हाइलाइट्स

  • रेल हादसा होने पर सरकार देगी मुआवजा
  • 10 लाख रुपये तक देती है सरकार
  • टिकंट बुकिंग करते समय लेना है ट्रैवल इंश्योरेंस

लेटेस्ट खबर

Haryana के कई इलाकों में फिर लगी इंटरनेट पर रोक

Haryana के कई इलाकों में फिर लगी इंटरनेट पर रोक

Motorola का कमाल का फोन: GoPro और Smartwatch की छुट्टी, लाखों रुपये की बचत!

Motorola का कमाल का फोन: GoPro और Smartwatch की छुट्टी, लाखों रुपये की बचत!

Sensex Crash Today: शेयर बाज़ार में आई बड़ी गिरावट, निवेशकों को करीब 6 लाख करोड़ रु. का नुकसान

Sensex Crash Today: शेयर बाज़ार में आई बड़ी गिरावट, निवेशकों को करीब 6 लाख करोड़ रु. का नुकसान

भारत के इस तेज गेंदबाज को देखकर सीखते थे जेम्स एंडरसन, खुद किया खुलासा

भारत के इस तेज गेंदबाज को देखकर सीखते थे जेम्स एंडरसन, खुद किया खुलासा

Haryana News: करनाल में 25 करोड़ रुपये की लागत से 10 ओडीआर सड़कों के सुधार को सीएम खट्टर ने दी मंजूरी 

Haryana News: करनाल में 25 करोड़ रुपये की लागत से 10 ओडीआर सड़कों के सुधार को सीएम खट्टर ने दी मंजूरी 

Uttarakhand में बुरांश के फूल का तय समय से जल्दी खिलना, चिंता का विषय क्यों?

Uttarakhand में बुरांश के फूल का तय समय से जल्दी खिलना, चिंता का विषय क्यों?

UP News: 'विकसित भारत-मोदी की गारंटी' कार्यक्रम में बोले सीएम योगी, जीतेंगे यूपी की सारी सीटें

UP News: 'विकसित भारत-मोदी की गारंटी' कार्यक्रम में बोले सीएम योगी, जीतेंगे यूपी की सारी सीटें

Akhilesh Yadav को सीबीआई का समन, अवैध खनन मामले में गवाह के तौर पर तलब किया गया

Akhilesh Yadav को सीबीआई का समन, अवैध खनन मामले में गवाह के तौर पर तलब किया गया

Baat Aapke Kaam Ki: रेल हादसा होने पर पीड़ितों को मिलेगा 10 लाख तक मुआवजा, ऐसे कर सकते हैं क्लेम

रेल हादसा होने पर सरकार 10 लाख रुपये तक मुआवजा देती है. इसके लिए आपको क्या करना है, यहां जानिये विस्तार से...

Baat Aapke Kaam Ki: रेल हादसा होने पर पीड़ितों को मिलेगा 10 लाख तक मुआवजा, ऐसे कर सकते हैं क्लेम

Rail Accident Compensation: भारत में हर तबके के लिए लंबी दूरी की यात्रा के लिए ट्रेन (Train) सबसे सुविधाजनक और किफायती साधनों में से एक है. इस सुविधा के अलावा क्या आप जानते हैं कि भारतीय रेलवे अपने यात्रियों को बीमा (Traiin Accident) कवर भी देता है. जी हां, इसका मतलब है कि रेल दुर्घटना में अगर आपको चोट लग गई या कोई हादसा हो गया तो रेलवे आपको अच्छा खासा मुआवजा (Compensation) देता है.

बस इस मुआवजे का लाभ उठाने के लिए आपको सारी जानकारी होनी चाहिए. तो आज 'बात आपके काम की' में हम आपको बताते हैं कि इस बीमा के लिए आप कैसे क्लेम (Claim) कर सकते हैं और इसका क्या प्रॉसेस है.

कैसे मिलेगी बीमा की सुविधा? (How to get insurance facility?)

सबसे पहले ये जान लें कि आपके खुद से बुक करने पर ही आपको ये सुविधा मिलेगी. क्योंकि ट्रैवेल एजेंटों (Travel Agents) से अगर आपने टिकट लिया या फिर काउंटर पर टिकट लिया तो आपको उन्हें बीमा के ऑप्शन को सेलेक्ट करने को बोलना पड़ेगा. नहीं तो वे खुद से ऐसा नहीं करते हैं और आप इसका लाभ लेने से वंचित रह जाते हैं.

