हाइलाइट्स

  • रिलायंस और अडानी ग्रुप ने किया एक समझौता
  • दोनों कंपनियों ने किया नो-पोचिंग एग्रीमेंट
  • दूसरे शब्दों में इसे ‘नो हायर एग्रीमेंट’ भी कहा जाता है
  • इसके तहत एक दूसरे की कंपनी में नौकरी नहीं कर पाएंगे कर्मचारीA

लेटेस्ट खबर

Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष की रेस से बाहर हुए अशोक गहलोत, अब इन 5 नेताओं के नाम आगे

Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष की रेस से बाहर हुए अशोक गहलोत, अब इन 5 नेताओं के नाम आगे

सदन में महिलाओं के पावरफुल भाषण, लोकसभा और विधानसभा में जलवा...! देखें TOP 5 दमदार स्पीच

सदन में महिलाओं के पावरफुल भाषण, लोकसभा और विधानसभा में जलवा...! देखें TOP 5 दमदार स्पीच

Snake In School Bag: छात्रा की बैग में मिला खतरनाक सांप, देखें खौफनाक वीडियो 

Snake In School Bag: छात्रा की बैग में मिला खतरनाक सांप, देखें खौफनाक वीडियो 

UP NEWS: पिटाई की 'पाठशाला' में दलित छात्र की मौत, छात्र ने टेस्ट में की थी ये छोटी सी गलती

UP NEWS: पिटाई की 'पाठशाला' में दलित छात्र की मौत, छात्र ने टेस्ट में की थी ये छोटी सी गलती

Ankita Murder Case: रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चलाना, अपराधियों को बचाने की कोशिश तो नहीं?

Ankita Murder Case: रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चलाना, अपराधियों को बचाने की कोशिश तो नहीं?

No Poaching: अंबानी-अडानी एक दूसरे के कर्मचारियों को क्यों नहीं देंगे जॉब? जाने कहां से आया ऐसा कॉन्सेप्ट

Adani Ambani No Poaching Agreement: रिलायंस (RIL) और अडानी ग्रुप (Adani Group) ने नो-पोचिंग एग्रीमेंट (No Poaching Agreement) किया है. इसके तहत वे कर्मचारी जो रिलायंस या अडानी ग्रुप के लिए काम करते हैं, उनको अब एक-दूसरे के यहां नौकरी नहीं मिलेगी. 

Adani Ambani No Poaching Agreement: भारत की दो सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस (RIL) और अडानी ग्रुप ने एक समझौता किया है. इसके तहत वे कर्मचारी जो रिलायंस या अडानी ग्रुप के लिए काम करते हैं, उनको अब एक-दूसरे के यहां नौकरी नहीं मिलेगी. जी हां, मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो इन दोनों कंपनियों ने नो-पोचिंग एग्रीमेंट (No Poaching Agreement) किया है, तो आइए जानने की कोशिश करते हैं कि नो-पोचिंग एग्रीमेंट (No Poaching Agreement) का कॉन्सेप्ट आया कहां से और इससे दोनों कंपनियों और कर्मचारियों को क्या फायदा-नुकसान होगा.

इसे भी देखें-Rupee vs Dollar: 20 साल के उच्चतम स्तर पर डॉलर, जानिए अब तक के सबसे निचले स्तर पर कैसे पहुंचा रुपया?

दरअसल, नो-पोचिंग एग्रीमेंट (No Poaching Agreement) का कॉन्सेप्ट तब खबरों में आया, जब 2010 में अमेरिका के कानून विभाग ने सिलिकॉन वैली की गूगल, एडोब, इंटेल और ऐपल जैसी कंपनियों के खिलाफ एक शिकायत दर्ज की हुई. इस शिकायत में कहा गया कि ये कंपनियां आपस में एक-दूसरे के कर्मचारियों को नौकरी नहीं दे रही थीं. इसके बाद मामले की जांच की गई. जिसमें पाया गया कि इससे अमेरिका के लाखों कर्मचारियों के जीवन पर बुरा असर पड़ा था.

एक्सपर्ट बताते हैं कि टैलेंटेड कर्मचारी बेहतर अवसर देखकर एक कंपनी छोड़कर दूसरी कंपनी में चले जाते थे. इसे रोकने और कर्मचारियों को लंबे समय तक अपनी कंपनी से जोड़े रखने के लिए मैनेजमेंट कई तरीके अपनाती थी. इसमें से एक तरीका ‘नो-पोचिंग एग्रीमेंट’ भी है.

इस समझौते की वजह से रिलायंस ग्रुप (Reliance Group) में काम करने वाले 3.80 लाख से ज्यादा कर्मचारी और अडानी ग्रुप के 23 हजार से ज्यादा कर्मचारी एक दूसरे की कंपनी में नौकरी नहीं कर पाएंगे.

आपको बता दें कि अडानी ग्रुप (Adani Group) और रिलायंस ग्रुप (Reliance Group) के बीच हुआ यह समझौता ऐसे वक्त में हुआ है, जब अडानी ग्रुप पेट्रोकेमिकल्स और इंटरनेट सेक्टर में एंट्री कर रहा है और मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस (Reliance) इन दोनों सेक्टरों में देश की सबसे बड़ी कंपनी है.

