हाइलाइट्स

  • 1984 में चुनाव हार गए थे अटल बिहारी वाजपेयी
  • राजीव गांधी ने उड़ाया था बीजेपी का मजाक
  • 1996 में बीजेपी ने जीती 161 सीटें

लेटेस्ट खबर

Indo-US Relation: सामने आया अमेरिका का पाकिस्तान प्रेम, PoK को बताया आजाद जम्मू-कश्मीर

Indo-US Relation: सामने आया अमेरिका का पाकिस्तान प्रेम, PoK को बताया आजाद जम्मू-कश्मीर

Uttarakhand News: अल्मोड़ा में नहीं हुआ रावण के पुतले का दहन, विवाद के चलते नगर भ्रमण के बाद लौटे लोग

Uttarakhand News: अल्मोड़ा में नहीं हुआ रावण के पुतले का दहन, विवाद के चलते नगर भ्रमण के बाद लौटे लोग

टी-20 वर्ल्ड कप के लिए ऑस्ट्रेलिया रवाना हुई टीम इंडिया, अभियान शुरू करने से पहले खेलेगी 4 प्रैक्टिस मैच

टी-20 वर्ल्ड कप के लिए ऑस्ट्रेलिया रवाना हुई टीम इंडिया, अभियान शुरू करने से पहले खेलेगी 4 प्रैक्टिस मैच

Ind vs SA ODI: 'सीरीज को तैयारी के तौर पर देखें स्टैंड-बाय खिलाड़ी', मैच से पहले Dhawan का बयान आया सामने

Ind vs SA ODI: 'सीरीज को तैयारी के तौर पर देखें स्टैंड-बाय खिलाड़ी', मैच से पहले Dhawan का बयान आया सामने

Bharat jodo yatra: पदयात्रा में शामिल हुईं सोनिया गांधी के जूते का फीता बांधते दिखे राहुल, Video Viral

Bharat jodo yatra: पदयात्रा में शामिल हुईं सोनिया गांधी के जूते का फीता बांधते दिखे राहुल, Video Viral

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

16 अगस्त 2018 के दिन अटल बिहारी वाजपेयी ने अंतिम सांस ली थी. अटल जी ने न सिर्फ बीजेपी की स्थापना की बल्कि अपनी हिम्मत के बूते आडवाणी के साथ मिलकर पार्टी को नंबर 1 भी बनाया. आइए जानते हैं अटल की जिंदगी के अनसुने किस्से को...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के बारे में यह बात कम ही लोग जानते हैं... 1984 में भारत की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) की हत्या कर दी गई थी.. उनके बेटे राजीव गांधी प्रधानमंत्री बने और भारत में फिर चुनाव की घड़ी आई... तब बीजेपी अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी अपने गृहनगर ग्वालियर से चुनाव लड़ रहे थे.

ये भी देखें- Independence Day 2022: जब 15 अगस्त 1947 को लगा था ' पंडित माउंटबेटन' की जय का नारा!

विजयराजे सिंधिया कर रही थीं अटल का समर्थन

ग्वालियर की पूर्व महारानी राजमाता विजयराजे सिंधिया (Rajmata Vijayaraje Scindia) वाजपेयी का समर्थन कर रही थीं. नॉमिनेशन के आखिरी दिन तक उनकी जीत लगभग तय थी. कांग्रेस ने राजमाता के बेटे माधव राव को अपना उम्मीदवार बनाया है. ऐन मौके पर वाजपेयी ने पड़ोसी सीट भिंड से नामांकन दाखिल करना चाहा लेकिन ऐसा करने में उन्हें देर हो गई. आखिरकार वाजपेयी 1.65 लाख वोटों के अंतर से ग्वालियर हार गए...

आज हम वाजपेयी की बात इसलिए कर रहे हैं क्योंकि साल 2018 में 16 अगस्त के ही दिन उनका निधन हुआ था... आज झरोखा में हम जानेंगे अटलजी के बारे में जिन्होंने न सिर्फ भारत में गैर कांग्रेसी सरकार बनाई बल्कि उन्हीं की सरकार पहली ऐसी सरकार बनी जिसने अपना कार्यकाल पूरा भी किया...

ये भी देखें- Khudiram Bose: भगत सिंह तब एक साल के थे जब फांसी के फंदे पर झूले थे खुदीराम बोस

1984 में BJP ने सिर्फ 2 ही सीटें जीतीं

1984 में भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) ने सिर्फ 2 ही सीटें जीती थीं... पार्टी ने आंध्र और गुजरात से एक एक सीटें जीती थीं. तब तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) ने बीजेपी का मजाक उड़ाते हुए कहा था- हम दो, हमारे दो...

