हाइलाइट्स

  • साल 1941 में नेताजी चले गए थे जर्मनी
  • जर्मन वांडरर सीडान कार से भागे थे नेताजी
  • देश के वीर जाबांज़ थे नेताजी

लेटेस्ट खबर

Punjab Budget: कांग्रेस विधायक राज कुमार चब्बेवाल बोझा लेकर पहुंचे विधानसभा, देखें Video

Punjab Budget: कांग्रेस विधायक राज कुमार चब्बेवाल बोझा लेकर पहुंचे विधानसभा, देखें Video

PM Modi in Telangana: पीएम मोदी के तेलंगाना दौरे का दूसरा दिन, राज्य को दी ये सौगात

PM Modi in Telangana: पीएम मोदी के तेलंगाना दौरे का दूसरा दिन, राज्य को दी ये सौगात

मैं प्रतिस्पर्धी कुश्ती में वापसी नहीं करूंगी : साक्षी मलिक

मैं प्रतिस्पर्धी कुश्ती में वापसी नहीं करूंगी : साक्षी मलिक

India–Pakistan: PM मोदी ने दी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ को बधाई, X पर किया ये पोस्ट

India–Pakistan: PM मोदी ने दी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ को बधाई, X पर किया ये पोस्ट

Haryana सरकार का बड़ा एलान, 113 परियोजनाओं को मिली मंज़ूरी इतनी है लागत

Haryana सरकार का बड़ा एलान, 113 परियोजनाओं को मिली मंज़ूरी इतनी है लागत

Huma Qureshi ने कहा- 'सीरीज महारानी के बाद लोग मुझे अलग नजरिए से देखने लगे'

Huma Qureshi ने कहा- 'सीरीज महारानी के बाद लोग मुझे अलग नजरिए से देखने लगे'

Katrina Kaif ने Salman Khan को इस एहसान के लिए किया याद, बोली-  मैं दिल से परेशान थी और तब...

Katrina Kaif ने Salman Khan को इस एहसान के लिए किया याद, बोली- मैं दिल से परेशान थी और तब...

Haryana में बारिश से बर्बाद हुई फसलों पर मुआवज़ा देंगी खट्टर सरकार

Haryana में बारिश से बर्बाद हुई फसलों पर मुआवज़ा देंगी खट्टर सरकार

Subhash Chandra Bose : जानिए नेताजी की अंग्रेज़ों की आंखों में धूल झोंककर जर्मनी पहुंचने की कहानी

आज नेता जी की 127 जयंती है. आज हम आपको अपनी इस रिपोर्ट में बताएंगे कि नेता जी कैसे साल 1941 में अपने घर से अंग्रेज़ों की आंखों में धूल झोंककर झारखंड के गोमोह रेलवे स्टेशन पहुंचे थे और उसके बाद जर्मनी कि यात्रा पर गए थे.

Subhash Chandra Bose : जानिए नेताजी की अंग्रेज़ों की आंखों में धूल झोंककर जर्मनी पहुंचने की कहानी

Subhash Chandra Bose Birth Anniversary : भारत में आज़ादी के परवानों की अनेकों गाथाएं मिलेंगी जिनके कंधे पर चढ़कर भारत को आज़ादी मिली थी. इसी ही आज़ादी के परवाने थे नेताजी सुभाष चंद्र बो(Subhash Chandra Bose). आज नेता जी की 127 जयंती है. आज हम आपको अपनी इस रिपोर्ट में बताएंगे कि नेता जी कैसे साल 1941 में अपने घर से अंग्रेज़ों की आंखों में धूल झोंककर झारखंड के गोमोह रेलवे स्टेशन (Gomoh Railway Station) पहुंचे थे और उसके बाद जर्मनी कि यात्रा पर गए थे.

जी हां नेताजी के कोलकाता के एल्गिन रोड स्थित पैतृक आवास पर आज भी 1937 मॉडल की वह खूबसूरत जर्मन वांडरर सीडान कार (german wanderer sedan car) खड़ी है जिसने सुभाष चंद्र बोस के गुप्त तरीके से भागने में अहम भूमिका अदा की थी. नेताजी रिसर्च ब्यूरो की पहल पर कार बनाने वाली प्रमुख कंपनी ऑडी ने इस सीडान कार को 1941 वाला पुराना मनोहारी लुक दिया है. वर्ष 2017 में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने जर्मन वांडरर सीडान कार का अनावरण किया था.

अंग्रेजों ने नेताजी को उनके ही घर पर उन्हें नजरबंद कर दिया था. वे उनपर पैनी नजर रखे हुए थे, लेकिन फिर भी बोस उनकी आंखों में धूल झोंककर फरार होने में कामयाब हो गए. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 1941 में 16 और 17 जनवरी की मध्यरात्रि को अपने भतीजे शिशिर कुमार बोस (Shishir Kumar Bose) के साथ कोलकाता से फरार हुए थे. मोहम्मद जियाउद्दीन (Mohammad Ziauddin) बनकर बोस सामने वाली सीट पर बैठे थे, जबकि शिशिर बोस कार चला रहे थे. जानकारी के अनुसार, ऐसा भी कहा जाता है कि नेताजी ऑडी कार रखने वाले देश के पहले व्यक्ति थे.

अंग्रेज अधिकारियों और सिपाहियों को बेवकूफ बना कर कोलकाता से वे पहले गोमो पहुंचे थे. वहां से कालका मेल में सवार होकर गुम हो गए, तो अंग्रेजों ने उस जगह का नाम गोमो रख दिया. वहीं, अंग्रेज सिपाही जब उन्हें खोजते हुए झरिया के ‘भागा’ पहुंचे तो नेताजी यहां से चकमा देकर भाग निकले.


