हाइलाइट्स

  • पीएम मोदी के दावे पर उठ रहे सवाल
  • हर गांव बिजली पहुंचाने का किया था दावा
  • जर्मनी में भारतीयों को संबोधित करते हुए किया दावा
  • NDA राष्ट्रपति उम्मीदवार के गांव में पहुंचाई जा रही बिजली

लेटेस्ट खबर

IND vs WI: बिश्नोई-अक्षर के स्पिन जाल में उलझे कैरेबियाई बल्लेबाज, टीम इंडिया ने 4-1 से जीती टी-20 सीरीज

IND vs WI: बिश्नोई-अक्षर के स्पिन जाल में उलझे कैरेबियाई बल्लेबाज, टीम इंडिया ने 4-1 से जीती टी-20 सीरीज

CWG 2022: महिला क्रिकेट फाइनल से आई चौंकाने वाली खबर, कोविड पॉजिटिव होने पर भी खेली ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

CWG 2022: महिला क्रिकेट फाइनल से आई चौंकाने वाली खबर, कोविड पॉजिटिव होने पर भी खेली ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

CWG 2022: शरथ-श्रीजा की जोड़ी ने दिलाया में गोल्ड, भारतीय महिला क्रिकेट टीम को करना पड़ा रजत पदक से संतोष

CWG 2022: शरथ-श्रीजा की जोड़ी ने दिलाया में गोल्ड, भारतीय महिला क्रिकेट टीम को करना पड़ा रजत पदक से संतोष

Bihar news: बिहार में टूटेगा बीजेपी-जेडीयू गठबंधन! RJD से हाथ मिलाएंगे नीतीश कुमार?

Bihar news: बिहार में टूटेगा बीजेपी-जेडीयू गठबंधन! RJD से हाथ मिलाएंगे नीतीश कुमार?

Delhi Corona cases: दिल्ली में नहीं थम रहा कोरोना 'विस्फोट', क्या आ गई है चौथी लहर?

Delhi Corona cases: दिल्ली में नहीं थम रहा कोरोना 'विस्फोट', क्या आ गई है चौथी लहर?

सभी गांवों में पहुंचा दी बिजली... PM Modi के इस दावे पर सवाल क्यों उठा रहे हैं लोग?

नरेश शर्मा नाम के एक ट्विटर यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि काफी पहले खुद ही कह चुके हैं- झूठ बोलो, बार बार झूठ बोलो. आखिर किसी बात पर तो यकीन करना ही पड़ेगा. 

पीएम मोदी अपनी बयान की वजह से एक बार फिर चर्चा में हैं. सोशल मीडिया पर विरोधी पीएम मोदी को ट्रोल कर रहे हैं. ट्रोल करने के लिए जिन दो खबरों को आधार बनाया गया है, पहले उसकी चर्चा कर लेते हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने जर्मनी के म्यूनिख में दावा करते हुए कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार ने सभी गांवों में बिजली पहुंचा दी है.

वैसे कहा तो उन्होंने बहुत कुछ था लेकिन आज की चर्चा बिजली पर ही केंद्रित रखूंगा. अब दूसरी खबर की तरफ रुख करूंगा. इन दिनों NDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के पैतृक गांव मयूरभंज जिले के डूंगुरशाही में बिजली पहुंचाने की तैयारी ज़ोर-शोर से चल रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस गांव में करीब 20 परिवार हैं. वहीं उपरबेड़ा गांव अंतर्गत आने वाले बदाशाही और डूंगुरशाही गांव की आबादी करीब 3,500 बताई गई है.

हालात यह है कि लोगों को रात के काम-काज के लिए किरोसिन जलाकर रोशनी करनी पड़ती है. मोबाईल चार्ज करने के लिए दूसरे गांव जाना पड़ता है.

और पढ़ें- Agnipath Scheme: अग्निवीरों के लिए बीजेपी सांसद वरुण गांधी पेंशन छोड़ने को तैयार, सरकार दिखाएगी हिम्मत?

इन दो खबरों की वजह से सोशल मीडिया पर लोग पीएम मोदी के बयान की पड़ताल करने का दावा कर रहे हैं. विजय शंकर सिंह नाम के एक ट्विटर यूजर ने पीएम मोदी को निशाने पर लेते हुए लिखा है कि बर्लिन में प्रधानमंत्री जी ने कहा कि देश के हर गांव में बिजली पहुंचा दी गई है.' उसी अखबार में एक दूसरी ख़बर भी छपी है कि एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रोपदी मुर्मू के गांव में पहली बार बिजली पहुंचेगी. दोनों ही ख़बरें एक ही अख़बार की हैं.

नरेश शर्मा नाम के एक ट्विटर यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि काफी पहले खुद ही कह चुके हैं.... झूठ बोलो ! बार बार झूठ बोलो!! पूरी ताकत से झूठ बोलो !!! आखिर किसी बात पर तो यकीन करना ही पड़ेगा .....

