हाइलाइट्स

  • सियासी संकट के बीच उद्धव ठाकरे के तेवर की चर्चा
  • उद्धव ने साफ कहा- सामने से आकर कहें तो इस्तीफा दे दूंगा
  • सीएम क्या शिवसेना अध्यक्ष पद भी छोड़ दूंगा: उद्धव
  • 30 साल पहले बालासाहेब ने भी कहा था पार्टी छोड़ रहा हूं

लेटेस्ट खबर

IND vs ENG: दूसरे दिन बारिश बनी विलेन, कप्तान बुमराह के दम पर टीम इंडिया ने कसा अंग्रेजों पर शिकंजा

IND vs ENG: दूसरे दिन बारिश बनी विलेन, कप्तान बुमराह के दम पर टीम इंडिया ने कसा अंग्रेजों पर शिकंजा

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे मर्डर का मास्टरमाइंड इरफान खान गिरफ्तार

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे मर्डर का मास्टरमाइंड इरफान खान गिरफ्तार

Sleeping Pods at railway station: रेलवे ने शुरू की स्लीपिंग पॉड्स की सर्विस, जानें कैसे होगी बुकिंग

Sleeping Pods at railway station: रेलवे ने शुरू की स्लीपिंग पॉड्स की सर्विस, जानें कैसे होगी बुकिंग

Amarnath Yatra में देवदूतों की तरह उतरे फौजी, चंद घंटों में बन दिया पुल

Amarnath Yatra में देवदूतों की तरह उतरे फौजी, चंद घंटों में बन दिया पुल

Indian Railways: शताब्दी एक्सप्रेस में 20 रुपये की चाय के लिए देने पड़े 70 रुपये! रेलवे ने दी सफाई

Indian Railways: शताब्दी एक्सप्रेस में 20 रुपये की चाय के लिए देने पड़े 70 रुपये! रेलवे ने दी सफाई

Maharashtra Crisis: उद्धव के तेवर में दिखी बालासाहेब की झलक! पिता भी 30 साल पहले छोड़ने वाले थे पार्टी

CM उद्धव ठाकरे ने बागी नेताओं को संदेश दिया कि सामने आकर बात करें, सीएम क्या शिवसेना अध्यक्ष पद भी छोड़ दूंगा तो कईयों को उनमें बालासाहेब की झलक दिखी. 30 साल पहले बालासाहेब ने भी कही थी पार्टी छोड़ने की बात...जानें वजह.

Maharashtra Political Crisis : विधायकों के बगावत (rebel MLAs) और हाथ से छूटती सत्ता के बीच जब सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने बागी नेताओं को संदेश दिया, तब उनमें पिता बालासाहेब ठाकरे (Balasaheb Thackeray) की 30 साल पहले (30 years ago) वाली छवि (glimpse ) भी कई लोगों को दिखाई दी. उद्धव ने अपने पिता के अंदाज में ही बागी नेताओं को साफ संदेश दिया. 30 साल पहले 1992 में उनके पिता बालासाहेब ठाकरे ने भी संगठन की कार्यशैली पर सवाल उठने पर कहा था कि उनका पूरा परिवार शिवसेना छोड़ रहा है...तो ऐसा बवाल मचा कि बड़ी संख्या में शिवसैनिक सड़कों पर आ गए. प्रदर्शन होने लगे. कईयों ने खुद को जान से मारने तक की धमकी दे डाली.

ये भी पढ़ें: National Herald Case: सोनिया गांधी को बड़ी राहत, 23 जून को ED के सामने नहीं होंगी पेश

पार्टी की नींव रखनेवाले की पार्टी छोड़ने की घोषणा से पूरा संगठन हिल गया. फिर सभी शिकायतों को किनारे रख बालासाहेब को मनाने की कवायद शुरू हो गई. उस एक घटना के बाद जब तक बाला साहेब रहे, उनके खिलाफ पार्टी में ना बगावत हुई और ना उनके खिलाफ किसी ने एक आवाज उठाई.

अब मुख्यमंत्री उद्धव ने भी ऐसे ही तेवर दिखाए हैं, उन्होंने फेसबुक लाइव के जरिए साफ कहा है कि अगर कोई विधायक सामने से आकर कहेगा तो वे तुरंत इस्तीफा दे देंगे. उद्धव ने कहा कि जो नाराज विधायक हैं, वे मेरे पास आएं और बात करें. मैं मुख्यमंत्री पद क्या शिवसेना अध्यक्ष का पद भी छोड़ने के लिए तैयार हूं. उद्धव के इस संदेश के बाद भी बड़ी संख्या में शिवसैनिक उनके समर्थन में उतर गए. उद्धव के स्वागत में मातोश्री के बाहर खड़े सैकड़ों शिवसैनिकों ने उनके समर्थन में नारे लगाए. जिसके बाद से ही उद्धव के तेवर में बालासाहेब ठाकरे की झलक और 30 साल पहले की घटना की चर्चा तेज हो गई है.

