोर्चे पर पाकिस्तान की एक और बेइज्जती, भारत की तरह सस्ता तेल देने से रूस का इनकार

Pakistan: वैश्विक मोर्चे पर पाकिस्तान की एक और बेइज्जती, भारत की तरह सस्ता तेल देने से रूस का इनकार

Viral video: रूस में लड़की ने शादी से किया इनकार! घर से किडनैप कर ले गए लड़के

Viral video: रूस में लड़की ने शादी से किया इनकार! घर से किडनैप कर ले गए लड़के

China Atomic Weapons: चीन की एटमी ताकत से US परेशान, 2035 तक होगा 1500 परमाणु हथियारों का जखीरा

China Atomic Weapons: चीन की एटमी ताकत से US परेशान, 2035 तक होगा 1500 परमाणु हथियारों का जखीरा

और वीडियो

Hinduism in Thailand : थाईलैंड में कहां से पहुंचा हिंदू धर्म ? भारत से रिश्ते की सदियों पुरानी | Jharokha

Hinduism in Thailand : थाईलैंड में कहां से पहुंचा हिंदू धर्म ? भारत से रिश्ते की सदियों पुरानी | Jharokha

Twitter: ट्विटर के मालिक एलन मस्क ने तीन रंग के टिक मार्क का किया ऐलान, जानिए किसे मिलेगा, कौन-सा टिक?

Twitter: ट्विटर के मालिक एलन मस्क ने तीन रंग के टिक मार्क का किया ऐलान, जानिए किसे मिलेगा, कौन-सा टिक?

Christopher Columbus Discovery: भारत की खोज करते-करते कोलंबस ने कैसे ढूंढा अमेरिका? | Jharokha 3 August

Christopher Columbus Discovery: भारत की खोज करते-करते कोलंबस ने कैसे ढूंढा अमेरिका? | Jharokha 3 August

Imran Khan wife Bushra Biwi : इमरान को बचाने के लिए बेगम कर रही टोटके? बुशरा की रहस्यमयी दुनिया है कैसी!

Imran Khan wife Bushra Biwi : इमरान को बचाने के लिए बेगम कर रही टोटके? बुशरा की रहस्यमयी दुनिया है कैसी!

Russia-Ukraine War: ‘वैक्यूम बम’ यानी फॉदर ऑफ ऑल बम ? जानिए सबकुछ

Russia-Ukraine War: ‘वैक्यूम बम’ यानी फॉदर ऑफ ऑल बम ? जानिए सबकुछ

Second World War : जब हिटलर का अंत करने के लिए साथ आ गए थे रूस और अमेरिका!

Second World War : जब हिटलर का अंत करने के लिए साथ आ गए थे रूस और अमेरिका!

Russia Ukraine War : कहीं आंसू.... कहीं गुस्सा... यूक्रेन पर हमले के बाद दिल को छू लेने वाली ये तस्वीरें

Russia Ukraine War : कहीं आंसू.... कहीं गुस्सा... यूक्रेन पर हमले के बाद दिल को छू लेने वाली ये तस्वीरें

FIFA WC 2022: ईरान की सड़कों पर मना अपनी टीम की हार का जश्न, जानें क्या है वजह?

FIFA WC 2022: ईरान की सड़कों पर मना अपनी टीम की हार का जश्न, जानें क्या है वजह?

Blast in Afghanistan: अफगानिस्तान के एक मदरसे में जोरदार धमाका, 10 छात्र समेत 16 लोगों की मौत

Blast in Afghanistan: अफगानिस्तान के एक मदरसे में जोरदार धमाका, 10 छात्र समेत 16 लोगों की मौत

Zombie Virus: आ सकती है कोरोना से भी भयानक महामारी! मिला 48500 साल पुराना वायरस

Zombie Virus: आ सकती है कोरोना से भी भयानक महामारी! मिला 48500 साल पुराना वायरस

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.