हाइलाइट्स

  • अग्निवीर 4 साल तक सेवाएं देंगे
  • सेना में दाखिले के लिए NDA में होता है दाखिला
  • नेवी में एंट्री एक अधिकारी या एक सेलर के तौर पर

लेटेस्ट खबर

IND vs ENG: टीम इंडिया के नाम रहा रिशेड्यूल टेस्ट का पहला दिन, पंत-जडेजा ने जमाया बल्ले से जमकर रंग

IND vs ENG: टीम इंडिया के नाम रहा रिशेड्यूल टेस्ट का पहला दिन, पंत-जडेजा ने जमाया बल्ले से जमकर रंग

Single Use Plastic: 5 साल जेल, एक लाख जुर्माना...प्लास्टिक के इन 19 उत्पादों का इस्तेमाल करना पड़ेगा भारी

Single Use Plastic: 5 साल जेल, एक लाख जुर्माना...प्लास्टिक के इन 19 उत्पादों का इस्तेमाल करना पड़ेगा भारी

कौन हैं Justice Suryakant? जिन्होंने पैगंबर मोहम्मद मामले में Nupur Sharma को लगाई कड़ी फटकार

कौन हैं Justice Suryakant? जिन्होंने पैगंबर मोहम्मद मामले में Nupur Sharma को लगाई कड़ी फटकार

Nupur Sharma नहीं, PM-गृहमंत्री-BJP-RSS फैला रहे हैं नफरत: Rahul Gandhi

Nupur Sharma नहीं, PM-गृहमंत्री-BJP-RSS फैला रहे हैं नफरत: Rahul Gandhi

Viral Video: महिला कांस्टेबल ने ड्यूटी के दौरान बनाई रील, SP ने 3 सिपाहियों को किया सस्पेंड

Viral Video: महिला कांस्टेबल ने ड्यूटी के दौरान बनाई रील, SP ने 3 सिपाहियों को किया सस्पेंड

Agnipath Scheme: स्थायी कमीशन और शॉर्ट सर्विस कमीशन से कैसे अलग है 'अग्निपथ स्कीम'? पूरी डिटेल

सैन्य बलों की अग्निपथ स्कीम किस तरह से सेना में स्थायी कमीशन और शॉर्ट सर्विस कमीशन से अलग है, आइए जानते हैं इस आर्टिकल में...

Agnipath Scheme: भारत की तीनों सेनाओं द्वारा 'अग्निपथ' स्कीम ( Agnipath Scheme ) के ऐलान के साथ ही इस योजना की भारतीय सशस्त्र सेनाओं ( Indian Armed Forces ) में स्थायी कमीशन और शॉर्ट सर्विस कमीशन वाले रिक्रूटमेंट सिस्टम के साथ तुलना शुरू हो गई है. आइए जानते हैं कि सैन्य बलों में स्थायी कमीशन, शॉर्ट सर्विस कमीशन किस तरह से अग्निपथ स्कीम से अलग है?

कितने साल की सेवा?

परमानेंट कमीशन का मतलब है, रिटायरमेंट तक सशस्त्र बलों में करियर... वहीं, शॉर्ट सर्विस कमीशन के तहत, सेना 4 साल के विस्तार के विकल्प के साथ 10 साल की सेवा की अनुमति देती है. अग्निपथ योजना के तहत, अग्निवीर 4 साल तक सेवाएं देंगे.

ये भी देखें- Agnipath Scheme Protest: अग्निपथ स्कीम पर भड़के 'अग्निवीर', मोदी सरकार की 'तपस्या' में कहां रह गई कमी?

दाखिला या सीधी भर्ती?

सेना में स्थायी कमीशन के लिए कैंडिडेट को नेशनल डिफेंस अकैडमी या इंडियन मिलिट्री अकैडमी में दाखिला लेना होता है. शॉर्ट सर्विस कमीशन के तहत सैनिक अपना कार्यकाल खत्म होने पर स्थायी कमीशन के लिए आवेदन कर सकते हैं. वहीं, अग्निवीर सैनिक भी 4 साल बाद नियमित कैडर में शामिल होने के लिए आवेदन कर सकते हैं.

