हाइलाइट्स

  • 320 एकड़ के 340 कमरे वाले भवन में रहते हैं राष्ट्रपति
  • भारत के राष्ट्रपति को 5 लाख रुपये सैलरी मिलती है
  • पूर्व राष्ट्रपति को भी मिलती है कई सुविधाएं
  • राष्ट्रपति के स्पेशल बॉडीगार्ड होते हैं

लेटेस्ट खबर

Viral video: मां ने बच्चे को कोबरा से बचाया, हैरान कर देगा वीडियो

Viral video: मां ने बच्चे को कोबरा से बचाया, हैरान कर देगा वीडियो

Jammu and Kashmir: आतंकवाद के खिलाफ उपराज्यपाल का कड़ा कदम, 4 सरकारी कर्मचारी को किया बर्खास्त 

Jammu and Kashmir: आतंकवाद के खिलाफ उपराज्यपाल का कड़ा कदम, 4 सरकारी कर्मचारी को किया बर्खास्त 

Yati Narsinghanand: पुलिस के निशाने पर यति नरसिंहानंद, तिरंगा को लेकर दिया था विवादित बयान

Yati Narsinghanand: पुलिस के निशाने पर यति नरसिंहानंद, तिरंगा को लेकर दिया था विवादित बयान

Box Office Collection: खास कमाल नहीं दिखा पाई 'लाल सिंह चड्ढा' और 'रक्षाबंधन', ये रहा बॉक्स ऑफिस कलेक्शन

Box Office Collection: खास कमाल नहीं दिखा पाई 'लाल सिंह चड्ढा' और 'रक्षाबंधन', ये रहा बॉक्स ऑफिस कलेक्शन

Viral Video: नोएडा में महिला ने ई-रिक्शा चालक की सरेआम की पिटाई, कार से टच होने पर हंगामा

Viral Video: नोएडा में महिला ने ई-रिक्शा चालक की सरेआम की पिटाई, कार से टच होने पर हंगामा

President of India: 5 लाख सैलरी, 340 कमरों का शाही भवन, जानें राष्ट्रपति और पूर्व राष्ट्रपति की सुविधाएं

President of India: क्या आपको पता है कि भारत के प्रथम नागरिक को कितनी सैलरी (President of India Salary 2022) मिलती है ? उनके अधिकार क्या-क्या हैं ? राष्ट्रपति और पूर्व राष्ट्रपति को सुविधाएं कितनी मिलती है ? इस रिपोर्ट में जानें हर जवाब हैं.

Indian President Salary Allowance & Facilities : द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) के रूप में भारत को अपना 15वां राष्ट्रपति मिल चुका है. इससे पहले वो 2015 से 2021 तक झारखण्ड की राज्यपाल थीं. राष्ट्रपति भारत (President of India ) का सर्वोच्च पद है. इस पद की सैलरी, सुविधा, शक्तियां और ताकत (President Facility and Allowance) सब खास हैं. तो ये जानना भी जरूरी है कि 320 एकड़ में फैले 340 कमरों वाले इस शाही आलीशान भवन में रहने वाले राष्ट्रपति की सैलरी, सुविधाएं और क्या-क्या अधिकार हैं ?

एक क्लिक पर जानें Latest Hindi News

राष्ट्रपति को सैलरी और सुविधाएं क्या-क्या है ?

• राष्ट्रपति को हर महीने 5 लाख रुपये सैलरी, पूरी तरह टैक्स फ्री
• रहने के लिए 320 एकड़ में फैला 340 कमरों वाला राष्ट्रपति भवन
• राष्ट्रपति और उनके लाइफ पार्टनर को दुनियाभर में फ्री यात्रा की सुविधा

• राष्ट्रपति को जीवन भर फ्री मेडिकल सुविधा मिलती है
• घर, बिजली, फोन बिल सहित अन्य भत्ते हैं मिलते
• आने-जाने के लिए Mercedes-Benz S 600 Pullman Guard गाड़ी
• राष्ट्रपति के फ्लीट में मौजूद होती हैं 25 गाड़ियां
• राष्ट्रपति के पास 86 स्पेशल प्रेसिडेन्शियल बॉडीगार्ड होते हैं
• राष्ट्रपति भवन पर हर साल करीब 2.25 करोड़ का खर्च होता है
5 सेक्रेटेरियल स्टाफ और 200 लोग राष्ट्रपति भवन की देखरेख में रहते हैं

Delhi: केजरीवाल सरकार की नई एक्साइज पॉलिसी की CBI जांच की सिफारिश, LG ने लिया एक्शन

राष्ट्रपति के पास कौन-कौन सी शक्तियां होतीं हैं ?

• भारत में राष्ट्रपति तीनों सेनाओं के सुप्रीम कमांडर हैं
• प्रधानमंत्री की नियुक्ति करना और संविधान का संरक्षण करना
• मनी बिल को छोड़कर किसी भी बिल को पुनर्विचार को भेज सकते हैं
• भारत में राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बिना कोई कानून नहीं बन सकता
• आपातकाल लागू करने का अधिकार, फांसी की सजा माफ की शक्ति
• दोषियों की सजा माफ, निलंबित या खत्म करने का अधिकार
• अध्यादेश जारी करने का अधिकार, चीफ जस्टिस, चुनाव आयुक्त की नियुक्ति
• वित्तीय आपातकाल लागू करना, बिल पास करने के लिए मंजूरी

पूर्व राष्ट्रपति को क्या-क्या सुविधाएं ?

