हाइलाइट्स

  • 30 साल तक छात्राओं का यौन शोषण करता रहा शिक्षक
  • अब तक 75 पीड़ित महिलाएं आई सामने
  • आरोपी CPM से बन चुका है पार्षद

लेटेस्ट खबर

IND vs IRE: हार्दिक की युवा आर्मी का पहले टी-20 में जोरदार धमाका, ओपनर बन दीपक हुड्डा ने लूटी महफिल

IND vs IRE: हार्दिक की युवा आर्मी का पहले टी-20 में जोरदार धमाका, ओपनर बन दीपक हुड्डा ने लूटी महफिल

IND vs IRE: भुवनेश्वर ने बनाया टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में वर्ल्ड रिकॉर्ड, पीछे छूट गए कई बड़े गेंदबाज

IND vs IRE: भुवनेश्वर ने बनाया टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में वर्ल्ड रिकॉर्ड, पीछे छूट गए कई बड़े गेंदबाज

ड्रॉ रहे वॉर्मअप मैच में टीम इंडिया के लिए आई गुड न्यूज, Kohli ने जमाया रंग तो जडेजा का भी दिखा दमखम

ड्रॉ रहे वॉर्मअप मैच में टीम इंडिया के लिए आई गुड न्यूज, Kohli ने जमाया रंग तो जडेजा का भी दिखा दमखम

PM Modi in Germany: 'भारत की वैक्सीन ने बचाई करोड़ों लोगों की जान',  म्यूनिख में बोले पीएम मोदी

PM Modi in Germany: 'भारत की वैक्सीन ने बचाई करोड़ों लोगों की जान',  म्यूनिख में बोले पीएम मोदी

 Viral video : आजमगढ़ से हारे धर्मेंद्र यादव की 'इंग्लिश' का वीडियो हुआ वायरल

Viral video : आजमगढ़ से हारे धर्मेंद्र यादव की 'इंग्लिश' का वीडियो हुआ वायरल

Kerala: शिक्षक ने 30 सालों तक किया यौन शोषण, 75 छात्राओं ने बताई आपबीती, फेसबुक पोस्ट से शुरू हुआ #Metoo

पूर्व शिक्षक के.वी शशि कुमार (K.V Shashi Kumar) पर 30 साल में करीब 75 छात्राओं के यौन शोषण (Sexual Exploitation) का आरोप है. पीड़ितों में ज्यादातर 9 से 12 साल की छात्राएं हैं. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

केरल के मलप्पुरम (Malappuram, Kerala) से एक ऐसी शर्मनाक घटना सामाने आई है. जिसने सबको सोचने पर मजबूर कर दिया है. आरोप है कि एक शिक्षक अपने स्कूल की छात्राओं का 30 सालों तक यौन शोषण करता रहा. आरोपी का नाम के.वी शशि कुमार (K.V Sasi Kumar) है, जो अब CPIM का नेता है.

पीड़ित छात्राओं ने आरोपी के काले कारनामे उजागर किए है. अब तक 75 छात्राएं सामने आ चुकी हैं. अंदाजा लगाया जा रहा कि 500 से अधिक छात्राओं का यौन शोषण हुआ है. मामले की गंभीरता को देखते हुए आरोपी को पॉक्सो के तहत गिरफ्तार कर जांच के आदेश दिए गए हैं.

Bombay High Court ने पॉक्सो के आरोपी को दी जमानत, 'होठों पर किस करना अप्राकृतिक सेक्स नहीं'

फेसबुक पोस्ट से शुरू हुआ #Metoo

आरोपी के.वी शशि कुमार का इसी साल मार्च में रिटायरमेंट हुआ है. स्कूल ने शशि कुमार को रिटायरमेंट पर ‘ग्रैंड फेयरवेल’ दिया था. उसने सोशल मीडिया पर खुद को ‘आदर्श शिक्षक’ बताया. बस यहीं से मामले का खुलासा हुआ, इस पर एक छात्रा ने शशि कुमार का असली चेहरा उजागर कर दिया. उसके बाद कई छात्राओं ने आरोप लगाते हुए उन्हें पीडोफाइल यानी एक वयस्क जो बच्चों के लिए यौन रूप से आकर्षित होता है, बताया. इसके बाद धीरे-धीरे 75 छात्राओं ने आपबीती बताई. मामला बढ़ता देख CPIM ने उसे सस्पेंड कर दिया है.

Gyanvapi Masjid: ज्ञानवापी विवाद पर SC में कल सुनवाई, मस्ज़िद कमिटी ने की सर्वे रोकने की मांग

पैरेंट्स को क्यों नहीं पता चलता ?

