हाइलाइट्स

  • यूक्रेन की राजधानी, दिल्ली से 4500 और रूस की राजधानी से 4300 किमी दूर
  • व्यापार की आती है, तो दोनों देश भारत के लिए बेहद अहमियत रखते हैं
  • भारत, दुनिया में सूरजमुखी के तेल का सबसे बड़ा आयातक देश है

लेटेस्ट खबर

Jaipur Woman Death VIDEO: जयपुर में एक बाइक चालक ने महिला को रौंदा, CCTV में कैद हुई वारदात

Jaipur Woman Death VIDEO: जयपुर में एक बाइक चालक ने महिला को रौंदा, CCTV में कैद हुई वारदात

Udaipur Murder Case: दोनों आरोपी हुए गिरफ्तार, गहलोत ने मोदी-शाह की ये अपील

Udaipur Murder Case: दोनों आरोपी हुए गिरफ्तार, गहलोत ने मोदी-शाह की ये अपील

Apple iPhone 1: आज ही बाजार में आया था पहला आईफोन, मच गया था तहलका!

Apple iPhone 1: आज ही बाजार में आया था पहला आईफोन, मच गया था तहलका!

IND vs IRE: दीपक हुड्डा के बल्ले से निकला तूफानी शतक, चकनाचूर हुए टी-20 इंटरनेशनल के कई बड़े रिकॉर्ड्स

IND vs IRE: दीपक हुड्डा के बल्ले से निकला तूफानी शतक, चकनाचूर हुए टी-20 इंटरनेशनल के कई बड़े रिकॉर्ड्स

Maharashtra में जल्द हो सकता है फ्लोर टेस्ट, राज्यपाल से मिलकर Devendra Fadnavis ने रखी मांग

Maharashtra में जल्द हो सकता है फ्लोर टेस्ट, राज्यपाल से मिलकर Devendra Fadnavis ने रखी मांग

Ukraine-Russia Crisis : जंग से बिगड़े हालात, तो भारत पर क्या असर होगा?

आइए समझते हैं कि अगर Russia Ukraine Crisis बढ़ता है, तो भारत के लिए कौन से नए संकट उत्पन्न होंगे...

यूक्रेन-रूस (Russia Ukraine Crisis) पर दुनिया दो फाड़ हो जाए, उससे पहले इस भीषण लड़ाई का भारत पर हो सकने वाले संभावित असर का आकलन शुरू हो चुका है. यूक्रेन की राजधानी कीव (Ukraine Capital Kyiv) से भारत की राजधानी नई दिल्ली की दूरी 4500 किलोमीटर से ज्यादा है, जबकि मॉस्को (Russia Capital Moscow) से यह दूरी 4300 किलोमीटर से ज्यादा है. हालांकि, बात जब व्यापार की आती है, तो भारत के लिए रूस और यूक्रेन बराबर की अहमियत के तौर पर दिखाई देते हैं. आइए समझते हैं कि अगर Russia Ukraine Crisis बढ़ता है, तो भारत के लिए कौन से नए संकट उत्पन्न हो सकते हैं...

खाद्य तेल पर असर

भारत, दुनिया में सूरजमुखी के तेल का सबसे बड़ा आयातक देश है. भारत में कुल खपत का 90% सूरजमुखी तेल रूस और यूक्रेन से ही आता है. ऐसे में इस तेल की कीमत बढ़ सकती है. नवंबर-अक्टूबर (तेल सप्लाई वर्ष) 2020-21 में भारत ने कुल 18.93 लाख टन का सूरजमुखी का कच्चा तेल मंगाया. इसमें से 13.97 लाख टन यूक्रेन से अकेले था. अर्जेंटीना से 2.24 लाख टन और रूस से 2.22 लाख टन. ये आंकड़े बताते हैं कि यूक्रेन इस मामले में सबसे बड़ा निर्यातक देश है.

एनर्जी इंपैक्ट

कच्चे तेल की कीमत 7 साल में सबसे उच्चतम स्तर पर हैं, ब्रेंट ऑयल $ 100 के पार पहुंच चुका है. ऐसा 2014 के बाद पहली बार हुआ है. रूस, दुनिया भर में इसका बड़ा सप्लायर है. तेल और गैस की सप्लाई के लिए भी यूरोप, रूस पर ही निर्भर है.

