हाइलाइट्स

  • देश में खराब होती जा रही है पानी की क्वालिटी
  • भूजल में जहरीली धातुओं की मात्रा तय मानक से ज्यादा
  • देश में ग्राउंड और सरफेस वाटर प्रदूषित
  • प्रदूषित पानी स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक

लेटेस्ट खबर

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Lucknow News : मीठा जहर! रक्षाबंधन की खुशियों पर रसमलाई का ग्रहण! 1 की मौत, 8 लड़ रहे जिंदगी की जंग

Lucknow News : मीठा जहर! रक्षाबंधन की खुशियों पर रसमलाई का ग्रहण! 1 की मौत, 8 लड़ रहे जिंदगी की जंग

Viral video: दिल्ली में युवक की दिनदहाड़े हत्या, CCTV में कैद हो गई वारदात

Viral video: दिल्ली में युवक की दिनदहाड़े हत्या, CCTV में कैद हो गई वारदात

China-Taiwan Tension:अमेरिकी की वजह से फिर बढ़ी Taiwan की टेंशन, सीमा पर मंडरा रहे चीनी fighter plane

China-Taiwan Tension:अमेरिकी की वजह से फिर बढ़ी Taiwan की टेंशन, सीमा पर मंडरा रहे चीनी fighter plane

Nupur Sharma की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियां सतर्क, Salman Rushdi पर हमले के बाद चिंता बढ़ी

Nupur Sharma की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियां सतर्क, Salman Rushdi पर हमले के बाद चिंता बढ़ी

Toxic Water in India: देश की 80% आबादी जहरीला पानी पीने को मजबूर ! डराने वाले हैं केंद्र सरकार के आंकड़ें

देश की आजादी के 75 साल बाद भी पीने का साफ पानी आम आदमी को मयस्सर नहीं है. ये हम नहीं बल्कि खुद सरकार ही स्वीकार रही है. ऐसी हालत तब है जब पूरे देश में बड़े ही तामझाम हर घर नल जल योजना चल रही है

जल ही जीवन है. पानी के बिना इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है. किसी व्यक्ति को जिंदा रहने के लिए पानी कितना जरूरी है. इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हमारे शरीर का करीब 60 फीसदी हिस्सा पानी ही है. बावजूद इसके देश के लोगों को साफ पानी मयस्सर नहीं है. केंद्र सरकार (Union Government) ने अंडर ग्राउंड वाटर (Underground Water) को लेकर राज्यसभा (Rajya Sabha) में जो आंकड़े पेश किए हैं. वो बेहद चौंकाने और डराने वाले हैं.

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक देश के अधिकांश राज्यों के ज्यादातर जिलों में ग्राउंड वाटर में जहरीली धातुओं (Toxic Metals) की मात्रा तय मानक से ज्यादा पाई गई है. देश की 80 फीसदी से ज्यादा आबादी को पीने का पानी ग्राउंड वाटर से मिलता है. लेकिन इस ग्राउंड वाटर में तय मानक से ज्यादा जहरीली धातुओं के होने से यह पानी लोगों के लिए 'जहर' सरीखा हो गया है. खासकर ग्रामीण इलाकों (Rural Areas) में जहां देश की आधी से ज्यादा आबादी रहती है. चूंकि गावों में आज भी पानी का मुख्य स्रोत ग्राउंड वाटर है.

इसे भी पढ़ें: वीकली ऑफ पर Friday vs Tuesday ? झारखंड से बिहार होते हुए यूपी पहुंचा विवाद

लिहाजा शहरों की तुलना में ग्रामीण इलाकों में समस्या और भी गंभीर है. यहां लोग पीने के पानी के लिए हैंडपंप, कुआं या नदी-तालाब (Hand Pump, Well, River-Pond) पर निर्भर रहते हैं. ग्रामीण इलाकों में पानी को साफ करने का कोई व्यवस्था नहीं होती है. ऐसे में लोग जहरीला पानी पीने को मजबूर हैं. हालांकि केंद्र सरकार की हर घर नल-जल योजना (Har Ghar Nal-Jal Yojana) के जरिए साफ पानी पहुंचाने की कोशिशें की जा रही है. लेकिन इस योजना को लेकर कुछ राज्यों की सुस्ती परेशान करने वाली है.

