हाइलाइट्स

  • अंकिता हत्याकांड में पुलिस पर उठ रहे सवाल
  • अंकिता के मौत की बताई गई थ्योरी गलत या सही?
  • अंकिता की मौत से पहले किया गया था रेप?
  • शव देखने वाले पुलिस के बयान पर क्यों उठा रहे सवाल?

लेटेस्ट खबर

Sundar Pichai: गूगल CEO सुंदर पिचाई को मिला पद्म भूषण, बोले- भारतीय पहचान साथ रखते हैं

Sundar Pichai: गूगल CEO सुंदर पिचाई को मिला पद्म भूषण, बोले- भारतीय पहचान साथ रखते हैं

रमीज राजा की BCCI को एक और धमकी, बोले- एशिया कप 2023 की छीनी मेजबानी तो टूर्नामेंट में नहीं लेंगे हिस्सा

रमीज राजा की BCCI को एक और धमकी, बोले- एशिया कप 2023 की छीनी मेजबानी तो टूर्नामेंट में नहीं लेंगे हिस्सा

Kareena Kapoor रेड सी फिल्म फेस्टिवल में Saif Ali Khan संग होंगी शामिल

Kareena Kapoor रेड सी फिल्म फेस्टिवल में Saif Ali Khan संग होंगी शामिल

Collegium: SC की दो टूक, कहा- वर्तमान कॉलेजियम प्रणाली को ना करें बेपटरी...हम एक पारदर्शी संस्थान

Collegium: SC की दो टूक, कहा- वर्तमान कॉलेजियम प्रणाली को ना करें बेपटरी...हम एक पारदर्शी संस्थान

Bharat Jodo Yatra: राहुल का BJP-RSS पर वार, बोले- नहीं लगाते 'जय सिया राम' का नारा

Bharat Jodo Yatra: राहुल का BJP-RSS पर वार, बोले- नहीं लगाते 'जय सिया राम' का नारा

Ankita Murder Case : रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चलाना, अपराधियों को बचाने की कोशिश तो नहीं?

Ankita Murder Case में एक बड़ा खुलासा हुआ है. बताया जा रहा है कि रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य, अंकिता के करीब आना चाहता था. इसके लिए वह लंबे समय से प्लानिंग भी कर रहा था. 

Ankita Bhandari Murder case: आज नवरात्रि (Navratri 2022) का पहला दिन है. नौ दिनों तक मां दुर्गा (Maa Durga) यानी स्त्री के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा करने वाला भारत देश वाकई महान है. क्योंकि यहां रहने वाले लोग और नेता ही स्त्रियों की आबरू से रोज़ाना खेलते हैं. अगर नहीं तो फिर रोज़ाना 86 रेप के मामले दर्ज़ कैसे होते हैं? ये वो मामले हैं जो दर्ज हुए हैं. सच्चाई का अंदाज़ा आप लगा लीजिए...

उत्तराखंड (Uttarakhand) के पौड़ी (Paudi) जिले की रहने वाली अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) की कहानी भी महान भारत के कटू सच्चाई को बताती है. जहां कथनी और करनी का फर्क इतना ज़्यादा है कि गिरगिट भी शर्मा जाए. मैं समस्त गिरगिट समुदाय से हाथ जोड़कर माफ़ी मांगता हूं कि मैं तुच्छ इंसानों से उनकी तुलना कर रहा हूं. क्योंकि गिरगिट अपना पेट भरने और ख़ुद को बचाने के लिए रंग बदलने की कला का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन इंसान अपनी गंदगी छिपाने के लिए... ख़ैर अंकिता भंडारी मामले में गुनहगार आम इंसान नहीं पूर्व मंत्री पुत्र हैं. जो अब पार्टी के सभी पदों से भी हटाए जा चुके हैं. इस पूरे मामले में आरोपी पुलकित आर्य के रिसॉर्ट पर जितनी जल्दी बुल्डोजर चलाया गया है, उसको लेकर भी अब सवाल खड़े हो रहे हैं. आरोप है कि जेसीबी से जिस कमरे को तोड़ा गया, अंकिता उसी कमरे में रहती थी. इतना ही नहीं पुलिस ने जांच के लिए इस कमरे को सील किया था.