JPMorgan Chase & Co ने भी तेल कीमतों में बढ़ोतरी का अंदेशा जताया था. अगर भारत की बात की जाए तो वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2022 के बाद मीडिया से बातचीत में कहा था कि रूस-यूक्रेन संकट से कच्चे तेल की कीमत में होने वाली बढ़ोतरी देश की वित्तीय स्थिरता को खतरे में डाल सकती है. सरकार गहराई से इसपर नजर बनाए हुए है.

फार्मा सेक्टर पर असर

यूक्रेन को भारत के मुख्य निर्यात में फार्मा प्रोडक्ट शामिल हैं. जर्मनी और फ्रांस के बाद भारत, यूक्रेन को फार्मा प्रोडक्ट एक्सपोर्ट करने वाला तीसरा सबसे बड़ा है. Ranbaxy, Sun Group और Dr Reddy’s Laboratories जैसी कंपनियों के रेप्रजेंटेटिव ऑफिस यूक्रेन में हैं. इन्होंने वहां Indian Pharmaceutical Manufacturers’ Association (IPMA) भी बनाया हुआ है. युद्ध के किसी भी भीषण हालात में इसपर भी असर होना स्वाभाविक है.

2020 में फार्मा सेक्टर में, भारत, यूक्रेन के लिए 15वां सबसे बड़ा एक्सपोर्टर और दूसरा सबसे बड़ा इंपोर्टर रहा. भारत के लिए इसी वर्ष यूक्रेन 23वां सबसे बड़ा एक्सपोर्टर और 30वां सबसे बड़ा इंपोर्ट मार्केट रहा.

छात्रों पर असर

ऐसे भारतीय छात्र जिन्होंने यूक्रेन में पढ़ाई के लिए वहां कॉलेज की फीस भर दी है और वह इस संकट के बीच फंसे हुए हैं, ऐसे छात्रों का भविष्य, युद्ध के हालात में अनिश्चितता से भर उठना स्वाभाविक है. कुछ दिन पहले ही यूक्रेन में भारतीय दूतावास ने एडवाइजरी जारी कर भारतीय छात्रों और नागरिकों को देश छोड़ने के लिए कहा था. एडवाइजरी में छात्रों से अस्थायी रूप से यूक्रेन छोड़ने की सलाह दी गई थी.

यूक्रेन में लगभग 18-20 हजार भारतीय छात्र पढ़ाई करते हैं, जबकि रूस में करीब 14 हजार भारतीय. इन दोनों ही देशों में ज्यादातर भारतीय छात्र मेडिकल की पढ़ाई के लिए जाते हैं. छात्र, कई टेक्निकल कोर्स की पढ़ाई भी इन दो देशों में करते हैं.

कीमती स्टोन पर असर

भारत, रूस से मोती, कीमती पत्थर, धातु भी इंपोर्ट करता है. इनमें रेयर स्टोल मेटल भी हैं, जिनका इस्तेमाल फोन और कंप्यूटर की मैन्युफैक्चरिंग में होता है. यदि, भारत को इन सामान की आपूर्ति कम होती है, तो फोन, कंप्यूटर, मोबाइल आदि के दाम बढ़ने स्वाभाविक हैं. बता दें कि भारत पहले ही सेमी कंडक्टर चिप की कमी से जूझ रहा है.

2020 में भारत ने रूस से $877.62 मिलियन के कीमती पत्थर, आदि खरीदे. इसी साल भारत ने लगभग 5700 मिलियन अमेरिकी डॉलर की कीमत के चीज़ें रूस से खरीदी थीं. इनमें, फर्टिलाइजर, मशीनरी, पशु उत्पाद, इलेक्ट्रिक सामान, आदि चीजें हैं. रूस को लेकर कहा जाए तो दोनों देशों के करीब 500 कारोबारी ऐसे हैं, जो चाय, कॉफी, चावल, मसाले के कारोबार से जुड़े हैं.

अप नेक्स्ट

Ukraine-Russia Crisis : जंग से बिगड़े हालात, तो भारत पर क्या असर होगा?

Ukraine-Russia Crisis : जंग से बिगड़े हालात, तो भारत पर क्या असर होगा?