यह तब परिवार नियोजन का बड़ा नारा था... वाजपेयी को भारी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा था... वह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे... बीजेपी की बड़ी पराजय के बाद वाजपेयी की खुद की हार उनके लिए दोहरी चोट थी. उन्होंने पार्टी अध्यक्ष का पद छोड़ने का प्रस्ताव दिया... यह वह घड़ी थी जब ऐसा लगा कि वाजपेयी की राजनीतिक पारी का यहां अंत हो रहा हो...

ये भी देखें- President VV Giri: भारत का राष्ट्रपति जो पद पर रहते सुप्रीम कोर्ट के कठघरे में पहुंचा

आज हम वाजपेयी की मनः स्थिति को इन कविताओं से समझ सकते हैं:

हार नहीं मानूंगा, रार नहीं ठानूंगा,

काल के कपाल पे लिखता मिटाता हूं

गीत नया गाता हूं

आडवाणी की रथ यात्रा ने बदल दी BJP की तकदीर

राजनीति में एक हफ्ते का वक्त भी लंबा होता है. और 11 साल तो बहुत ही लंबा वक्त होता है. यहां कब क्या हो जाए, कहा नहीं जा सकता है.... नवंबर 1995 में, पत्रकार मिलिंद खांडेकर मुंबई के महालक्ष्मी रेस कोर्स में आजतक टीवी चैनल के लिए बीजेपी सेशन को कवर कर रहे थे. अयोध्या आंदोलन के बाद से बीजेपी का ग्राफ लगातार बढ़ रहा था.

बीजेपी अध्यक्ष लालकृष्ण आडवाणी की रथ यात्रा ने पार्टी की तकदीर बदलकर रख दी थी. 1991 में बीजेपी ने 120 सीटें जीती. बीजेपी ने गुजरात और महाराष्ट्र में सरकार बनाई. आडवाणी अपनी लोकप्रियता के चरम पर पहुंच गए, आडवाणी और वाजपेयी के बीच प्रतिद्वंद्विता की खबर भी आई लेकिन सार्वजनिक रूप से इसे कभी स्वीकार नहीं किया गया था.

ये भी देखें- Indo–Soviet Treaty in 1971: भारत पर आई आंच तो अमेरिका से भी भिड़ गया था 'रूस!

दोनों के बीच प्रतिद्वंद्विता हमेशा खबरों में रही... यह बाद में तब दिखाई दिया, जब वाजपेयी पीएम बने और आडवाणी डिप्टी पीएम, लेकिन आडवाणी ने अटल बिहारी वाजपेयी का नाम बीजेपी के पीएम उम्मीदवार के रूप में प्रस्तावित करके सभी को चौंका दिया था... चुनाव से पहले किसी पार्टी द्वारा पीएम उम्मीदवार की घोषणा करने का यह पहला उदाहरण था...

1996 में BJP 161 सीटों पर पहुंच गई

1996 के आम चुनाव में बीजेपी ने 161 सीटें जीती. अटल बिहारी वाजपेयी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया गया. यह केंद्र में बीजेपी की पहली सरकार थी. यह सरकार केवल 13 दिन चली क्योंकि वाजपेयी बहुमत साबित नहीं कर सके... हालांकि उन्होंने कभी हार नहीं मानी..

1997 में सदन में बाद में एक बहस में, उन्होंने कांग्रेस पार्टी से कहा, "मेरे शब्दों को नोट कर लें, आज आप लोग (कांग्रेस) कम सांसद/विधायक होने के लिए हम पर हंस रहे हैं लेकिन वह दिन आएगा जब भारत में हमारी सरकार होगी... सबसे ज्यादा सांसद/विधायक वाली पार्टी बीजेपी बनेगी, उस दिन इस देश के लोग आप पर हंसेंगे और आपका मजाक उड़ाएंगे...

ये भी देखें- Quit India Movement: गांधी ने नहीं किसी और शख्स ने दिया था ‘भारत छोड़ो’ का नारा!

2014 में, इसी पार्टी ने जिसका मजाक कभी कांग्रेस ने "हम दो हमारे दो" कहकर उड़ाया था... उसकी ऐसी आंधी आई कि कांग्रेस का किला ही ध्वस्त हो गया. भारत के इतिहास में पहली बार कांग्रेस की 44 सीटें आई. यहां एक बात और जाननी होगी कि वाजपेयी कभी छद्म राजनीति के हिमायती नहीं रहे... उन्होंने लोकतांत्रिक भाषा में ही विरोधियों पर हमला किया.