सीएम धामी साहब, 24 सितंबर को ट्वीट कर बता रहे हैं कि उन्होंने बुल्डोजर वाला इंसाफ़ कर दिया है. लेकिन प्रशासन कह रहा है कि रिसॉर्ट पर उनकी तरफ से बुल्डोजर चलाया ही नहीं गया. ऐसे कई सवाल हैं जो आपको चौंका देंगे.

इन्हीं तमाम मुद्दों पर होगी बात, आज के मसला क्या है कार्यक्रम में...

और पढ़ें- Dollar vs Rupee: रुपये का गिरना आपकी ज़िदगी कैसे करता है तबाह?

दोस्तों ने क्यों नहीं बचाया?

अभी तक की जानकारी के मुताबिक 19 साल की अंकिता का क़ुसूर सिर्फ इतना था कि उसने रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्या के कहने पर जिस्मफ़रोशी या यूं कहें वेश्यावृति का धंधा करने से मना कर दिया. मीडिया में ऐसे कई व्हाट्स चैट सर्कुलेट हो रहे हैं, जिसे दिखाकर यह कहा जा रहा है कि पुलकित आर्य अंकिता पर बार-बार वेश्यावृति करने का दबाव बना रहा था, जबकि वह मना करती रही. जिसके बाद अंकिता को कैनाल में धक्का दे दिया गया. ख़बर मिली है कि पुलकित ने पुलिस के सामने चिला कैनाल में अंकिता को धक्का दिए जाने की बात स्वीकार कर ली है. लेकिन सवाल यह भी है कि अगर पुलकित ने शराब के नशे में अंकिता को कैनाल में धक्का दिया तो फिर उसके साथ मौजूद साथियों ने उसे बचाने की कोशिश क्यों नहीं की? अंकिता कैनाल में डूबती रही और पुलकित के साथी उसकी मौत का तमाशा देखते रहे.

Ankita Murder case: अंकिता हत्याकांड के बाद एक्शन में सरकार

शव फूला हुआ क्यों नहीं था?

अतुल सती नाम के एक एक्टिविस्ट हैं जो इस मसले को प्रमुखता से उठा रहे हैं. उन्होंने अंकिता हत्याकांड को लेकर कुछ गंभीर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, शव को देखने वाली दो महिलाओं ने जो कुछ बताया वह वास्तव में कई तरह के सवाल पैदा करते हैं. बताया गया कि शव फूला हुआ नहीं था. 5 दिन तक शव बैराज में पड़ा रहा हो और फिर भी फूला हुआ न हो, यह एक बड़ा सवाल है.

और पढ़ें- UP में रेपिस्टों के हौसले बुलंद, CM Yogi का ख़ौफ अपराधियों में क्यों हो रहा कम?

अंकिता को 5 घंटे पहले बैराज में फेंका

त्रिलोचन भट्ट नाम के एक अन्य यूजर ने अंकिता के डेड बॉडी की तस्वीर अपने सोशल हैंडल पर पोस्ट करते हुए लिखा, डेडबॉडी की यह तस्वीर साफ बता रही है कि अंकिता को 5 दिन पहले नहीं, बल्कि सिर्फ 5 घंटे पहले ही बैराज में फेंका गया था. इन 5 दिनों में उसके साथ क्या कुछ हुआ, इसका शायद कभी पता नहीं चलेगा.

सीएम ने इंसाफ का दिया भरोसा

एक तरफ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि अंकिता मर्डर हत्याकांड में उनकी सरकार ने तुरंत एक्शन लेते हुए सभी "दोषियों" को सलाखों के पीछे भेज दिया है और उसकी सभी अवैध प्रॉपर्टी तोड़ी जा रही है. लेकिन कई लोग तथाकथित दोषियों को गिरफ्तार किए जाने की बात को ही नकार रहे हैं. इतना ही नहीं उन्होंने जो आरोप लगाए हैं वह बेहद संगीन हैं. शोभा गैरोला नाम की एक ट्विटर यूजर ने एक शख्स का बयान जारी करते हुए कहा है कि पुलकित आर्य बताकर जिस शख़्स को पकड़ा गया है वह पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य का पुत्र नहीं बल्कि कोई और शख़्स है. तो क्या राज्य की बीजेपी सरकार, आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रही है? पहले यह बयान सुन लीजिए.

और पढ़ें- Iran में Hijab पर बवाल... उग्र प्रदर्शन के लिए जिम्मेदार कौन, हिजाब या तानाशाही?

