हाइलाइट्स

  • स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती का निधन
  • 1981 में शंकराचार्य की उपाधि मिली
  • 19 साल की उम्र में बने थे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी
  • राम मंदिर बनाने पर भाजपा-विहिप पर बोला था हमला

लेटेस्ट खबर

Viral Video: छर्रा BJP विधायक के गुर्गों की करतूत, टोल मांगने पर कर्मचारियों से की मारपीट

Viral Video: छर्रा BJP विधायक के गुर्गों की करतूत, टोल मांगने पर कर्मचारियों से की मारपीट

Happy Birthday: Renuka Shahane को पहली नजर में ही दिल दे बैठे थे Ashutosh, देखिए दोनों की प्यार भरी फोटोज

Happy Birthday: Renuka Shahane को पहली नजर में ही दिल दे बैठे थे Ashutosh, देखिए दोनों की प्यार भरी फोटोज

सिर्फ 3 रन बनाए फिर भी Shubham Gill के नाम दर्ज हुआ बड़ा रिकॉर्ड, इस मामले में कई दिग्गजों को पछाड़ा

सिर्फ 3 रन बनाए फिर भी Shubham Gill के नाम दर्ज हुआ बड़ा रिकॉर्ड, इस मामले में कई दिग्गजों को पछाड़ा

CM केजरीवाल का तंज- थोड़ा chill करो LG साहिब...! इतनी तो मेरी पत्नी भी मुझे नहीं डांटती

CM केजरीवाल का तंज- थोड़ा chill करो LG साहिब...! इतनी तो मेरी पत्नी भी मुझे नहीं डांटती

Vladimir Putin Birth Anniversary : KGB एजेंट थे पुतिन, कार खरीदने के भी नहीं थे पैसे | Jharokha 7 Oct

Vladimir Putin Birth Anniversary : KGB एजेंट थे पुतिन, कार खरीदने के भी नहीं थे पैसे | Jharokha 7 Oct

Swaroopanand Saraswati:आजादी की लड़ाई से लेकर राम मंदिर निर्माण तक, कौन थे शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती?

स्वरूपानंद सरस्वती का 99 साल की उम्र में निधन हो गया है. एमपी के नरसिंहपुर जिले स्थित आश्रम में अंतिम सांस ली है. आइए जानते है कि स्वरूपानंद सरस्वती कौन है.  जिन्होंने  आजादी की लड़ाई से लेकर राम मंदिर निर्माण तक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. 

द्वारकापीठ के शंकराचार्य (Dwarka Sharda Peeth) स्वरूपानंद सरस्वती (Swaroopanand Saraswati) का 99 साल की उम्र में निधन हो गया है. एमपी के नरसिंहपुर जिले स्थित आश्रम में उन्होंने 11 सितंबर को दोपहर साढ़े तीन बजे के करीब अंतिम सांस ली है. आइए जानते है कि स्वरूपानंद सरस्वती कौन है. जिन्होंने आजादी की लड़ाई से लेकर राम मंदिर निर्माण तक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

स्वरूपानंद सरस्वती का जन्म एमपी के सिवनी जिले स्थित दिघोरी गांव में दो सितंबर 1924 को हुआ था. नौ साल की उम्र में धर्म की मार्ग पर चलते हुए घर का त्याग कर दिया था. धर्म के साथ-साथ उनकी दिलचस्पी धार्मिक और सामाजिक मुद्दों में भी रही है. साधु होने के साथ-साथ वह एक स्वतंत्रता सेनानी भी थे. भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी. इसलिए उन्हें क्रांतिकारी साधु भी कहा जाता था. यह स्वरूप उनके आगे भी बरकरार रहा है. इसके साथ ही सियासत में कांग्रेस नेताओं के साथ नजदीकियों के कारण भी चर्चा में रहे हैं.

