हाइलाइट्स

  • 2016 में JNU कैंपस में कथित देशद्रोही भाषण के आरोप में दिल्ली पुलिस ने किया था अरेस्ट
  • कन्हैया को देशद्रोह की धाराओं के तहत किया गया था गिरफ्तार
  • हाईकोर्ट ने कहा था- कन्हैया के खिलाफ देशद्रोही भाषण का कोई सबूत नहीं मिला

लेटेस्ट खबर

Mini Cooper SE: आ रहा है मिनी कूपर का 100% इलेक्ट्रिक अवतार, सिंगल चार्ज में चलेगी ज्यादा

Mini Cooper SE: आ रहा है मिनी कूपर का 100% इलेक्ट्रिक अवतार, सिंगल चार्ज में चलेगी ज्यादा

Amit Shah ने मंच से हटवाया बुलेट प्रूफ ग्लास, कहा- मैं आपसे सीधे बात करना चाहता हूं

Amit Shah ने मंच से हटवाया बुलेट प्रूफ ग्लास, कहा- मैं आपसे सीधे बात करना चाहता हूं

Shami Trolling: मोहम्मद शमी को ट्रोल करने वालों पर बरसे तेंदुलकर और राहुल गांधी, कहा- इन्हें माफ कर दीजिए

Shami Trolling: मोहम्मद शमी को ट्रोल करने वालों पर बरसे तेंदुलकर और राहुल गांधी, कहा- इन्हें माफ कर दीजिए

Bihar By-election: लालू यादव ने उपचुनाव में किया RJD की जीत का दावा, तो नीतीश बोले- जनता मालिक है

Bihar By-election: लालू यादव ने उपचुनाव में किया RJD की जीत का दावा, तो नीतीश बोले- जनता मालिक है

Bihar Bypoll: चुनावी मैदान में उतरेंगे लालू यादव, तारापुर और कुशेश्वरस्थान में करेंगे प्रचार

Bihar Bypoll: चुनावी मैदान में उतरेंगे लालू यादव, तारापुर और कुशेश्वरस्थान में करेंगे प्रचार

Kanhaiya Kumar: कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया, जानें देशद्रोह केस और उनके सफर के बारे में

तेज तर्रार वक्ता और JNU के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने CPI का साथ छोड़ कांग्रेस का हाथ थाम लिया है. कन्हैया 2016 में उस वक्त सुर्खियों में आए थे जब दिल्ली पुलिस ने उन्हें राजद्रोह के कथित मामले में अरेस्ट किया था.

Kanhaiya Kumar: तेज तर्रार वक्ता और जेएनयू (JNU) के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने लेफ्ट पार्टी CPI का साथ छोड़ कर कांग्रेस का हाथ थाम लिया है. कन्हैया 2016 में उस वक्त सुर्खियों में आए थे जब दिल्ली पुलिस ने उन्हें राजद्रोह (Sedition Row) के कथित मामले में अरेस्ट किया था. पुलिस ने दावा किया था कि 9 फरवरी 2016 को संसद हमले के आरोपी अफजल गुरू की बरसी पर कन्हैया कुमार के नेतृत्व में जेएनयू कैंपस में देशद्रोही नारे लगाए गए थे. हालांकि देशविरोधी नारे केस में न तो दिल्ली हाईकोर्ट को कन्हैया के खिलाफ कोई सबूत मिला और ना ही दिल्ली सरकार की ज्यूडीशियल कमेटी को. 

तब कन्हैया की गिरफ्तारी का विपक्षी दलों ने, देशभर के प्रोफेसर्स ने और शिक्षाविदों ने तीखा विरोध किया था. JNU में गिरफ्तारी के खिलाफ लंबा स्ट्राइक और प्रोटेस्ट भी चला था. 

- गिरफ्तारी के बाद दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी के दौरान कन्हैया पर कई बार हमला हुआ 

- सुप्रीम कोर्ट ने जांच में इसके लिए पुलिसवालों को साफ तौर पर दोषी ठहराया था 

- 2 मार्च 2016 को कन्हैया को देशद्रोह के केस में हाईकोर्ट से बेल मिली 

- हाईकोर्ट की जस्टिस प्रतिभा रानी ने कहा था कि कन्हैया के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है 

- दिल्ली सरकार की मजिस्ट्रेट जांच में भी कन्हैया के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला था और उन्हें क्लीन चिट दी गई थी 

- जेल से छूटने के बाद कन्हैया को जान से मारने की बहुत सी धमकियां मिलीं 

- BJP नेता ने उनकी जुबान काटने वाले को 5 लाख का इनाम देने की घोषणा की तो दिल्ली में पोस्टर लगे कि जो कन्हैया को मारेगा उसे 11 लाख का इनाम मिलेगा 

आइए अब आपको बताते हैं कन्हैया कुमार के व्यक्तिगत और राजनीतिक सफर के बारे में ...

- बिहार के बेगुसराय जिले में तेघरा के एक गांव में जन्मे कन्हैया कुमार के पिता पैरालाइज्ड हैं 

- कन्हैया की मां मीना देवी एक आंगनवाडी कार्यकर्ता हैं, उनकी 3-4 हजार की कमाई में ही उनका और भाई बहनों का लालन पालन हुआ

- पटना के कॉलेज ऑफ कॉमर्स से छात्र राजनीति की शुरुआत की, AISF से जुड़े 

- जेएनयू से पीएचडी की, 2015 में कन्हैया AISF से JNU छात्र संघ के अध्यक्ष चुने जाने वाले पहले छात्र बने 

- कन्हैया कुमार पर साल 2016 में देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया, जिससे वो सुर्खियों में आए 

- बेल पर छूटने के बाद उनका दिया गया भाषण काफी चर्चा में रहा 

- 2018 में CPI ने कन्हैया को अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल किया 

- 2019 लोकसभा चुनाव में कन्हैया ने बेगूसराय सीट पर बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को चुनौती दी, हालांकि वो चुनाव हार गए 

- 28 सितंबर 2021 को कन्हैया कुमार ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली 

- कन्हैया कुमार ने Bihar to Tihar: My Political Journey नाम से एक किताब भी लिखी है 

पढ़े लिखे और जबरदस्त वक्ता कन्हैया में कांग्रेस को उम्मीद की किरण दिख रही है, खासकर बिहार में अस्तित्व के संकट से जूझ रही कांग्रेस को कन्हैया में अपना भविष्य नजर आ रहा है.

अप नेक्स्ट

Kanhaiya Kumar: कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया, जानें देशद्रोह केस और उनके सफर के बारे में

Kanhaiya Kumar: कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया, जानें देशद्रोह केस और उनके सफर के बारे में

Vaccination Update: कोरोना वैक्सीन के 100 करोड़ डोज़ के सफर को समझें

Vaccination Update: कोरोना वैक्सीन के 100 करोड़ डोज़ के सफर को समझें

Gandhi Ji के बारे में बड़ी गलतफहमियां? जानिए क्या है हकीकत

Gandhi Ji के बारे में बड़ी गलतफहमियां? जानिए क्या है हकीकत

पंजाब के नए CM चरणजीत सिंह चन्नी, जानें कौन हैं?

पंजाब के नए CM चरणजीत सिंह चन्नी, जानें कौन हैं?

Bhagat Singh's birthday: शहीद-ए-आज़म भगत सिंह के बारे में जानें ये 7 रोचक तथ्य

Bhagat Singh's birthday: शहीद-ए-आज़म भगत सिंह के बारे में जानें ये 7 रोचक तथ्य