उत्तराखंड में घटना पर आक्रोश

इस मामले को लेकर पूरे उत्तराखंड ने एकजुट होकर जो आक्रोश दिखाया है, यह उसी का नतीजा है कि पुलिस से लेकर सीएम तक, सभी जवाब देने में तत्परता दिखा रहे हैं. वरना यूपी के लखीमपुर में किसानों को जीप से रौंदने के मामले को लेकर क्या हुआ था, सबने देखा है. सोशल मीडिया पर ऐसे ट्वीट्स की बाढ़ आ गई है. विरोधी इसे बीजेपी की संस्कृति बताने से भी नहीं चूक रहे हैं.

विरोधी जो भी कहें, लेकिन एक सच है कि उत्तराखंड के लोगों ने वाकई इस मामले में एकजुटता दिखाई है. देखिए किस तरह वहां के लोग, अधिकारियों और नेताओं की आंखों में आंखें डालकर सवाल कर रहे हैं.

लोगों का फूट पड़ा गुस्सा

इससे पहले पुलिस जब शुक्रवार को पुलकित आर्य को हिरासत में लेने आई तो लोगों का गुस्सा फूट पड़ा था. करीब 300 लोगों ने पुलिस की गाड़ी को घेर कर पुलकित और उसके साथियों की पिटाई कर दी, कपड़े फाड़ डाले.

और पढ़ें- Allahabad University: 400% फीस बढ़ोतरी के खिलाफ सड़क पर छात्र... शिक्षा होगी दूर की कौड़ी?

19 साल की अंकिता की हत्या से आक्रोशित लोगों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक किये जाने की मांग करते हुए रविवार को श्रीनगर में बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग जाम कर दिया. इसके साथ ही पीड़ित परिवार की आर्थिक हालत को देखते हुए एक करोड़ रुपये के मुआवजे की भी मांग की.

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट छिपाने के आरोप

इतना ही नहीं अंकिता भंडारी के परिजनों ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट छिपाने तक के भी आरोप लगाए. शुरुआती रिपोर्ट में लड़की के शरीर पर गंभीर चोट की बात कही गई है. इतना ही नहीं यह भी कहा गया है कि यह चोट मौत से पहले की है.

और पढ़ें- Chandigarh Hostel Video Leak: बेटियां कैसे रहेंगी सुरक्षित, डिजिटल चुनौतियों का जवाब क्या?

इस केस में अंकिता मर्डर से जुड़े कई मामलों को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. कई न्यूज़ पेपर्स ने भी सबूत मिटाने जैसे सवालों को प्रमुखता से उठाया है. हालांकि जब इसी बात को मीडिया ने पूर्व मंत्री विनोद आर्य से पूछा तो उन्होंने अपने बेटे को सीधा और भोला-भाला बताते हुए, मीडिया पर ही सवाल खड़े कर दिए.

अब एक नजर उन तथ्यों पर डालते हैं जिसको आधार बताकर उत्तराखंड सरकार पर मामले को दबाने के आरोप लग रहे हैं...

  • अंकिता के शरीर पर थे चोट के निशान
  • अंकिता का एक दांत भी टूटा हुआ था
  • शव को मछलियों ने क्यों नहीं खाया
  • शव के गंगा में आते ही झपटती हैं मछलियां
  • पांच दिनों से पानी में था फिर फूला क्यों नहीं शव
  • जेसीबी, अंकिता के घर पर क्यों चलाया गया?
  • जबकि पुलिस ने उस कमरे को सील किया था

ऋषिकेश एम्स में अंकिता के शव देखने वालों के आरोप हैं कि शव के बरामद होने से मात्र कुछ घंटे पहले ही अंकिता को बैराज में फेंका गया था. इसके साथ ही 5 दिनों तक उसके साथ कई तरह की दरिंदगी भी की गई... हालांकि अब तक सरकार की तरफ से या प्राइमरी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में रेप की कोई बात नहीं कही गई है.

अप नेक्स्ट

Ankita Murder Case : रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चलाना, अपराधियों को बचाने की कोशिश तो नहीं?

Ankita Murder Case : रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चलाना, अपराधियों को बचाने की कोशिश तो नहीं?