उनका पैतृक घर सिवनी जिले के दिघोरी गांव में है. वह ब्राह्मण परिवार से आते हैं. पिता का नाम धनपति उपाध्याय था. माता-पिता इनका नाम पोथीराम उपाध्याय रखा था. इसी क्रम में वह काशी पहुंचे और स्वामी करपात्री महाराज से वेद-वेदांग और शास्त्रों की शिक्षा ली. इसके बाद धर्म की राह पर ही चलते रहे.

आजादी की लड़ाई में लिया था हिस्सा

दीक्षा ग्रहण के बाद पोथीराम उपाध्याय की दिलचस्पी आजादी की लड़ाई में भी थी. इसी दौरान 1942 में अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत हुई. उस समय स्वामी जी उम्र 19 साल थी. कुछ अलग करने का जज्बा था. स्वारूपानंद सरस्वती भी इसी उम्र में आजादी की लड़ाई में कूद पडें. इसके बाद इनके साधी उन्हें क्रांतिकारी साधु के रूप से जानने लगे. साथ ही लोग इन्हें इसी नाम से पुकारते भी थे. आंदोलन के दौरान अंग्रेजी हुकूमत ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया और नौ महीने तक वाराणसी के जेल में कैद रहे. साथ ही छह महीने तक एमपी के जेल में भी रहे हैं.

आजादी की लड़ाई के साथ-साथ वह धार्मिक कार्यों से भी जुड़े थे. 1950 में वे दंडी संन्यासी बन गए थे. इसके लिए उन्होंने शारदा पीठ शंकराचार्य स्वामी ब्रह्मानंद सरस्वती से दंड-संन्यास की दीक्षा ली थी. इसके बाद से उन्हें स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के नाम से जाने जाने लगे. पहली बार स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती को 1981 में शंकराचार्य की उपाधि मिली. वह अभी द्वारका और ज्योतिर्मठ के शंकराचार्य थे.

राम मंदिर बनाने पर भाजपा-विहिप पर बोला था हमला

शंकराचार्य स्वामी स्परूपानंद सरस्वती ने राम जन्मभूमि न्यास के नाम पर विहिप और भाजपा को घेरा था. उन्होंने कहा था- अयोध्या में मंदिर के नाम पर भाजपा-विहिप अपना ऑफिस बनाना चाहते हैं, जो हमें मंजूर नहीं है. हिंदुओं में शंकराचार्य ही सर्वोच्च होता है. हिंदुओं के सुप्रीम कोर्ट हम ही हैं. मंदिर का एक धार्मिक रूप होना चाहिए, लेकिन यह लोग इसे राजनीतिक रूप देना चाहते हैं जो कि हम लोगों को मान्य नहीं है.

ये भी पढ़ें: Delhi: अब दिल्ली में बस घोटाला? LG की CBI जांच की सिफारिश, AAP बोली- पढ़े लिखे उपराज्यपाल की जरूरत

अप नेक्स्ट

Swaroopanand Saraswati:आजादी की लड़ाई से लेकर राम मंदिर निर्माण तक, कौन थे शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती?

Swaroopanand Saraswati:आजादी की लड़ाई से लेकर राम मंदिर निर्माण तक, कौन थे शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती?

CM केजरीवाल का तंज- थोड़ा chill करो LG साहिब...! इतनी तो मेरी पत्नी भी मुझे नहीं डांटती

CM केजरीवाल का तंज- थोड़ा chill करो LG साहिब...! इतनी तो मेरी पत्नी भी मुझे नहीं डांटती

Vladimir Putin Birth Anniversary : KGB एजेंट थे पुतिन, कार खरीदने के भी नहीं थे पैसे | Jharokha 7 Oct

Vladimir Putin Birth Anniversary : KGB एजेंट थे पुतिन, कार खरीदने के भी नहीं थे पैसे | Jharokha 7 Oct

Bharat Jodo Yatra: 75 साल के सिद्धारमैया ने राहुल गांधी के साथ लगाई दौड़, देखें कौन जीता ?