सैन्य बलों में भर्ती के लिए योग्यता

सेना में स्थायी कमीशन के लिए, ऐप्लिकेंट 11 वीं कक्षा के बाद एनडीए परीक्षा में बैठ सकते हैं. आईएमए में एंट्री के लिए 4 कैटिगरी हैं. शॉर्ट सर्विस कमीशन के लिए चेन्नई में ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में ट्रेनिंग होती है. अग्निपथ के लिए, ऐप्लिकेंट 10वीं या 12वीं पूरी करने के बाद आवेदन कर सकते हैं.

ये भी देखें- Agnipath Scheme: भर्ती के लिए सरकार ने बढ़ाई Age Limit, उम्र पार कर चुके युवाओं को केंद्र का बड़ा तोहफा

इंडियन एयरफोर्स में स्थायी कमीशन के लिए, 12वीं या ग्रेजुएशन के बाद आवेदन की इजाजत है. एयर फोर्स के फ्लाइंग ब्रांच में शॉर्ट सर्विस कमिशन के लिए, बिना विस्तार के 14 साल की सेवा की जरूरत होती है. अग्निपथ के लिए साढ़े 17 से 21 साल के ऐप्लिकेंट आवेदन कर सकते हैं.

एयरफोर्स के स्थायी कमीशन में शामिल होने के लिए, उम्मीदवारों के पास NDA, AFCAT, CDSE, NCC स्पेशल एंट्री, या Met एंट्री जैसे ऑप्शन हैं. ग्राउंड ड्यूटी में एयरफोर्स के शॉर्ट सर्विस कमीशन के लिए, 4 साल के विस्तार के विकल्प के साथ 10 साल उपलब्ध रहते हैं. इस बीच, अग्निपथ के तहत सेना में शामिल होने के लिए मेडिकल या फिटनेस मानदंड मौजूदा नियमों के अनुसार ही हैं.

स्थायी कमीशन के लिए, इंडियन नेवी को एक अधिकारी या एक सेलर के तौर पर जॉइन किया जा सकता है. नेवी के शॉर्ट सर्विस कमीशन के लिए 10 साल का कार्यकाल उपलब्ध है. इस बीच, अग्निपथ में सेवामुक्ति पर एकमुश्त मिलने वाली रकम है और नॉन कॉन्ट्रिब्यूटरी इंश्योरेंस है.

नौसेना में स्थायी कमीशन के लिए एनडीए, सीडीएस, UES या BTech के ऑप्शन हैं. नेवी में शॉर्ट सर्विस कमीशन को 4 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है. अग्निपथ योजना में डेथ और डिसैबिलिटी अलाउंस भी शामिल है.

सरकार और ऐप्लिकेंट को क्या फायदा?

अग्निपथ योजना, सुरक्षाबलों और सरकार को कई फायदे भी देती है. इस स्कीम की घोषणा ऐसे समय की गई है, जब कोविड-19 महामारी की वजह से सेना में 2 साल से कोई भर्ती नहीं हुई है. ऐसे में अग्निपथ स्कीम नौकरी का मौका देगी.

ये भी देखें- Agnipath Recruitment Scheme: इजरायल-अमेरिका में भी 'अग्निपथ' जैसी स्कीम, जानें और भी देशों का हाल

अग्निपथ स्कीम की वजह से सैन्यबलों में औसत आयु 32 से घटाकर 26 साल की जाएगी. जब सेना में 1 लाख खाली जगहें होंगी तो अग्निपथ एक बड़ा ऐप्लिकेंट पूल बन जाएगा. इससे सशस्त्र बलों के लिए सरकार के पेंशन बिल में भी कमी आने की उम्मीद है. इसके साथ ही, मूल प्रस्ताव के अनुसार, सरकार को एक सैनिक पर खर्च की गई लागत पर लगभग 11 करोड़ रुपये के बचत होने की संभावना है.