कहां का पानी कितना प्रदूषित ?

केंद्र सरकार के आंकड़ों के मुताबिक देश के 25 राज्यों के 209 जिलों के कुछ हिस्सों में भूजल में आर्सेनिक (Arsenic) की मात्रा 0.01 मिलिग्राम प्रति लीटर से ज्यादा है. 21 राज्यों के 176 जिलों के कुछ हिस्सों में भूजल में सीसा (Lead) तय मानक 0.01 मिलिग्राम प्रति लीटर से अधिक है. वहीं 29 राज्यों के 491 जिलों के कुछ इलाकों के भूजल में आयरन (Iron) की मात्रा 1 मिलिग्राम प्रति लीटर से अधिक है. 18 राज्यों के 152 जिले के इलाकों में भूजल में यूरेनियम (Uranium) 0.03 मिलिग्राम प्रति लीटर से अधिक पाया गया.

इसे भी पढ़ें: Partha Chatterjee पर महिला ने फेंका चप्पल, मंत्री को बताया कैश किंग

16 राज्यों के 62 जिलों के कुछ इलाकों में भूजल में क्रोमियम (Chromium) की मात्रा 0.05 मिलिग्राम प्रति लीटर से ज्यादा मिली है. वहीं 11 राज्यों के 29 जिलों के कुछ हिस्सों के भूजल में कैडमियम (Cadmium) की मात्रा 0.003 मिलिग्राम प्रति लीटर से ज्यादा पाई गई है. सरकार ने राज्यसभा में उन रिहायशी इलाकों की संख्या भी बताए हैं. जहां पीने के पानी के स्रोत प्रदूषित हो चुके हैं. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक 9930 इलाके खारापन, 14079 इलाके आयरन, 814 इलाके आर्सेनिक, 671 इलाके फ्लोराइड, 517 इलाके नाइट्रेट और 111 इलाके भारी धातु से प्रभावित हैं.

दूषित पानी (Polluted Water) स्वास्थ्य के लिए कितना खतरनाक ?

नीति आयोग (NITI Aayog) के मुताबिक देश में ग्राउंड और सरफेस वाटर (Surface Water) दोनों ही अत्यधिक प्रदूषित हैं. वॉटर क्वॉलिटी इंडेक्स (Water Quality Index) के मामले में भारत 122 देशों में 120वें नंबर पर आता है. देश का 70 फीसदी जल दूषित हैं. इसमें बीमारी पैदा करने वाले बैक्टीरिया (Bacteria) के साथ भारी धातुएं मिली हुई हैं. ग्राउंड वाटर में आयरन, सीसा, क्रोमियम, आर्सेनिक, कैडमियम और यूरेनियम की मात्रा तय मानक से ज्यादा होने का सीधा असर हमारे स्वास्थ्य (Health) पर पड़ता है.

इसे भी पढ़ें: National Herald Case: नेशनल हेराल्ड दफ्तर में ED का छापा, छानबीन जारी

बोरॉन (Boron) तंत्रिका तंत्र (Nervous system) को प्रभावित करता है, फ्लोराइड (Fluoride) से दांतों, जोड़ों में समस्या और हड्डियों में विकृति, कैडमियम की ज्यादा मात्रा से ट्यूमर (Tumer) होने और किडनी (Kidney) से जुड़ी बीमारियां, यूरेनियम की ज्यादा मात्रा से किडनी से जुड़ी बीमारियां और कैंसर (Cancer), ज्यादा आर्सेनिक होने से त्वचा (Skin) से जुड़ी बीमारियां और कैंसर, सीसा की ज्यादा मात्रा से नर्वस सिस्टम, ज्यादा आयरन से अल्जाइमर और पार्किंसन (Alzheimer and Parkinson) के साथ-साथ नर्वस सिस्टम से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं.

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक दूषित पानी से हर साल करीब 3.70 करोड़ लोग बीमार पड़ते हैं. करीब 1 करोड़ लोग पीने के पानी में आर्सेनिक की समस्या से जूझ रहे हैं. वहीं करीब 6.6 करोड़ लोग पानी में फ्लोराइड की अधिक मात्रा से पीड़ित हैं. सरकारी आंकड़ों की मानें तो देश में हर साल करीब 3 लाख बच्चों की दूषित पानी से होने वाली बीमारियों से मौत हो जाती है. जिनमें अकेले डायरिया (Diarrhea) से 50 फीसदी से मौतें हो जाती हैं.