Jaipur Woman Death VIDEO: जयपुर में एक बाइक चालक ने महिला को रौंदा, CCTV में कैद हुई वारदात

Jaipur Woman Death VIDEO: जयपुर में एक बाइक चालक ने महिला को रौंदा, CCTV में कैद हुई वारदात

Udaipur Murder Case: दोनों आरोपी हुए गिरफ्तार, गहलोत ने मोदी-शाह की ये अपील

Udaipur Murder Case: दोनों आरोपी हुए गिरफ्तार, गहलोत ने मोदी-शाह की ये अपील

Maharashtra Crises: Uddhav, Aaditya और Raut पर दर्ज हो राजद्रोह केस, HC पहुंचा सियासी पेंच

Maharashtra Crises: Uddhav, Aaditya और Raut पर दर्ज हो राजद्रोह केस, HC पहुंचा सियासी पेंच

Mohammed Zubair को कोर्ट ने 4 दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा, ट्वीट को लेकर किया था गिरफ्तार

Mohammed Zubair को कोर्ट ने 4 दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा, ट्वीट को लेकर किया था गिरफ्तार

Udaipur Murder: दिनदहाड़े धारधार हथियार से टेलर की हत्या, नूपुर शर्मा के सपोर्ट में किया था पोस्ट

Udaipur Murder: दिनदहाड़े धारधार हथियार से टेलर की हत्या, नूपुर शर्मा के सपोर्ट में किया था पोस्ट

और वीडियो

Evening News Brief: सेक्स स्ट्राइक पर अमेरिका की महिलाएं!, उद्धव ने फिर खेला इमोशनल कार्ड!...देखें Top-10

Evening News Brief: सेक्स स्ट्राइक पर अमेरिका की महिलाएं!, उद्धव ने फिर खेला इमोशनल कार्ड!...देखें Top-10

UPSSSC PET ने जारी किया नोटिफिकेशन, जानें- आवेदन के लिए क्या है योग्यता 

UPSSSC PET ने जारी किया नोटिफिकेशन, जानें- आवेदन के लिए क्या है योग्यता 

Mukesh Ambani Resigns: मुकेश अंबानी ने Reliance Jio से दिया रिजाइन, आकाश अंबानी को सौंपी कमान

Mukesh Ambani Resigns: मुकेश अंबानी ने Reliance Jio से दिया रिजाइन, आकाश अंबानी को सौंपी कमान

Swimmer Dadi: 70 साल की दादी का कमाल, उफनती गंगा में लगा दी छलांग

Swimmer Dadi: 70 साल की दादी का कमाल, उफनती गंगा में लगा दी छलांग

Helicopter Emergency Landing: अरब सागर में बड़ा हादसा, हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, 4 लोगों की मौत

Helicopter Emergency Landing: अरब सागर में बड़ा हादसा, हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, 4 लोगों की मौत

Maharashtra Crisis: पहली बार होटल से बाहर आए एकनाथ शिंदे, कहा- जल्द मुंबई जाएंगे

Maharashtra Crisis: पहली बार होटल से बाहर आए एकनाथ शिंदे, कहा- जल्द मुंबई जाएंगे

Maharashtra: सत्ता बचाने के लिए सीएम को याद आई पुरानी पार्टी! क्या उद्धव ने किया फडणवीस को फोन?

Maharashtra: सत्ता बचाने के लिए सीएम को याद आई पुरानी पार्टी! क्या उद्धव ने किया फडणवीस को फोन?

UP News: 2024 लोकसभा चुनाव में पांच सीटों पर ताल ठोकेगी सुभासपा, SP संग गठबंधन पर कही ये बात...

UP News: 2024 लोकसभा चुनाव में पांच सीटों पर ताल ठोकेगी सुभासपा, SP संग गठबंधन पर कही ये बात...

Pallonji Mistry Death: नहीं रहे बिजनेस टाइकून पालोनजी मिस्त्री, 93 साल की उम्र में निधन

Pallonji Mistry Death: नहीं रहे बिजनेस टाइकून पालोनजी मिस्त्री, 93 साल की उम्र में निधन

Maharashtra Politics Crisis : BJP और शिंदे गुट के बीच डील डन! कौन बनेगा मंत्री और कौन डिप्टी CM?

Maharashtra Politics Crisis : BJP और शिंदे गुट के बीच डील डन! कौन बनेगा मंत्री और कौन डिप्टी CM?

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.