• सैलरी की आधी यानी 2.5 लाख रुपये पेंशन
• पूर्व राष्ट्रपति को रहने के लिए मुफ्त बंगला
• एक मोबाइल फोन, दो फ्री लैंडलाइन फोन
• स्टाफ के खर्च के लिए मिलते हैं 60 हजार रुपये
• एक सहयोगी के साथ ट्रेन या हवाई मार्ग से यात्रा करने की सुविधा
• दिल्ली पुलिस की सिक्योरिटी और 2 सेक्रेटरी

सिर्फ इतना ही नहीं, राष्ट्रपति के कार्यकाल के दौरान उनके खिलाफ किसी भी अदालत से गिरफ्तारी या कारावास की कोई प्रक्रिया जारी नहीं की जा सकती है.

Presidential Election: विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने द्रौपदी मुर्मू को दी बधाई, BJP पर साधा निशाना

अप नेक्स्ट

President of India: 5 लाख सैलरी, 340 कमरों का शाही भवन, जानें राष्ट्रपति और पूर्व राष्ट्रपति की सुविधाएं

President of India: 5 लाख सैलरी, 340 कमरों का शाही भवन, जानें राष्ट्रपति और पूर्व राष्ट्रपति की सुविधाएं

Nitish Kumar: हर चुनाव से पहले पलट जाते हैं नीतीश कुमार, जानिए कब-कब पलटी मारी, लेकिन बने रहे CM

Nitish Kumar: हर चुनाव से पहले पलट जाते हैं नीतीश कुमार, जानिए कब-कब पलटी मारी, लेकिन बने रहे CM

60 दुकानें, नोएडा अथॉरिटी में भी सांठगांठ...'गालीबाज' Shrikant Tyagi है अथाह संपत्ति का मालिक

60 दुकानें, नोएडा अथॉरिटी में भी सांठगांठ...'गालीबाज' Shrikant Tyagi है अथाह संपत्ति का मालिक

Taiwan Vs China: ताइवान के 10 'ब्रह्मास्त्र' जो चीन को चटा देंगे धूल, उड़ जाएंगे 'ड्रैगन' के होश

Taiwan Vs China: ताइवान के 10 'ब्रह्मास्त्र' जो चीन को चटा देंगे धूल, उड़ जाएंगे 'ड्रैगन' के होश

Who was Al-Zawahiri: कौन था दुनिया का दुश्मन अल जवाहिरी? रोचक है लादेन के सिपहसालार की कहानी

Who was Al-Zawahiri: कौन था दुनिया का दुश्मन अल जवाहिरी? रोचक है लादेन के सिपहसालार की कहानी

'SEX की गलती से होगा Monkeypox',  WHO ने जारी की पुरुषों के लिए गाइडलाइंस

'SEX की गलती से होगा Monkeypox', WHO ने जारी की पुरुषों के लिए गाइडलाइंस

और वीडियो

Explained: रिटायरमेंट के बाद पूर्व राष्ट्रपति जीते हैं आलीशान जिंदगी, जानें क्या सुविधाएं मिलती हैं

Explained: रिटायरमेंट के बाद पूर्व राष्ट्रपति जीते हैं आलीशान जिंदगी, जानें क्या सुविधाएं मिलती हैं

पति को तलाक, भागकर शादी और घूंघट को ना...जानें Draupadi Murmu के आदिवासी समुदाय की 15 रोचक बातें

पति को तलाक, भागकर शादी और घूंघट को ना...जानें Draupadi Murmu के आदिवासी समुदाय की 15 रोचक बातें

Exit Poll Results 2022: जानें कब कब गलत साबित हुए एग्जिट पोल?

Exit Poll Results 2022: जानें कब कब गलत साबित हुए एग्जिट पोल?

Elections 2022: जानें क्या है Exit Poll और Opinion Poll ? ये रही पूरी ABCD

Elections 2022: जानें क्या है Exit Poll और Opinion Poll ? ये रही पूरी ABCD

UP Elections 2022 : 2nd Phase की वोटिंग को समझिए

UP Elections 2022 : 2nd Phase की वोटिंग को समझिए

UP Elections 2022 : दूसरे चरण में इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर

UP Elections 2022 : दूसरे चरण में इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर

छात्र आंदोलन में FIR झेलने वाले Khan Sir को कितना जानते हैं आप?

छात्र आंदोलन में FIR झेलने वाले Khan Sir को कितना जानते हैं आप?

UP Elections: स्वामी प्रसाद मौर्य के कॉन्फिडेंस की वजह क्या है?

UP Elections: स्वामी प्रसाद मौर्य के कॉन्फिडेंस की वजह क्या है?

UP Elections: अयोध्या-मथुरा छोड़ योगी ने क्यों चुनी गोरखपुर सदर सीट?

UP Elections: अयोध्या-मथुरा छोड़ योगी ने क्यों चुनी गोरखपुर सदर सीट?

UP Elections 2022 : 35 सालों की 'टाइम मशीन'!

UP Elections 2022 : 35 सालों की 'टाइम मशीन'!

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.