Sundar Pichai: गूगल CEO सुंदर पिचाई को मिला पद्म भूषण, बोले- भारतीय पहचान साथ रखते हैं

Sundar Pichai: गूगल CEO सुंदर पिचाई को मिला पद्म भूषण, बोले- भारतीय पहचान साथ रखते हैं

Collegium: SC की दो टूक, कहा- वर्तमान कॉलेजियम प्रणाली को ना करें बेपटरी...हम एक पारदर्शी संस्थान

Collegium: SC की दो टूक, कहा- वर्तमान कॉलेजियम प्रणाली को ना करें बेपटरी...हम एक पारदर्शी संस्थान

Bharat Jodo Yatra: राहुल का BJP-RSS पर वार, बोले- नहीं लगाते 'जय सिया राम' का नारा

Bharat Jodo Yatra: राहुल का BJP-RSS पर वार, बोले- नहीं लगाते 'जय सिया राम' का नारा

MCD Election: अरविंद केजरीवाल ने BJP पर साधा निशाना, सीटों को लेकर की भविष्यवाणी

MCD Election: अरविंद केजरीवाल ने BJP पर साधा निशाना, सीटों को लेकर की भविष्यवाणी

 IndiGo की फ्लाइट को मुंबई एयरपोर्ट पर डायवर्ट किया गया, तकनीकी खराबी का मामला

IndiGo की फ्लाइट को मुंबई एयरपोर्ट पर डायवर्ट किया गया, तकनीकी खराबी का मामला

और वीडियो

Morning News Brief: MCD चुनाव में कितनी सीटें जीतेगी AAP? राहुल गांधी का 'जय सिया राम'! देखें TOP 10

Morning News Brief: MCD चुनाव में कितनी सीटें जीतेगी AAP? राहुल गांधी का 'जय सिया राम'! देखें TOP 10

MCD Election: 100 करोड़ का रहा प्रचार सामग्री का कारोबार, सदर बाजार में रही गर्माहट

MCD Election: 100 करोड़ का रहा प्रचार सामग्री का कारोबार, सदर बाजार में रही गर्माहट

Chhatisgarh News: सीएम भूपेश बघेल की डिप्टी सेक्रेटरी सौम्या चौरसिया को ED ने किया अरेस्ट

Chhatisgarh News: सीएम भूपेश बघेल की डिप्टी सेक्रेटरी सौम्या चौरसिया को ED ने किया अरेस्ट

Badruddin Ajmal: बदरुद्दीन अजमल का अजीबो-गरीब बयान, बोले- बिना शादी 2-3 बीवियां रखते हैं हिंदू

Badruddin Ajmal: बदरुद्दीन अजमल का अजीबो-गरीब बयान, बोले- बिना शादी 2-3 बीवियां रखते हैं हिंदू

Delhi MCD Election: जानिए दिल्ली में तीनों बड़ी पार्टियों के वादों को फिर फैसला करिए अपने वोट का

Delhi MCD Election: जानिए दिल्ली में तीनों बड़ी पार्टियों के वादों को फिर फैसला करिए अपने वोट का

Delhi MCD Election: दिल्ली MCD चुनाव के लिए थमा प्रचार, अब 4 दिसंबर को होगा मतदान

Delhi MCD Election: दिल्ली MCD चुनाव के लिए थमा प्रचार, अब 4 दिसंबर को होगा मतदान

UP News: सपा विधायक इरफान सोलंकी ने किया सरेंडर, कोर्ट ने 14 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा

UP News: सपा विधायक इरफान सोलंकी ने किया सरेंडर, कोर्ट ने 14 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा

भारत की मिसाइल अग्नि-5 से क्यों बेचैन है चीन ? भेजा यूआन वांग-5 जहाज

भारत की मिसाइल अग्नि-5 से क्यों बेचैन है चीन ? भेजा यूआन वांग-5 जहाज

Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के मुरूम खदान धंसने से 7 लोगों की मौत, 12 से ज्यादा ग्रामीण फंसे

Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के मुरूम खदान धंसने से 7 लोगों की मौत, 12 से ज्यादा ग्रामीण फंसे

Moosewala Murder: कौन है गोल्डी बराड़? पंजाब पुलिस में ASI पिता की कैसे गई नौकरी? देखें

Moosewala Murder: कौन है गोल्डी बराड़? पंजाब पुलिस में ASI पिता की कैसे गई नौकरी? देखें

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.