इस सुविधा के जरिए IRCTC अपने यात्रियों को 10 लाख रुपये तक का बीमा कवर देता है. वह भी 1 रुपये से भी कम कीमत यानी कि सिर्फ 35 पैसे में.

इसे भी पढ़ें- फर्जी GST बिल की पहचान कैसे करें? असली और नकली बिल जानने के लिए अपनाएं ये तरीका

बीमा लेने के लिए क्या करें? (What to do to get insurance?)

इसके लिए टिकट (Train Ticket) बुक करते समय पेज पर दिख रहे 'ट्रैवल इंश्योरेंस' (Travel Insurance) ऑप्शन पर जाएं. इसके बाद टिकट बुक होने के बाद आपको एक मेल आता है. उस मेल (Mail) में जो फॉर्म मिलता है, उसे ऑनलाइन (Online Form) भरकर सबमिट कर देना है. तो ऐसे IRCTC की वेबसाइट या ऐप से टिकट बुक करने वाला कोई भी यात्री इस बीमा सुविधा का लाभ उठा सकता है. इसके लिए उसका भारतीय नागरिक (Indian) होना जरूरी है.

इसे भी पढ़ें- 7 ज्योतिर्लिंगों के दर्शन के लिए बुक करें IRCTC का ये टूर पैकेज, सिर्फ इतना है किराया

रेलवे कितना देता है मुआवजा?

  • ट्रेन यात्रा के दौरान कीमती सामान और सामान के किसी भी नुकसान के लिए मुआवजा मिलता है.
  • दुर्घटना होने पर इलाज का खर्च और मृत्यु होने पर बीमाधारक के नॉमिनी (Nomminee) को मुआवजा मिलता है.
  • इसके अलावा किसी यात्री की ट्रेन दुर्घटना में मौत हो जाती है या वह स्थायी रूप से विकलांग हो जाता है तो रेलवे उसे 10 लाख रुपये तक की बीमा राशि देता है.
  • आंशिक रूप से विकलांग होने पर ये राशि 7.5 लाख रुपये हो जाती है.
  • गंभीर चोट लगने पर 2 लाख रुपये और मामूली चोट लगने पर यात्रियों को 10 हजार रु पये तक की सहायता की जाती है.

बीमा का दावा करने के लिए रेलवे आपको 4 महीने का समय देता है. रेल दुर्घटना होने के 4 महीने के अंदर यात्री बीमा (Insurance) का दावा कर सकते हैं. इसके लिए आप बीमा कंपनी की कार्यालय में जा सकते हैं.

इसके अलावा इस बात का ध्यान रखें कि बीमा खरीदते समय यात्रियो को नॉमिनी का नाम अवश्य भरना चाहिए, ताकि हादसा होने के बाद बीमा के लिए दावा किया जा सके.

इसे भी पढ़ें- गाड़ी पकड़ने के लिए पैदल चलने की जरूरत नहीं, यहां गांवों तक सरकार पहुंचा रही वाहन


अप नेक्स्ट

Baat Aapke Kaam Ki: रेल हादसा होने पर पीड़ितों को मिलेगा 10 लाख तक मुआवजा, ऐसे कर सकते हैं क्लेम

Baat Aapke Kaam Ki: रेल हादसा होने पर पीड़ितों को मिलेगा 10 लाख तक मुआवजा, ऐसे कर सकते हैं क्लेम

Baat Aapke Kaam Ki: 'APAAR' आईडी स्टूडेंटस के लिए बेहद जरूरी, जानिये क्या मिलता है लाभ?

Baat Aapke Kaam Ki: 'APAAR' आईडी स्टूडेंटस के लिए बेहद जरूरी, जानिये क्या मिलता है लाभ?

Baat Aapke Kaam Ki: 18 साल से कम उम्र में भी बन सकता है पैन कार्ड, यहां जानें क्या ही तरीका?

Baat Aapke Kaam Ki: 18 साल से कम उम्र में भी बन सकता है पैन कार्ड, यहां जानें क्या ही तरीका?

Baat Aapke Kaam Ki: अब ₹8 प्रतिदिन में मिलेगी बिजली, 'PM सूर्योदय योजना' में अप्लाई का ये है प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: अब ₹8 प्रतिदिन में मिलेगी बिजली, 'PM सूर्योदय योजना' में अप्लाई का ये है प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: लड़की होने पर मिलेंगे 50 हजार, जानें 'भाग्यश्री योजना' का किसे मिलेगा फायदा?