अप नेक्स्ट

Agnipath Scheme: स्थायी कमीशन और शॉर्ट सर्विस कमीशन से कैसे अलग है 'अग्निपथ स्कीम'? पूरी डिटेल

Agnipath Scheme: स्थायी कमीशन और शॉर्ट सर्विस कमीशन से कैसे अलग है 'अग्निपथ स्कीम'? पूरी डिटेल

Single Use Plastic: 5 साल जेल, एक लाख जुर्माना...प्लास्टिक के इन 19 उत्पादों का इस्तेमाल करना पड़ेगा भारी

Single Use Plastic: 5 साल जेल, एक लाख जुर्माना...प्लास्टिक के इन 19 उत्पादों का इस्तेमाल करना पड़ेगा भारी

कौन हैं Justice Suryakant? जिन्होंने पैगंबर मोहम्मद मामले में Nupur Sharma को लगाई कड़ी फटकार

कौन हैं Justice Suryakant? जिन्होंने पैगंबर मोहम्मद मामले में Nupur Sharma को लगाई कड़ी फटकार

Nupur Sharma नहीं, PM-गृहमंत्री-BJP-RSS फैला रहे हैं नफरत: Rahul Gandhi

Nupur Sharma नहीं, PM-गृहमंत्री-BJP-RSS फैला रहे हैं नफरत: Rahul Gandhi

Abortion Pills: 15 साल की नाबालिग के लिए काल बनी गर्भपात की गोली, गई जान

Abortion Pills: 15 साल की नाबालिग के लिए काल बनी गर्भपात की गोली, गई जान

Presidential Election: क्या NDA में होगी अकाली दल की वापसी? द्रौपदी मुर्मू के रास्ते यूटर्न लेगी SAD!

Presidential Election: क्या NDA में होगी अकाली दल की वापसी? द्रौपदी मुर्मू के रास्ते यूटर्न लेगी SAD!

और वीडियो

Heavy rains: दो दिन की बारिश में खुल गई महानगरों की पोल, बिहार में बदहाली शाप नहीं Trend!

Heavy rains: दो दिन की बारिश में खुल गई महानगरों की पोल, बिहार में बदहाली शाप नहीं Trend!

UP के घर-घर में नौकरी पहुंचाएगी Yogi सरकार? जानिए सीएम योगी के 'परिवार कार्ड' के बारे में

UP के घर-घर में नौकरी पहुंचाएगी Yogi सरकार? जानिए सीएम योगी के 'परिवार कार्ड' के बारे में

Uddhav on BJP: 'तब अमित शाह मेरी बात मान लेते, तो ये न होता', सत्ता जाने के बाद सामने आए उद्धव

Uddhav on BJP: 'तब अमित शाह मेरी बात मान लेते, तो ये न होता', सत्ता जाने के बाद सामने आए उद्धव

Evening News Brief: 40रु में घुटने का इलाज करा रहे Dhoni, SRK के 'लाल' Aaryan को पासपोर्ट का इंतजार

Evening News Brief: 40रु में घुटने का इलाज करा रहे Dhoni, SRK के 'लाल' Aaryan को पासपोर्ट का इंतजार

Bihar में तेजस्वी यादव ने बनाई सरकार! जानें क्या है पूरा खेल?

Bihar में तेजस्वी यादव ने बनाई सरकार! जानें क्या है पूरा खेल?

Patna Bomb Blast: पटना सिविल कोर्ट में फटा बम, दारोगा घायल...मची भगदड़

Patna Bomb Blast: पटना सिविल कोर्ट में फटा बम, दारोगा घायल...मची भगदड़

Diesel पर 13 रुपए तो Petrol पर 6 रुपए एक्साइज ड्यूटी बढ़ी, Gold की कीमतों में भी लगेगी आग

Diesel पर 13 रुपए तो Petrol पर 6 रुपए एक्साइज ड्यूटी बढ़ी, Gold की कीमतों में भी लगेगी आग

BJP पर भड़कीं रेणुका चौधरी, बोलीं- क्या पार्टी में कोई मर्द नहीं, जो नूपुर को बनाया बलि का बकरा

BJP पर भड़कीं रेणुका चौधरी, बोलीं- क्या पार्टी में कोई मर्द नहीं, जो नूपुर को बनाया बलि का बकरा

Assam: सिसोदिया पर हिमंता ने किया मानहानि केस, डिप्टी CM ने लगाए थे करप्शन के आरोप

Assam: सिसोदिया पर हिमंता ने किया मानहानि केस, डिप्टी CM ने लगाए थे करप्शन के आरोप

Maharashtra: सत्ता जाने के बाद शिवसेना फिर आक्रामक, बागियों के खिलाफ पहुंची सुप्रीम कोर्ट

Maharashtra: सत्ता जाने के बाद शिवसेना फिर आक्रामक, बागियों के खिलाफ पहुंची सुप्रीम कोर्ट

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.