हाइलाइट्स

  • आज मनाया जाता है 'राष्ट्रीय युवा दिवस'
  • सूर्य सेन को आज के दिन दी थी फांसी
  • अहमद फ़राज़ साहब की जयंती आज

लेटेस्ट खबर

Haryana के सभी नागरिक अस्पतालों में जन-औषधि केन्द्र स्थापित किए जाएंगें- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

Haryana के सभी नागरिक अस्पतालों में जन-औषधि केन्द्र स्थापित किए जाएंगें- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

Jio ने Qualcomm के साथ पार्टनरशिप की, 5G Phone लाने की तैयारी!

Jio ने Qualcomm के साथ पार्टनरशिप की, 5G Phone लाने की तैयारी!

Sandeshkhali: 'दुर्भाग्य है कि CM एक महिला हैं', ममता सरकार पर बीजेपी नेता का वार

Sandeshkhali: 'दुर्भाग्य है कि CM एक महिला हैं', ममता सरकार पर बीजेपी नेता का वार

Laapataa Ladies की स्क्रीनिंग में Sunny Deol, Kajol और Karan Johar समेत शामिल हुए कई सेलेब्स

Laapataa Ladies की स्क्रीनिंग में Sunny Deol, Kajol और Karan Johar समेत शामिल हुए कई सेलेब्स

Himachal Pradesh: 'आने वाले समय में नहीं होगी कांग्रेस सरकार', जयराम ठाकुर के दावे से कांग्रेस में टेंशन!

Himachal Pradesh: 'आने वाले समय में नहीं होगी कांग्रेस सरकार', जयराम ठाकुर के दावे से कांग्रेस में टेंशन!

Dubai Tennis Championships: रोहन बोपन्ना और मैथ्यू एबडेन की जोड़ी ने दर्ज की शानदार जीत, सुमित नागल हारे

Dubai Tennis Championships: रोहन बोपन्ना और मैथ्यू एबडेन की जोड़ी ने दर्ज की शानदार जीत, सुमित नागल हारे

अडानी ग्रुप के शेयरों का सबसे बड़ा निवेशक बना GQG ग्रुप

अडानी ग्रुप के शेयरों का सबसे बड़ा निवेशक बना GQG ग्रुप

Himachal Pradesh: 'क्रॉस वोटिंग दुर्भाग्यपूर्ण, कांग्रेस सरकार बचाना प्राथमिकता', जयराम रमेश का बड़ा बयान

Himachal Pradesh: 'क्रॉस वोटिंग दुर्भाग्यपूर्ण, कांग्रेस सरकार बचाना प्राथमिकता', जयराम रमेश का बड़ा बयान

On This Day in History 12 Jan: स्वामी विवेकानंद की जयंती, जानिए आज का इतिहास

स्वामी विवेकानंद का  का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था. हर साल उनके जन्मदिन को राष्ट्रीय युवा दिवस (के रूप में मनाया जाता है. क्योंकि स्वामी विवेकानंद के आदर्श, विचार और काम युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं.

On This Day in History 12 Jan: स्वामी विवेकानंद की जयंती, जानिए आज का इतिहास

भारत में 12 जनवरी के दिन को स्वामी विवेकानंद का जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है. स्वामी विवेकानंद का का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था. हर साल उनके जन्मदिन को राष्ट्रीय युवा दिवस (के रूप में मनाया जाता है. क्योंकि स्वामी विवेकानंद के आदर्श, विचार और काम युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं.

स्वामी विवेकानंद के मानवहितकारी चिंतन और कर्म कालजयी हैं, वो खुद एक प्रकाश स्तंभ के समान हैं. वे भारतीय संस्कृति और युगीन समस्याओं के समाधायक, आध्यात्म और विज्ञान के समन्वयक और आध्यात्मिक सोच के साथ ही दुनिया को वेदों व शास्त्रों का ज्ञान देने वाले महान युगपुरुष थे. स्वामी विवेकानंद अपनी माटी और संस्कृति के प्रति पूरी तरह से समर्पित थे. कम उम्र में ही उन्होंने प्रखर ज्ञान अर्जित कर लिए थे.