इसे भी पढ़ें: Viral video: हवाई जहाज से हो गई मारुति कार की टक्कर! देखें दिलचस्प वीडियो

'हर घर नल' योजना कितनी पास कितनी फेल ?

हालांकि मोदी सरकार (Modi Government) ने आम आदमी को साफ पानी (Clean Water) मुहैया कराने के लिए 15 अगस्त 2019 को हर घर 'नल-जल' योजना का ऐलान किया था. इस योजना के तहत 2024 तक हर घर तक साफ पीने का पानी मुहैया कराने लक्ष्य रखा गया है. जल जीवन मिशन 3.60 लाख करोड़ रुपये की योजना है. बजट 2022 में 'नल से जल योजना' के लिए 60 हजार करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं. इस योजना की शुरुआत के वक्त महज 17 फीसदी आबादी यानि 3.23 करोड़ घरों तक ही ही नल जरिए जल पहुंच रहा था.

जल शक्ति मंत्रालय (Ministry of Jal Shakti) के आंकड़ों की मानें तो 19 जुलाई तक करीब 51.43 फीसदी घरों में नल का पानी पहुंच पाया है. साथ ही ग्रामीण इलाकों के करीब 9.6 करोड़ घरों तक नल-जल पहुंच गया है. इस योजना के तहत जिन 6 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (Union Territories) ने लक्ष्य को हासिल किया है, उनमें गोवा (Goa), तेलंगाना (Telangana), अंडमान निकोबार (Andaman and Nicobar), पुडुचेरी (Puducherry), दादरा नगर हवेली (Dadra Nagar Haveli), दमन और दीव (Daman and Diu) और हरियाणा (Haryana) प्रमुख हैं. वहीं पंजाब (Punjab) 99 %, गुजरात (Gujrat) 95.56%, हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) 92.35% और बिहार (Bihar) 92.72% के साथ 100 फीसदी 'हर घर जल' राज्य बनने की ओर तेजी से बढ़ रहा है.

इसे भी पढ़ें: Al-Zawahiri killed: अलकायदा सरगना के खात्मे का मिशन ऐसे दिया गया अंजाम, जानें CIA का पूरा प्लान

वहीं कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां 25 फीसदी आबादी तक नल-जल की सुविधा नही है. झारखंड (Jharkhand) 20%, छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) 23.24% और राजस्थान (Rajasthan) 24.56% की स्थिति संतोषजनक नहीं है. सबसे खराब स्थिति उत्तर प्रदेश प्रदेश (Uttar Pradesh) की है, जहां सिर्फ 13.74 % घरों तक ही जल-नल पहुंचा है. हालांकि केंद्र सरकार ने राज्य को फंड की कोई कमी नहीं होने दी. जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission) के क्रियान्वयन के लिए केंद्र सरकार ने 2019-20 में यूपी को 1,206 करोड़, 2020-21 में 2,571 करोड़ और 2021-22 के लिए 108.7 अरब रुपये आवंटित किए. दक्षिण राज्यों में भी स्थिति कमोबेश खराब ही है. साफ है, देश के अलग-अलग हिस्सों में भूजल की जो स्थिति है. उसे कहीं से भी स्वास्थ्य के लिए बेहतर नहीं कहा जा सकता है.

एक क्लिक में कॉमनवेल्थ से जुड़ी हर बड़ी खबर

अप नेक्स्ट

Toxic Water in India: देश की 80% आबादी जहरीला पानी पीने को मजबूर ! डराने वाले हैं केंद्र सरकार के आंकड़ें

Toxic Water in India: देश की 80% आबादी जहरीला पानी पीने को मजबूर ! डराने वाले हैं केंद्र सरकार के आंकड़ें

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Atal Bihari Vajpayee: जब राजीव गांधी ने उड़ाया वाजपेयी का मजाक! 1984 का चुनावी किस्सा | Jharokha 16 Aug