अप नेक्स्ट

Subhash Chandra Bose : जानिए नेताजी की अंग्रेज़ों की आंखों में धूल झोंककर जर्मनी पहुंचने की कहानी

Subhash Chandra Bose : जानिए नेताजी की अंग्रेज़ों की आंखों में धूल झोंककर जर्मनी पहुंचने की कहानी

History 5 March : आज ही के दिन आया था दुनिया का सबसे बड़ा भूकंप ! भारत को मिला थी 'ब्रह्मोस' की शक्ति

History 5 March : आज ही के दिन आया था दुनिया का सबसे बड़ा भूकंप ! भारत को मिला थी 'ब्रह्मोस' की शक्ति

History of 4 March:  'INS विक्रांत' भारतीय नौसेना में हुआ था शामिल, शिकागो बना था अमेरिका का तीसरा शहर

History of 4 March: 'INS विक्रांत' भारतीय नौसेना में हुआ था शामिल, शिकागो बना था अमेरिका का तीसरा शहर

History of 3 March: विश्वभर में मनाया जा रहा 'वन्यजीव दिवस', जमशेदजी टाटा से भी जुड़ा है आज का इतिहास

History of 3 March: विश्वभर में मनाया जा रहा 'वन्यजीव दिवस', जमशेदजी टाटा से भी जुड़ा है आज का इतिहास

Fastag: कैसे करें फास्टैग की KYC अपडेट ? आसान तरीके से सीखें...फास्टैग को डिएक्टिवेट होने से बचाएं

Fastag: कैसे करें फास्टैग की KYC अपडेट ? आसान तरीके से सीखें...फास्टैग को डिएक्टिवेट होने से बचाएं

PM Surya Ghar Yojana : छत पर सोलर पैनल लगाकर कैसे कमाने हैं हजारों रुपए? आसान शब्दों में जानें तरीका

PM Surya Ghar Yojana : छत पर सोलर पैनल लगाकर कैसे कमाने हैं हजारों रुपए? आसान शब्दों में जानें तरीका

और वीडियो

History 02 March: सुपरसॉनिक विमान ने भरी थी पहली सफल उड़ान, देखें आज का रोचक इतिहास

History 02 March: सुपरसॉनिक विमान ने भरी थी पहली सफल उड़ान, देखें आज का रोचक इतिहास

On This Day in History 1 Mar: आज ही के दिन हुआ था सबसे विनाशकारी 'हाइड्रोजन बम' का परीक्षण, जानें इतिहास

On This Day in History 1 Mar: आज ही के दिन हुआ था सबसे विनाशकारी 'हाइड्रोजन बम' का परीक्षण, जानें इतिहास

Government Jobs: सरकारी नौकरियों की बौछार, लास्ट डेट से पहले जल्द करें अप्लाई

Government Jobs: सरकारी नौकरियों की बौछार, लास्ट डेट से पहले जल्द करें अप्लाई

On This Day in History 29 Feb : 4 साल में सिर्फ एक बार आता है ये खास दिन, जानें 29 फरवरी का रोचक इतिहास

On This Day in History 29 Feb : 4 साल में सिर्फ एक बार आता है ये खास दिन, जानें 29 फरवरी का रोचक इतिहास

UP में Rajya Sabha चुनाव के नतीजे घोषित, देखें कौन हारा, कौन जीता ?

UP में Rajya Sabha चुनाव के नतीजे घोषित, देखें कौन हारा, कौन जीता ?

History 28 February : आज ही के दिन 'रमन इफेक्ट' का हुआ था आविष्कार, जानें 28 फरवरी का इतिहास

History 28 February : आज ही के दिन 'रमन इफेक्ट' का हुआ था आविष्कार, जानें 28 फरवरी का इतिहास

History 27 February: आज ही के दिन हुई थी गोधरा की दुखद घटना, देखें आज का इतिहास

History 27 February: आज ही के दिन हुई थी गोधरा की दुखद घटना, देखें आज का इतिहास

On This Day in History 26 Feb: 'बालाकोट एयर स्ट्राइक' के पांच साल, जानें आज का इतिहास

On This Day in History 26 Feb: 'बालाकोट एयर स्ट्राइक' के पांच साल, जानें आज का इतिहास

History 25 Feb: मिसाइल की दुनिया में जब भारत ने मचाई थी 'खलबली'...जानें आज का रोचक इतिहास

History 25 Feb: मिसाइल की दुनिया में जब भारत ने मचाई थी 'खलबली'...जानें आज का रोचक इतिहास

On This Day in History 24 Feb: आज ही के दिन जड़ा गया था ODI क्रिकेट का पहला 'दोहरा शतक', जानें इतिहास

On This Day in History 24 Feb: आज ही के दिन जड़ा गया था ODI क्रिकेट का पहला 'दोहरा शतक', जानें इतिहास

हमारे बारे में

एडिटरजी भारत में स्थित एक लोकप्रिय वीडियो समाचार और सूचना प्लेटफार्म है. इसकी शुरुआत साल 2018 में भारत के प्रमुख पत्रकारों में से एक, विक्रम चंद्रा, ने की थी, और कुछ ही सालों में एडिटर्जी ने  डिजिटल समाचार की दुनिया में अपनी अलग पहचान बना ली है. ये प्लेटफ़ॉर्म मुख्य रूप से मोबाइल उपकरणों के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसमें एंड्रॉइड और आईओएस के लिए एप्लिकेशन उपलब्ध हैं.

हमसे संपर्क करें

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.