Baat Aapke Kaam Ki: लड़की होने पर मिलेंगे 50 हजार, जानें 'भाग्यश्री योजना' का किसे मिलेगा फायदा?

Baat Aapke Kaam Ki: बैंकों में आपको मिलते हैं ये अधिकार, अधिकारी परेशान करें तो यहां करें शिकायत

Baat Aapke Kaam Ki: बैंकों में आपको मिलते हैं ये अधिकार, अधिकारी परेशान करें तो यहां करें शिकायत

और वीडियो

Baat Aapke kaam ki: आप भी जान लें Driving License के नए नियम, वरना लग जाएगा तगड़ा फाइन

Baat Aapke kaam ki: आप भी जान लें Driving License के नए नियम, वरना लग जाएगा तगड़ा फाइन

Baat Aapke kaam ki: पैन कार्ड खोने पर 10 मिनट में पाएं वापस, जानें पूरा प्रोसेस

Baat Aapke kaam ki: पैन कार्ड खोने पर 10 मिनट में पाएं वापस, जानें पूरा प्रोसेस

Baat Aapke Kaam ki: ट्रेन हुई लेट तो रेलवे देगा आपको पूरा रिफंड, जानें पूरी प्रोसेस

Baat Aapke Kaam ki: ट्रेन हुई लेट तो रेलवे देगा आपको पूरा रिफंड, जानें पूरी प्रोसेस

Baat Aapke Kaam Ki: UP में व्यापार शुरू करने को मिल रहा 25 लाख का लोन, जानें अप्लाई का प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: UP में व्यापार शुरू करने को मिल रहा 25 लाख का लोन, जानें अप्लाई का प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: पंजाब सरकार दिव्यांगों को दे रही 1 हजार रुपये पेंशन, जानें रजिस्ट्रेशन का प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: पंजाब सरकार दिव्यांगों को दे रही 1 हजार रुपये पेंशन, जानें रजिस्ट्रेशन का प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: UP के किसानों को फ्री में मिलेगा हरी सब्जियों का बीज, जानें रजिस्ट्रेशन का प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: UP के किसानों को फ्री में मिलेगा हरी सब्जियों का बीज, जानें रजिस्ट्रेशन का प्रॉसेस

Baat Aapke Kaam Ki: पालतू डॉगी को प्लेन में कहीं ले जा रहे, तो सबसे पहले जान लें ये नियम

Baat Aapke Kaam Ki: पालतू डॉगी को प्लेन में कहीं ले जा रहे, तो सबसे पहले जान लें ये नियम

Baat Aapke Kaam Ki: फ्लाइट के कैंसिल या लेट होने पर क्या मिलेंगी सुविधाएं? जान लीजिए नियम

Baat Aapke Kaam Ki: फ्लाइट के कैंसिल या लेट होने पर क्या मिलेंगी सुविधाएं? जान लीजिए नियम

Baat Aapke Kaam Ki: गूगल फोटोज से गलती से डिलीट हो गई फोटो, ऐसे करें रिकवर

Baat Aapke Kaam Ki: गूगल फोटोज से गलती से डिलीट हो गई फोटो, ऐसे करें रिकवर

Baat Aapke Kaam Ki: हरियाणा की रोडवेज बसों में ये लोग मुफ्त में कर सकेंगे यात्रा, आप भी जानें

Baat Aapke Kaam Ki: हरियाणा की रोडवेज बसों में ये लोग मुफ्त में कर सकेंगे यात्रा, आप भी जानें

हमारे बारे में

एडिटरजी भारत में स्थित एक लोकप्रिय वीडियो समाचार और सूचना प्लेटफार्म है. इसकी शुरुआत साल 2018 में भारत के प्रमुख पत्रकारों में से एक, विक्रम चंद्रा, ने की थी, और कुछ ही सालों में एडिटर्जी ने  डिजिटल समाचार की दुनिया में अपनी अलग पहचान बना ली है. ये प्लेटफ़ॉर्म मुख्य रूप से मोबाइल उपकरणों के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसमें एंड्रॉइड और आईओएस के लिए एप्लिकेशन उपलब्ध हैं.

हमसे संपर्क करें

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.