शशि कुमार के यौन शोषण कि शिकार ज्यादातर 9 से 12 साल की छात्राएं हैं. बच्चों में व्यक्तिगत सुरक्षा को बढ़ावा देना, स्कूलों में बाल संरक्षण नीतियों और बच्चों के यौन शोषण को रोकने के लिए माता-पिता की बढ़ती जागरूकता बहुत जरूरी है. छोटे बच्चे अपना बचाव करने में सक्षम नहीं होते. ऐसे में पैरेंट्स खुद को सुनने लायक बनाएं. सबसे पहले बच्चों को ये भरोसा दिलाएं कि उनकी बात घर में सुनी जाएगी. बच्चे इस बात को समझते हैं कि अगर वे इस बारे में पैरेंट्स को बताएंगे तो उनका विश्वास नहीं किया जाएगा.

पैरेंट्स अपने बच्चों पर फोकस करें. बच्चों में इतना विश्वास जगाएं कि बच्चा अपनी बात कह सकें. अगर बच्चे की पिटाई हो रही है तो इस पर एक्शन लें. सबसे जरूरी बच्चों को चाइल्‍ड हेल्पलाइन (Child Helpline) के बारे में जरूर बताएं, और बच्चों को गुड टच, बैड टच का भी बता होना चाहिए.

अप नेक्स्ट

Kerala: शिक्षक ने 30 सालों तक किया यौन शोषण, 75 छात्राओं ने बताई आपबीती, फेसबुक पोस्ट से शुरू हुआ #Metoo

Kerala: शिक्षक ने 30 सालों तक किया यौन शोषण, 75 छात्राओं ने बताई आपबीती, फेसबुक पोस्ट से शुरू हुआ #Metoo

Presidential Election 2022: कौन हैं Draupadi Murmu? जिन्हें NDA ने बनाया राष्ट्रपति उम्मीदवार

Presidential Election 2022: कौन हैं Draupadi Murmu? जिन्हें NDA ने बनाया राष्ट्रपति उम्मीदवार

Eknath Shinde: कौन हैं एकनाथ शिंदे? जिन्होंने महाराष्ट्र की सियासत में ला दिया 'भूचाल'

Eknath Shinde: कौन हैं एकनाथ शिंदे? जिन्होंने महाराष्ट्र की सियासत में ला दिया 'भूचाल'

Agnipath Scheme: जवानों को 'साढ़े तीन साल' की मिलेगी नौकरी, सेना को क्या होगा नुकसान?

Agnipath Scheme: जवानों को 'साढ़े तीन साल' की मिलेगी नौकरी, सेना को क्या होगा नुकसान?

Nupur Sharma Career: कैसा है नूपुर शर्मा का राजनीतिक करियर? कैसे ABVP और BJP में आगे बढ़ीं, जानें

Nupur Sharma Career: कैसा है नूपुर शर्मा का राजनीतिक करियर? कैसे ABVP और BJP में आगे बढ़ीं, जानें

President Election: भारत में कैसे चुने जाते हैं राष्ट्रपति? आसान शब्दों में समझें उलझी हुई प्रक्रिया

President Election: भारत में कैसे चुने जाते हैं राष्ट्रपति? आसान शब्दों में समझें उलझी हुई प्रक्रिया

और वीडियो

Exit Poll Results 2022: जानें कब कब गलत साबित हुए एग्जिट पोल?

Exit Poll Results 2022: जानें कब कब गलत साबित हुए एग्जिट पोल?

Elections 2022: जानें क्या है Exit Poll और Opinion Poll ? ये रही पूरी ABCD

Elections 2022: जानें क्या है Exit Poll और Opinion Poll ? ये रही पूरी ABCD

UP Elections 2022 : 2nd Phase की वोटिंग को समझिए

UP Elections 2022 : 2nd Phase की वोटिंग को समझिए

UP Elections 2022 : दूसरे चरण में इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर

UP Elections 2022 : दूसरे चरण में इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर

छात्र आंदोलन में FIR झेलने वाले Khan Sir को कितना जानते हैं आप?

छात्र आंदोलन में FIR झेलने वाले Khan Sir को कितना जानते हैं आप?

UP Elections: स्वामी प्रसाद मौर्य के कॉन्फिडेंस की वजह क्या है?

UP Elections: स्वामी प्रसाद मौर्य के कॉन्फिडेंस की वजह क्या है?

UP Elections: अयोध्या-मथुरा छोड़ योगी ने क्यों चुनी गोरखपुर सदर सीट?

UP Elections: अयोध्या-मथुरा छोड़ योगी ने क्यों चुनी गोरखपुर सदर सीट?

UP Elections 2022 : 35 सालों की 'टाइम मशीन'!

UP Elections 2022 : 35 सालों की 'टाइम मशीन'!

Bulli Bai ऐप और Sulli Deals: अब तक हुआ क्या-क्या, पूरी जानकारी यहां लें

Bulli Bai ऐप और Sulli Deals: अब तक हुआ क्या-क्या, पूरी जानकारी यहां लें

CM Custody Process: किसी भी राज्य के सीएम को हिरासत में कैसे लिया जा सकता है? जानें पूरी प्रक्रिया

CM Custody Process: किसी भी राज्य के सीएम को हिरासत में कैसे लिया जा सकता है? जानें पूरी प्रक्रिया

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.