भारत की आजादी के लिए अनगिनत स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना खून बहाया है जिनमें से एक सूर्य सेन भी थे. जिन्होंने मरते दम तक न सिर्फ ब्रिटिश राज के खिलाफ आवाज उठाई बल्कि कई बार गहरी चोट भी दी. इसलिए ब्रिटिश अधिकारियों ने एक स्कूल टीचर और महान क्रांतिकारी सूर्य सेन को असहनीय यातनाएं दी थीं. आखिरी वक्त मे वंदेमातरम का उदघोष न कर सके इसलिए दांत तोड़ दिए थे. सूर्य सेन का जन्म 22 मार्च 1894 को हुआ था और उन्हें 12 जनवरी, 1934 को फांसी दी गई थी. सूर्य सेन को प्यार से 'मास्टर दा' के नाम से जाना जाता था. उन्हें 1930 में ब्रिटिश सरकार के खिलाफ चटगांव शस्त्रागार पर हमला करने के लिए जाना जाता है.

अभी कुछ और करिश्मे ग़ज़ल के देखते हैं
'फ़राज़' अब ज़रा लहजा बदल के देखते हैं

आज उर्दू के मशहूर शायर अहमद फ़राज़ साहब की जयंती है. फ़राज़ ने ग़ज़लों को नई शोहरत दिलाई. आम लोगों के बीच ग़ज़ल को किसी ने लोकप्रिय किया तो वो अहमद फ़राज़ ही थे. फ़राज़ का जन्म 12 जनवरी 1931 को पाकिस्तान के कोहाट के एक सम्मानित परिवार में हुआ था. फ़राज़ के नाम के पीछे एक छोटी-सी कहानी है. अहमद फ़राज़ का असली नाम सैयद अहमद शाह था, लेकिन वो शायरी अहमद शाह कोहाटी के नाम से करते थे. फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ उस जमाने के मशहूर शायर हुआ करते थे. फ़राज़ उनकी शख़्सियत, शायरी और उनके विचारों से बहुत प्रभावित थे. फ़ैज़ ने फ़राज़ की शख़्सियत और शायरी पर बहुत असर डाला. जब दोनों एक-दूसरे के संपर्क में आए तो फ़ैज़ ने फ़राज़ को नाम बदलने का मशवरा दिया. फ़ैज़ की बात मानकर उन्होंने अपना नाम अहमद फ़राज़ रख लिया.

देश-दुनिया के इतिहास में 12 जनवरी की तारीख पर दर्ज अन्य महत्‍वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्योरा इस प्रकार है :-

1708 : शाहू को मराठा शासक बनाया गया.
1757 : पश्चिम बंगाल के बंदेल को ब्रिटिश शासकों ने पुर्तगालियों से छीना.
1863 : स्वामी विवेकानंद का जन्म.
1931: पाकिस्तान के मशहूर उर्दू शायर अहमद फराज का जन्म.
1934: भारत की आजादी के लिए संघर्ष करने वाले क्रांतिकारी सूर्यसेन को अंग्रेजों ने फांसी पर लटका दिया.
1976: जासूसी उपन्यासों की मशहूर लेखिका अगाथा क्रिस्टी का निधन.
1984 : स्वामी विवेकानंद के जन्मदिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के तौर पर मनाने का ऐलान.
1991: अमेरिकी संसद ने इराक के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के प्रस्ताव को पारित किया.
2010: हैती में भीषण भूकंप में दो लाख से अधिक लोगों की मौत.
2022ः ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मई 2020 में देश में कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान अपने डाउनिंग हाउस आवास के गार्डन में पार्टी को लेकर हाउस ऑफ कॉमन्स में माफी मांगी.


अप नेक्स्ट

On This Day in History 12 Jan: स्वामी विवेकानंद की जयंती, जानिए आज का इतिहास

On This Day in History 12 Jan: स्वामी विवेकानंद की जयंती, जानिए आज का इतिहास

UP में Rajya Sabha चुनाव के नतीजे घोषित, देखें कौन हारा, कौन जीता ?

UP में Rajya Sabha चुनाव के नतीजे घोषित, देखें कौन हारा, कौन जीता ?