Bharat Jodo Yatra: 75 साल के सिद्धारमैया ने राहुल गांधी के साथ लगाई दौड़, देखें कौन जीता ?

दिल्ली: IGI एयरपोर्ट पर पकड़ी गई 27 करोड़ की घड़ी, जानें क्या है खास? 

दिल्ली: IGI एयरपोर्ट पर पकड़ी गई 27 करोड़ की घड़ी, जानें क्या है खास? 

'सरकारी-प्राइवेट मिलाकर 10-30% नौकरी', RSS प्रमुख भागवत कहना क्या चाहते हैं?

'सरकारी-प्राइवेट मिलाकर 10-30% नौकरी', RSS प्रमुख भागवत कहना क्या चाहते हैं?

और वीडियो

World Bank: भारत को झटका, वर्ल्ड बैंक ने एक फीसदी घटाया विकास दर का अनुमान

World Bank: भारत को झटका, वर्ल्ड बैंक ने एक फीसदी घटाया विकास दर का अनुमान

Bhagwat on Population: भागवत ने की धर्म आधारित जनसंख्या असंतुलन की बात, क्या है हकीकत?

Bhagwat on Population: भागवत ने की धर्म आधारित जनसंख्या असंतुलन की बात, क्या है हकीकत?

Mulayam Health Update: भैया, बाबूजी जी को बचा लीजिए, अखिलेश को देख फूट-फूटकर रोने लगा मुलायम समर्थक

Mulayam Health Update: भैया, बाबूजी जी को बचा लीजिए, अखिलेश को देख फूट-फूटकर रोने लगा मुलायम समर्थक

Chhattisgarh: दुर्ग में 3 साधुओं की बेरहमी से पिटाई, बचाने पहुंची पुलिस को भी पीटा..Video

Chhattisgarh: दुर्ग में 3 साधुओं की बेरहमी से पिटाई, बचाने पहुंची पुलिस को भी पीटा..Video

Evening News Brief: Annie Ernaux को मिला साहित्य नोबेल पुरस्कार, थाईलैंड के चाइल्ड केयर सेंटर में फायरिंग

Evening News Brief: Annie Ernaux को मिला साहित्य नोबेल पुरस्कार, थाईलैंड के चाइल्ड केयर सेंटर में फायरिंग

अब AIIMS में नहीं करना पड़ेगा लंबा इंतजार, 2 शिफ्ट में सर्जरी करने की तैयारी

अब AIIMS में नहीं करना पड़ेगा लंबा इंतजार, 2 शिफ्ट में सर्जरी करने की तैयारी

Vande Bharat Express Accident: भैंसों से टकराई 'वंदे भारत एक्सप्रेस', PM मोदी ने दिखाई थी हरी झंडी

Vande Bharat Express Accident: भैंसों से टकराई 'वंदे भारत एक्सप्रेस', PM मोदी ने दिखाई थी हरी झंडी

WHO: अगर आप भी अपने बच्चों को पिलाते हैं ये कफ सिरप तो हो जाएं सावधान, WHO ने जारी किया अलर्ट

WHO: अगर आप भी अपने बच्चों को पिलाते हैं ये कफ सिरप तो हो जाएं सावधान, WHO ने जारी किया अलर्ट

Udit Raj: उदित राज ने लांघी मर्यादा, राष्ट्रपति के खिलाफ विवादित ट्वीट कर चौतरफा घिरे

Udit Raj: उदित राज ने लांघी मर्यादा, राष्ट्रपति के खिलाफ विवादित ट्वीट कर चौतरफा घिरे

Indo-US Relation: सामने आया अमेरिका का पाकिस्तान प्रेम, PoK को बताया आजाद जम्मू-कश्मीर

Indo-US Relation: सामने आया अमेरिका का पाकिस्तान प्रेम, PoK को बताया आजाद जम्मू-कश्मीर

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.