चलते चलते आज की दूसरी घटनाओं पर एक नजर डाल लेते हैं

1906 - दक्षिण अमेरिकी देश चिली में 8.6 की तीव्रता का भूकंप, 20 हजार लोगों की मौत

1904 - सुभद्रा कुमारी चौहान (Subhadra Kumari Chauhan) - स्वतंत्रता सेनानी, कवयित्री, कहानीकार

1970 - बॉलीवुड ऐक्टर सैफ़ अली ख़ान (Saif Ali Khan) और मनीषा कोइराला (Manisha Koirala) का जन्म

1997 - पाकिस्तानी गायक नुसरत फ़तेह अली ख़ान (Nusrat Fateh Ali Khan) का निधन

अप नेक्स्ट

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Bharat jodo yatra: पदयात्रा में शामिल हुईं सोनिया गांधी, लंबे वक्त बाद सार्वजनिक कार्यक्रम में आईं नजर

Bharat jodo yatra: पदयात्रा में शामिल हुईं सोनिया गांधी, लंबे वक्त बाद सार्वजनिक कार्यक्रम में आईं नजर

Kerela News: केरल के पलक्कड़ में दो बसों की जोरदार टक्कर, 9 लोगों की मौत, 38 घायल

Kerela News: केरल के पलक्कड़ में दो बसों की जोरदार टक्कर, 9 लोगों की मौत, 38 घायल

Flash Flood: बंगाल में मूर्ति विसर्जन के दौरान अचानक आई बाढ़, 8 लोगों की मौत, कई लापता

Flash Flood: बंगाल में मूर्ति विसर्जन के दौरान अचानक आई बाढ़, 8 लोगों की मौत, कई लापता

Indore: बदमाशों ने युवक पर चाकू से किया ताबड़तोड़ हमला, CCTV फुटेज आया सामने

Indore: बदमाशों ने युवक पर चाकू से किया ताबड़तोड़ हमला, CCTV फुटेज आया सामने

Morning News Brief: 'भारत जोड़ो यात्रा' में शामिल होंगी सोनिया, मुलायम की तबीयत अभी भी नाजुक...TOP 10

Morning News Brief: 'भारत जोड़ो यात्रा' में शामिल होंगी सोनिया, मुलायम की तबीयत अभी भी नाजुक...TOP 10

और वीडियो

RSS Program in Nagpur: जानें कौन हैं Santosh Yadav, जिन्हें RSS ने बनाया मुख्य अतिथि

RSS Program in Nagpur: जानें कौन हैं Santosh Yadav, जिन्हें RSS ने बनाया मुख्य अतिथि

Dussehra Rally: CM एकनाथ बोले हमने गद्दारी नहीं गदर किया, उद्धव का जवाब- कटप्पा को माफ नहीं करेंगे

Dussehra Rally: CM एकनाथ बोले हमने गद्दारी नहीं गदर किया, उद्धव का जवाब- कटप्पा को माफ नहीं करेंगे

Al Aqsa Mosque History : अल अक्सा मस्जिद से क्या है इस्लाम, यहूदी और ईसाईयों का रिश्ता? | Jharokha 6 Oct

Al Aqsa Mosque History : अल अक्सा मस्जिद से क्या है इस्लाम, यहूदी और ईसाईयों का रिश्ता? | Jharokha 6 Oct

 Dussehra 2022: नेताओं के बीच दिखी दशहरे की धूम, जश्न में लिया बढ़चढ़कर हिस्सा

Dussehra 2022: नेताओं के बीच दिखी दशहरे की धूम, जश्न में लिया बढ़चढ़कर हिस्सा

Dussehra: हरियाणा के यमुनानगर में रावण दहन के दौरान लोगों के ऊपर गिरा पुतला, कई घायल

Dussehra: हरियाणा के यमुनानगर में रावण दहन के दौरान लोगों के ऊपर गिरा पुतला, कई घायल

दशहरा रैली: Uddhav Thackeray  को लग सकता है झटका, Eknath Shinde गुट में शामिल होंगे 2 सांसद और 5 MLA

दशहरा रैली: Uddhav Thackeray को लग सकता है झटका, Eknath Shinde गुट में शामिल होंगे 2 सांसद और 5 MLA

Dussehra: देशभर में रावण का किया गया दहन...देखें पटना, अमृतसर और देहरादून की तस्वीर

Dussehra: देशभर में रावण का किया गया दहन...देखें पटना, अमृतसर और देहरादून की तस्वीर

Evening News Brief: देशभर में दशहरा की धूम, नोबेल शांति पुरस्‍कार की दौड़ में जुबैर और प्रतीक सिन्‍हा

Evening News Brief: देशभर में दशहरा की धूम, नोबेल शांति पुरस्‍कार की दौड़ में जुबैर और प्रतीक सिन्‍हा

India Army: अरुणाचल प्रदेश में चीता हैलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, हादसे में एक पायलट की मौत

India Army: अरुणाचल प्रदेश में चीता हैलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, हादसे में एक पायलट की मौत

 Drone Varun : इंसान को लेकर उड़ने वाला देश का पहला ड्रोन तैयार, जानें क्या है खासियत

Drone Varun : इंसान को लेकर उड़ने वाला देश का पहला ड्रोन तैयार, जानें क्या है खासियत

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.