हाइलाइट्स

  • बालमुकुंद बिस्सा की प्रतिमा पर ध्वज लगाने को लेकर विवाद
  • लंबे समय तक जोधपुर की जेल में बंद रहे
  • बिस्सा को जून के महीने में गिरफ्तार किया गया था

लेटेस्ट खबर

देवी-देवताओं की फोटो पर नॉनवेज बेचनेवाले के समर्थन में उतरे SP सांसद शफीकुर्रहमान बर्क, बताया बेकसूर

देवी-देवताओं की फोटो पर नॉनवेज बेचनेवाले के समर्थन में उतरे SP सांसद शफीकुर्रहमान बर्क, बताया बेकसूर

Bihar News: 98 घंटे में 38 km लंबी सड़क का निर्माण...बिहार में रचा गया नया कीर्तिमान

Bihar News: 98 घंटे में 38 km लंबी सड़क का निर्माण...बिहार में रचा गया नया कीर्तिमान

Todays Histotory, 6th July: गांधी को सबसे पहले राष्ट्रपिता उसने कहा जिससे उनके गहरे मतभेद थे!

Todays Histotory, 6th July: गांधी को सबसे पहले राष्ट्रपिता उसने कहा जिससे उनके गहरे मतभेद थे!

Delhi Weather News: काली घटा को तरसे मन, दिल्ली से क्यों रूठा है मानसून ?

Delhi Weather News: काली घटा को तरसे मन, दिल्ली से क्यों रूठा है मानसून ?

New Labour Code: हफ्ते में 4 दिन काम- 3 दिन आराम, लेकिन अभी करना होगा इंतजार!

New Labour Code: हफ्ते में 4 दिन काम- 3 दिन आराम, लेकिन अभी करना होगा इंतजार!

Jodhpur: बालमुकुंद बिस्सा थे कौन, जिनकी मूर्ति पर झंडा लगाने पर भड़की हिंसा

राजस्थान के जोधपुर में जिस स्वतंत्रता सेनानी की मूर्ति पर धार्मिक झंडा लगाने को लेकर विवाद हुआ, उनका नाम बालमुकुंद बिस्सा ( Balmukund Bissa ) है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये कौन थे.

राजस्थान के जोधपुर में जिस स्वतंत्रता सेनानी की मूर्ति पर धार्मिक झंडा लगाने को लेकर विवाद हुआ, उनका नाम बालमुकुंद बिस्सा ( Balmukund Bissa ) है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये कौन थे. नागौर में डीडवाना के पीलवा गांव में जन्में बालमुकुंद बिस्सा ( Balmukund Bissa ) एक स्वतंत्रता सेनानी थे. उनका जन्म 24 दिसंबर 1908 को हुआ था. बिस्सा का संबंध पुष्करणा ब्राह्मण समाज से था. उनके पिता, कोलकाता में व्यापार करते थे. लिहाजा पूरा परिवार वहीं पर रहता है. बालमुकुंद बिस्सा की पढ़ाई भी कोलकाता में ही हुई थी. साल 1934 में वे कोलकाता से जोधपुर लौटे, और यहीं पर व्यापार करना शुरू कर दिया.

बालमुकुंद बिस्सा महात्मा गांधी के विचारों ( Mahatma Gandhi Thoughts ) से काफी प्रभावित थे. साल 1934 में उन्होंने चरखा एजेंसी और खादी भंडार की स्थापना की थी. बिस्सा की "जवाहर खादी" नाम की दुकान आजादी की लड़ाई में भाग लेने वाले क्रांतिकारियों के मिलने और रणनीति बनाने का ठिकाना बन गई थी.

ये भी देखें- Jodhpur Violence: जोधपुर में नहीं थम रहा तनाव, 10 थाना क्षेत्रों में लगाया गया कर्फ्यू

1942 में मारवाड़ में जयनारायण व्यास के नेतृत्व में जन आंदोलन चल रहा था. बालमुकुंद बिस्सा ने इस आंदोलन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था. तब देश में आजादी की लड़ाई आखिरी मोड़ पर थी. अंग्रेज सरकार ने बढ़ते आंदोलन को दबाने के लिए 9 जून 1942 को 'भारत रक्षा कानून' के तहत बालमुकुंद बिस्सा को जेल में डाल दिया. वे लंबे समय तक जोधपुर की जेल में बंद रहे. इस दौरान उन्होंने कैदियों को मिलने वाले खराब भोजन के खिलाफ जेल में ही गांधीवादी तरीके से भूख हड़ताल शुरू कर दी थी.

बिस्सा को जून के महीने में गिरफ्तार किया गया था. भीषण गर्मी और भूख हड़ताल की वजह से उनका स्वास्थ्य गिरने लगा. बाद में उनकी तबीयत बहुत बिगड़ गई. इलाज़ के लिए उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका और मात्र 34 साल की उम्र में ही 1942 में उनका निधन हो गया था.

ये भी देखें- Jodhpur Violence: ईद पर जोधपुर में फिर से बवाल...जानिए क्या है फसाद की वजह ?

जोधपुर में ईद पर क्यों भड़की हिंसा || How Violence Started in Jodhpur?