History 28 February : आज ही के दिन 'रमन इफेक्ट' का हुआ था आविष्कार, जानें 28 फरवरी का इतिहास

History 28 February : आज ही के दिन 'रमन इफेक्ट' का हुआ था आविष्कार, जानें 28 फरवरी का इतिहास

History 27 February: आज ही के दिन हुई थी गोधरा की दुखद घटना, देखें आज का इतिहास

History 27 February: आज ही के दिन हुई थी गोधरा की दुखद घटना, देखें आज का इतिहास

On This Day in History 26 Feb: 'बालाकोट एयर स्ट्राइक' के पांच साल, जानें आज का इतिहास

On This Day in History 26 Feb: 'बालाकोट एयर स्ट्राइक' के पांच साल, जानें आज का इतिहास

History 25 Feb: मिसाइल की दुनिया में जब भारत ने मचाई थी 'खलबली'...जानें आज का रोचक इतिहास

History 25 Feb: मिसाइल की दुनिया में जब भारत ने मचाई थी 'खलबली'...जानें आज का रोचक इतिहास

और वीडियो

On This Day in History 24 Feb: आज ही के दिन जड़ा गया था ODI क्रिकेट का पहला 'दोहरा शतक', जानें इतिहास

On This Day in History 24 Feb: आज ही के दिन जड़ा गया था ODI क्रिकेट का पहला 'दोहरा शतक', जानें इतिहास

On This Day in History 23 Feb: मशहूर अदाकारा 'मधुबाला' ने दुनिया को कहा था अलविदा, जानें आज का इतिहास

On This Day in History 23 Feb: मशहूर अदाकारा 'मधुबाला' ने दुनिया को कहा था अलविदा, जानें आज का इतिहास

On This Day in History 22 Feb: लैब में बनाई गई थी पहली भेड़ 'डॉली', बांग्लादेश को पाक ने दी थी मान्यता

On This Day in History 22 Feb: लैब में बनाई गई थी पहली भेड़ 'डॉली', बांग्लादेश को पाक ने दी थी मान्यता

History: जब धमाकों से दहल गया था हैदराबाद...देखें 21 फरवरी का इतिहास

History: जब धमाकों से दहल गया था हैदराबाद...देखें 21 फरवरी का इतिहास

History 20 February: भारत की आजादी का हुआ था पहला ऐलान, पाकिस्तान गए थे Atal Bihari Vajpayee

History 20 February: भारत की आजादी का हुआ था पहला ऐलान, पाकिस्तान गए थे Atal Bihari Vajpayee

On This Day in History 19 Feb: जिस शख्स ने दुनिया को बताया, 'पृथ्वी सूर्य के चारो ओर घूमती है'

On This Day in History 19 Feb: जिस शख्स ने दुनिया को बताया, 'पृथ्वी सूर्य के चारो ओर घूमती है'

On This Day in History 18 Feb: कैसे 'प्लूटो' बना ग्रह से बौना ग्रह, जानिए आज का इतिहास

On This Day in History 18 Feb: कैसे 'प्लूटो' बना ग्रह से बौना ग्रह, जानिए आज का इतिहास

Baat Aapke Kaam Ki: 'APAAR' आईडी स्टूडेंटस के लिए बेहद जरूरी, जानिये क्या मिलता है लाभ?

Baat Aapke Kaam Ki: 'APAAR' आईडी स्टूडेंटस के लिए बेहद जरूरी, जानिये क्या मिलता है लाभ?

On This Day in History 17 Feb:  'स्टेथोस्कोप' के आविष्कारक का हुआ था जन्म. जानें आज का इतिहास

On This Day in History 17 Feb: 'स्टेथोस्कोप' के आविष्कारक का हुआ था जन्म. जानें आज का इतिहास

On This Day in History 16 Feb: दादा साहब फाल्के की पुण्यतिथि आज, 'क्योटो प्रोटोकॉल' से भी जुड़ा है इतिहास

On This Day in History 16 Feb: दादा साहब फाल्के की पुण्यतिथि आज, 'क्योटो प्रोटोकॉल' से भी जुड़ा है इतिहास

हमारे बारे में

एडिटरजी भारत में स्थित एक लोकप्रिय वीडियो समाचार और सूचना प्लेटफार्म है. इसकी शुरुआत साल 2018 में भारत के प्रमुख पत्रकारों में से एक, विक्रम चंद्रा, ने की थी, और कुछ ही सालों में एडिटर्जी ने  डिजिटल समाचार की दुनिया में अपनी अलग पहचान बना ली है. ये प्लेटफ़ॉर्म मुख्य रूप से मोबाइल उपकरणों के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसमें एंड्रॉइड और आईओएस के लिए एप्लिकेशन उपलब्ध हैं.

हमसे संपर्क करें

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.