Lucknow News : मीठा जहर! रक्षाबंधन की खुशियों पर रसमलाई का ग्रहण! 1 की मौत, 8 लड़ रहे जिंदगी की जंग

Lucknow News : मीठा जहर! रक्षाबंधन की खुशियों पर रसमलाई का ग्रहण! 1 की मौत, 8 लड़ रहे जिंदगी की जंग

Viral video: दिल्ली में युवक की दिनदहाड़े हत्या, CCTV में कैद हो गई वारदात

Viral video: दिल्ली में युवक की दिनदहाड़े हत्या, CCTV में कैद हो गई वारदात

Nupur Sharma की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियां सतर्क, Salman Rushdi पर हमले के बाद चिंता बढ़ी

Nupur Sharma की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियां सतर्क, Salman Rushdi पर हमले के बाद चिंता बढ़ी

Independence Day: श्रीनगर के लाल चौक पर ‘वंदे मातरम...’ नारों से गूंज उठी घाटी

Independence Day: श्रीनगर के लाल चौक पर ‘वंदे मातरम...’ नारों से गूंज उठी घाटी

और वीडियो

Evening News Brief: स्वतंत्रता दिवस पर सरकारी कर्मचारियों को मिला तोहफा, गहलोत सरकार मुश्किल में?

Evening News Brief: स्वतंत्रता दिवस पर सरकारी कर्मचारियों को मिला तोहफा, गहलोत सरकार मुश्किल में?

Sonia Gandhi का मोदी सरकार पर हमला, 'स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों को तुच्छ साबित करने पर तुली सरकार'

Sonia Gandhi का मोदी सरकार पर हमला, 'स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों को तुच्छ साबित करने पर तुली सरकार'

Independence Day: कांग्रेस ने निकाली आजादी गौरव यात्रा, बोलीं प्रियंका- राजनीति नहीं देश के लिए हों एकजुट

Independence Day: कांग्रेस ने निकाली आजादी गौरव यात्रा, बोलीं प्रियंका- राजनीति नहीं देश के लिए हों एकजुट

Har Ghar Tiranga: दुबई में 'आजादी का अमृत महोत्सव' की धूम, देखकर पीएम मोदी भी हुए प्रसन्न

Har Ghar Tiranga: दुबई में 'आजादी का अमृत महोत्सव' की धूम, देखकर पीएम मोदी भी हुए प्रसन्न

Mukesh Ambani Threat: फिर अंबानी परिवार को मिली जान से मारने की धमकी, पुलिस ने किया अरेस्ट

Mukesh Ambani Threat: फिर अंबानी परिवार को मिली जान से मारने की धमकी, पुलिस ने किया अरेस्ट

Siachen Soldier Chandrashekhar Harbola: 38 साल बाद शहीद का होगा अंतिम संस्कार

Siachen Soldier Chandrashekhar Harbola: 38 साल बाद शहीद का होगा अंतिम संस्कार

Nitish Kumar: इस मामले में तेजस्वी से एक कदम आगे निकले नीतीश, गांधी मैदान से कर दिया बड़ा ऐलान

Nitish Kumar: इस मामले में तेजस्वी से एक कदम आगे निकले नीतीश, गांधी मैदान से कर दिया बड़ा ऐलान

Made in India Howitzer: पहली बार दागी गईं स्वदेशी तोप, सलामी से निखरा आजादी का रंग, जानिए ATAGS की ताकत

Made in India Howitzer: पहली बार दागी गईं स्वदेशी तोप, सलामी से निखरा आजादी का रंग, जानिए ATAGS की ताकत

RSS: मोहन भागवत ने नागपुर में RSS मुख्यालय पर फहराया तिरंगा, कहा- देश को आजादी लम्बे संघर्ष के बाद मिली

RSS: मोहन भागवत ने नागपुर में RSS मुख्यालय पर फहराया तिरंगा, कहा- देश को आजादी लम्बे संघर्ष के बाद मिली

PM Modi: बच्चों से मिलने के लिए PM ने तोड़ा प्रोटोकॉल, ऐसा था बच्चों का रिएक्शन, देखें Video

PM Modi: बच्चों से मिलने के लिए PM ने तोड़ा प्रोटोकॉल, ऐसा था बच्चों का रिएक्शन, देखें Video

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.