इसे भी देखें- Tax evasion: MNC कंपनियों से लेकर FMCG उद्योग तक, ऐसे चल रहा अवैध व्यापार और चल रही करोड़ों की टैक्स चोरी

अप नेक्स्ट

No Poaching: अंबानी-अडानी एक दूसरे के कर्मचारियों को क्यों नहीं देंगे जॉब? जाने कहां से आया ऐसा कॉन्सेप्ट

No Poaching: अंबानी-अडानी एक दूसरे के कर्मचारियों को क्यों नहीं देंगे जॉब? जाने कहां से आया ऐसा कॉन्सेप्ट

Changes from 1st October: 1 अक्टूबर से होंगे ये 5 बड़े बदलाव, जान लें नहीं तो होगा भारी नुकसान

Changes from 1st October: 1 अक्टूबर से होंगे ये 5 बड़े बदलाव, जान लें नहीं तो होगा भारी नुकसान

Grand Vitara launch: तहलका मचाने आई ये धांसू SUV, कई बेहतरीन फीचर्स से है लैस; कीमत बहुत ही कम

Grand Vitara launch: तहलका मचाने आई ये धांसू SUV, कई बेहतरीन फीचर्स से है लैस; कीमत बहुत ही कम

October Bank Holidays: बैंक जाने से पहले देख लें छुट्टियों की लंबी लिस्ट, वरना लटका ताला देख लौटेंगे वापस

October Bank Holidays: बैंक जाने से पहले देख लें छुट्टियों की लंबी लिस्ट, वरना लटका ताला देख लौटेंगे वापस

Special Train: यूपी-बिहार वालों को त्योहारों पर मिलेगा कंफर्म टिकट, दौड़ेंगी 10 जोड़ी फेस्टिवल ट्रेनें

Special Train: यूपी-बिहार वालों को त्योहारों पर मिलेगा कंफर्म टिकट, दौड़ेंगी 10 जोड़ी फेस्टिवल ट्रेनें

Share Market: शेयर बाजार धड़ाम, निवेशकों के लगभग 5 लाख करोड़ डूबे; रुपये ने बनाया एक नया रिकॉर्ड

Share Market: शेयर बाजार धड़ाम, निवेशकों के लगभग 5 लाख करोड़ डूबे; रुपये ने बनाया एक नया रिकॉर्ड

और वीडियो

Tax evasion: MNC कंपनियों से लेकर FMCG उद्योग तक, ऐसे चल रहा अवैध व्यापार और चल रही करोड़ों की टैक्स चोरी

Tax evasion: MNC कंपनियों से लेकर FMCG उद्योग तक, ऐसे चल रहा अवैध व्यापार और चल रही करोड़ों की टैक्स चोरी

Rupee vs Dollar: 20 साल के उच्चतम स्तर पर डॉलर, जानिए अब तक के सबसे निचले स्तर पर कैसे पहुंचा रुपया?

Rupee vs Dollar: 20 साल के उच्चतम स्तर पर डॉलर, जानिए अब तक के सबसे निचले स्तर पर कैसे पहुंचा रुपया?

Solex Energy: इस स्टॉक में निवेश करने वालों की चमकी किस्मत, 1 साल में मिला 800% से ज्यादा का रिटर्न

Solex Energy: इस स्टॉक में निवेश करने वालों की चमकी किस्मत, 1 साल में मिला 800% से ज्यादा का रिटर्न

Liquidity in Banking System: भारतीय बैंकिंग सिस्टम में आई नकदी की कमी, जानिए कहां गया बैंकों का कैश?

Liquidity in Banking System: भारतीय बैंकिंग सिस्टम में आई नकदी की कमी, जानिए कहां गया बैंकों का कैश?

Unique Currency Notes: ऐसे यूनिक नोट या सिक्के आपको बना सकते हैं रातों-रात अमीर, ये है फॉर्मूला

Unique Currency Notes: ऐसे यूनिक नोट या सिक्के आपको बना सकते हैं रातों-रात अमीर, ये है फॉर्मूला

Gold-Silver Price Today: सोना-चांदी हुआ महंगा, फिर भी खरीदारी क्यों फायदेमंद? एक क्लिक में जानें

Gold-Silver Price Today: सोना-चांदी हुआ महंगा, फिर भी खरीदारी क्यों फायदेमंद? एक क्लिक में जानें

Global Recession: क्या भारत में फिर होगी छंटनी? जानिए वैश्विक मंदी की आशंका का होगा कितना असर

Global Recession: क्या भारत में फिर होगी छंटनी? जानिए वैश्विक मंदी की आशंका का होगा कितना असर

Kisan Credit Card: किसानों के लिए खुशखबरी! जानिए घर बैठे कैसे होगा किसान क्रेडिट कार्ड का सारा काम

Kisan Credit Card: किसानों के लिए खुशखबरी! जानिए घर बैठे कैसे होगा किसान क्रेडिट कार्ड का सारा काम

RBI Alert List: इन 34 वेबसाइट्स से रहें सावधान, वरना एक गलती पड़ जाएगी भारी; आरबीआई ने दी ये चेतावनी

RBI Alert List: इन 34 वेबसाइट्स से रहें सावधान, वरना एक गलती पड़ जाएगी भारी; आरबीआई ने दी ये चेतावनी

Patanjali IPO: बाबा रामदेव ने उठाया बड़ा सवाल, कहा- ऑस्ट्रेलिया में पास और भारत में फेल कैसे पतंजलि घी? 

Patanjali IPO: बाबा रामदेव ने उठाया बड़ा सवाल, कहा- ऑस्ट्रेलिया में पास और भारत में फेल कैसे पतंजलि घी? 

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.