जोधपुर में 3 दिवसीय परशुराम उत्सव चल रहा है. जालोरी गेट इलाके में बालमुकुंद बिस्सा की प्रतिमा है. यहां चौराहे और आसपास के क्षेत्र में ब्राह्मण समाज के लोगों ने भगवा ध्वज लगा दिए थे, जबकि ईद के मौके पर यहां मुस्लिम समुदाय अपने ध्वज लगाता आया है. सोमवार को इसी पर विवाद बढ़ा तो पुलिस ने बालमुकुंद बिस्सा की प्रतिमा पर तिरंगा लगा दिया लेकिन देर रात समुदाय विशेष ने इसपर अपने धर्म का ध्वज लगा दिया. यहीं से बवाल की शुरुआत हुई और चौराहे पर खड़ी कई गाड़ियों के कांच फोड़ दिए गए. पुलिस ने मामले को शांत करने के लिए हल्का बल प्रयोग किया, साथ ही जालौरी गेट की तरफ जाने वाले सभी रास्ते बंद कर दिए हैं.

अप नेक्स्ट

Jodhpur: बालमुकुंद बिस्सा थे कौन, जिनकी मूर्ति पर झंडा लगाने पर भड़की हिंसा

Jodhpur: बालमुकुंद बिस्सा थे कौन, जिनकी मूर्ति पर झंडा लगाने पर भड़की हिंसा

देवी-देवताओं की फोटो पर नॉनवेज बेचनेवाले के समर्थन में उतरे SP सांसद शफीकुर्रहमान बर्क, बताया बेकसूर

देवी-देवताओं की फोटो पर नॉनवेज बेचनेवाले के समर्थन में उतरे SP सांसद शफीकुर्रहमान बर्क, बताया बेकसूर

Bihar News: 98 घंटे में 38 km लंबी सड़क का निर्माण...बिहार में रचा गया नया कीर्तिमान

Bihar News: 98 घंटे में 38 km लंबी सड़क का निर्माण...बिहार में रचा गया नया कीर्तिमान

Todays Histotory, 6th July: गांधी को सबसे पहले राष्ट्रपिता उसने कहा जिससे उनके गहरे मतभेद थे!

Todays Histotory, 6th July: गांधी को सबसे पहले राष्ट्रपिता उसने कहा जिससे उनके गहरे मतभेद थे!

Delhi Weather News: काली घटा को तरसे मन, दिल्ली से क्यों रूठा है मानसून ?

Delhi Weather News: काली घटा को तरसे मन, दिल्ली से क्यों रूठा है मानसून ?

New Labour Code: हफ्ते में 4 दिन काम- 3 दिन आराम, लेकिन अभी करना होगा इंतजार!

New Labour Code: हफ्ते में 4 दिन काम- 3 दिन आराम, लेकिन अभी करना होगा इंतजार!

और वीडियो

Rahul Gandhi: 'सभी चोरों का नाम मोदी क्यों' राहुल गांधी को बोलना पड़ा महंगा, झारखंड HC का एक्शन

Rahul Gandhi: 'सभी चोरों का नाम मोदी क्यों' राहुल गांधी को बोलना पड़ा महंगा, झारखंड HC का एक्शन

यहां 75% Muslims इसलिए बच्चे नहीं जोड़ेंगे हाथ, स्कूल की प्रार्थना भी बदली...Jharkhand में ठोका गया दावा

यहां 75% Muslims इसलिए बच्चे नहीं जोड़ेंगे हाथ, स्कूल की प्रार्थना भी बदली...Jharkhand में ठोका गया दावा

Chandrashekhar guruji Murder: वास्तु शास्त्री चंद्रशेखर गुरुजी की चाकू मारकर हत्या, CCTV फुटेज आया सामने

Chandrashekhar guruji Murder: वास्तु शास्त्री चंद्रशेखर गुरुजी की चाकू मारकर हत्या, CCTV फुटेज आया सामने

Landslide का LIVE वीडियो, ठाणे में चलते हाइवे पर गिर रहे पत्थर

Landslide का LIVE वीडियो, ठाणे में चलते हाइवे पर गिर रहे पत्थर

Amravati हत्याकांड का सबसे नया VIDEO, दरिदों के एक ही वार में गिर जाते हैं Umesh Kolhe

Amravati हत्याकांड का सबसे नया VIDEO, दरिदों के एक ही वार में गिर जाते हैं Umesh Kolhe

UP News: आजम खान के परिवार पर ED का शिकंजा, बेटे अब्दुल्ला और पत्नी को ED का नोटिस

UP News: आजम खान के परिवार पर ED का शिकंजा, बेटे अब्दुल्ला और पत्नी को ED का नोटिस

Evening News Brief: 75% मुस्लिम, हाथ नहीं जोड़ेंगे! , 'काली मांस खाने-शराब पीने वाली देवी'...देखे Top-10

Evening News Brief: 75% मुस्लिम, हाथ नहीं जोड़ेंगे! , 'काली मांस खाने-शराब पीने वाली देवी'...देखे Top-10

Nupur Sharma Case: नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी का विरोध,117 गणमान्य लोगों ने CJI से की शिकायत

Nupur Sharma Case: नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी का विरोध,117 गणमान्य लोगों ने CJI से की शिकायत

Salman Khan के अंदाज में दिखें CM एकनाथ, बोले-एक बार जो कमिटमेंट कर दी, उसके बाद मैं खुद की भी नहीं सुनता

Salman Khan के अंदाज में दिखें CM एकनाथ, बोले-एक बार जो कमिटमेंट कर दी, उसके बाद मैं खुद की भी नहीं सुनता

Firing in Court: पंजाब के मोगा जिला कोर्ट परिसर में फायरिंग, पेशी के लिए आए दो गुट भिड़े

Firing in Court: पंजाब के मोगा जिला कोर्ट परिसर में फायरिंग, पेशी के लिए आए दो गुट भिड़े

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.