बता दें कि 30 साल पहले 1992 में शिवसेना के ही एक पुराने साथी माधव देशपांडे ने बाला साहेब ठाकरे और उनकी कार्यशैली पर सवाल उठा दिए थे. उनके भतीजे राज ठाकरे और बेटे उद्धव ठाकरे पर पार्टी के मामलों में काफी दखलअंदाजी का आरोप लगा. जो बालासाहेब ठाकरे को बिल्कुल गवारा नहीं हुआ. उन्होंने सामना में एक लेख लिख पार्टी छोड़ने का ऐलान कर डाला. उन्होंने लिखा कि अगर एक भी शिव सैनिक मेरे या फिर मेरे परिवार के खिलाफ खड़ा होता है और ये कहता है कि हमने आपकी वजह से पार्टी छोड़ दी तो मैं इसी पल से शिवसेना अध्यक्ष का पद छोड़ना चाहता हूं. मेरा पूरा परिवार ही शिवसेना छोड़ रहा है.

देश-दुनिया की अपडेट खबरों के लिये यहां क्लिक करें

अप नेक्स्ट

Maharashtra Crisis: उद्धव के तेवर में दिखी बालासाहेब की झलक! पिता भी 30 साल पहले छोड़ने वाले थे पार्टी

Maharashtra Crisis: उद्धव के तेवर में दिखी बालासाहेब की झलक! पिता भी 30 साल पहले छोड़ने वाले थे पार्टी

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे मर्डर का मास्टरमाइंड इरफान खान गिरफ्तार

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे मर्डर का मास्टरमाइंड इरफान खान गिरफ्तार

Sleeping Pods at railway station: रेलवे ने शुरू की स्लीपिंग पॉड्स की सर्विस, जानें कैसे होगी बुकिंग

Sleeping Pods at railway station: रेलवे ने शुरू की स्लीपिंग पॉड्स की सर्विस, जानें कैसे होगी बुकिंग

Amarnath Yatra में देवदूतों की तरह उतरे फौजी, चंद घंटों में बन दिया पुल

Amarnath Yatra में देवदूतों की तरह उतरे फौजी, चंद घंटों में बन दिया पुल

Maharashtra: बागी विधायकों संग मुंबई पहुंचे एकनाथ शिंदे, विधानसभा में साबित करेंगे बहुमत

Maharashtra: बागी विधायकों संग मुंबई पहुंचे एकनाथ शिंदे, विधानसभा में साबित करेंगे बहुमत

Gujarat Riots Case: तीस्ता सीतलवाड़-श्रीकुमार को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत

Gujarat Riots Case: तीस्ता सीतलवाड़-श्रीकुमार को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत

और वीडियो

Hyderabad: स्वागत पर संग्राम! PM को लेने पहुंचा एक प्रतिनिधि, सिन्हा के लिए पूरी कैबिनेट...KCR भी पहुंचे

Hyderabad: स्वागत पर संग्राम! PM को लेने पहुंचा एक प्रतिनिधि, सिन्हा के लिए पूरी कैबिनेट...KCR भी पहुंचे

Mathura News: दोस्त को फांसी पर लटकाया, UP Police का सिपाही अरेस्ट

Mathura News: दोस्त को फांसी पर लटकाया, UP Police का सिपाही अरेस्ट

Kanhaiya Lal Murder: कोर्ट परिसर में आरोपियों की धुनाई, 12 जुलाई तक NIA को मिली कस्टडी

Kanhaiya Lal Murder: कोर्ट परिसर में आरोपियों की धुनाई, 12 जुलाई तक NIA को मिली कस्टडी

Remark on Prophet Muhammad: नुपूर शर्मा के खिलाफ लुकआउट नोटिस, जानें क्या होगा इसका असर

Remark on Prophet Muhammad: नुपूर शर्मा के खिलाफ लुकआउट नोटिस, जानें क्या होगा इसका असर

Evening News Brief: नुपूर शर्मा के खिलाफ लुकआउट नोटिस, दिल्ली में ऑटो-टैक्सी किराया बढ़ा... 10 बड़ी खबरें

Evening News Brief: नुपूर शर्मा के खिलाफ लुकआउट नोटिस, दिल्ली में ऑटो-टैक्सी किराया बढ़ा... 10 बड़ी खबरें

Maharashtra: उदयपुर पार्ट-2! नुपूर के समर्थन पर हुई अमरावती के उमेश कोल्हे की हत्या?

Maharashtra: उदयपुर पार्ट-2! नुपूर के समर्थन पर हुई अमरावती के उमेश कोल्हे की हत्या?

Punjab में BJP का मेगाप्लान: अमरिंदर की पार्टी का होगा विलय, कैप्टन को मिलेगी नई कमान!

Punjab में BJP का मेगाप्लान: अमरिंदर की पार्टी का होगा विलय, कैप्टन को मिलेगी नई कमान!

WhatsApp ने बैन किए 19 लाख भारतीय अकाउंट्स, इस वजह से हुई कार्रवाई

WhatsApp ने बैन किए 19 लाख भारतीय अकाउंट्स, इस वजह से हुई कार्रवाई

ALT News को-फाउंडर Mohammad Zubair की जमानत याचिका खारिज, 14 दिन की न्यायिक हिरासत

ALT News को-फाउंडर Mohammad Zubair की जमानत याचिका खारिज, 14 दिन की न्यायिक हिरासत

Udaipur Murder: कन्हैया लाल के हत्यारे को कांग्रेस ने बताया BJP कार्यकर्ता, सबूत के लिए दिखाए FB पोस्ट

Udaipur Murder: कन्हैया लाल के हत्यारे को कांग्रेस ने बताया BJP कार्यकर्ता, सबूत के लिए दिखाए FB पोस्ट

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.