वहीं संजीव गुप्ता नाम के एक अन्य यूजर्स ने लिखा कि कहने के पैसे थोड़े ना लगते हैं.

और पढ़ें- मधुबनी: NH-227L को लेकर सोशल साइट्स पर क्यों पूछे जा रहे सवाल, गड्ढे में सड़क या सड़क में गड्ढा?

राजा सेठी नाम के अन्य यूजर्स ने लिखा कि अब पाठक तय करे कि उसे दोनों में से कौन सी ख़बर सही माननी है?

अब एक और खबर देखते हैं... भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक रिपोर्ट जारी करते हुए कहा है कि वित्त वर्ष 2021-22 में 500 रुपए के नकली नोट, 2020-21 की तुलना में दोगुने हो गए हैं. केंद्रीय बैंक के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल की तुलना में 500 रुपए के नोट में 101.9% की बढ़ोतरी हुई है, जबकि 2 हजार रुपए के नोटों में 54.16% बढ़ोतरी देखने को मिली है.

वहीं अगर अन्य नोटों की बात करें तो पिछले वर्ष की तुलना में, 10 रुपए के नकली नोट 16.4% और 20 रुपए के नोट 16.5% बढ़े हैं. इसके अलावा 200 रुपए के नकली नोटों में 11.7% की वृद्धि देखी गई है. हालांकि यह खबर एक महीने पुरानी है. लेकिन इसका जिक्र इसलिए जरूरी है क्योंकि 8 नवंबर 2016 को पीएम मोदी ने जब अचानक नोटबंदी की घोषणा की तो तर्क यही दिया गया कि इससे नकली नोटों पर लगाम लगेगा.

और पढ़ें- Maharashtra Crisis: एकनाथ शिंदे की उद्धव ठाकरे से बगावत या BJP का 'बदला', संकट के मायने क्या?

RBI के आंकड़े बताते हैं कि पीएम मोदी ने जिस नकली नोट पर लगाम लगाने की सोच के साथ नोटबंदी की घोषणा की थी, वह अब तक पूरा नहीं हुआ है.

पीएम मोदी का एक और बयान सुनते हैं. हालांकि यह बयान आप विपक्षी दलों के मुंह से कई बार सुन चुके होंगे. दरअसल एक चुनावी रैली के दौरान पीएम मोदी कहते हैं कि विदेशों में इतने सारे काले धन जमा हैं कि अगर उसे भारत वापस ले आया जाए तो प्रत्येक देशवासियों को फ्री में 15 लाख रुपये मिल जाएंगे.

और पढ़ें- SSC GD 2018: PM Modi-Amit Shah से क्यों बोले छात्र, तलवार उठाने को मजबूर मत कीजिए?

हालांकि ABP ने इस बयान को लेकर जब तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से 2015 में सवाल किया था तो उन्होंने इसे चुनावी जुमला बता कर अपना पल्ला झाड़ लिया.

आज हमारे साथ इसी मुद्दे पर बातचीत करने के लिए वरिष्ठ पत्रकार प्रेम कुमार हैं.

अप नेक्स्ट

सभी गांवों में पहुंचा दी बिजली... PM Modi के इस दावे पर सवाल क्यों उठा रहे हैं लोग?

सभी गांवों में पहुंचा दी बिजली... PM Modi के इस दावे पर सवाल क्यों उठा रहे हैं लोग?

महंगाई की मार: RBI ने बढ़ाई repo rate, EMI बढ़ने से महंगाई कैसे होगी कंट्रोल?

महंगाई की मार: RBI ने बढ़ाई repo rate, EMI बढ़ने से महंगाई कैसे होगी कंट्रोल?

Lala Amarnath: पाकिस्तान में भी चुनाव जीत सकता था ये भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी | Jharokha 5 August

Lala Amarnath: पाकिस्तान में भी चुनाव जीत सकता था ये भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी | Jharokha 5 August

'मेडिकल साइंस का फेलियर' वाले बयान पर घिरे रामदेव...एलोपैथी फ्रेटरनिटी ने कहा- बिना जानें ना बोलें...

'मेडिकल साइंस का फेलियर' वाले बयान पर घिरे रामदेव...एलोपैथी फ्रेटरनिटी ने कहा- बिना जानें ना बोलें...

Third Battle of Panipat: सदाशिव राव की एक 'गलती' से मराठे हार गए थे पानीपत की जंग | Jharokha 4 August

Third Battle of Panipat: सदाशिव राव की एक 'गलती' से मराठे हार गए थे पानीपत की जंग | Jharokha 4 August

Christopher Columbus Discovery: भारत की खोज करते-करते कोलंबस ने कैसे ढूंढा अमेरिका? | Jharokha 3 August

Christopher Columbus Discovery: भारत की खोज करते-करते कोलंबस ने कैसे ढूंढा अमेरिका? | Jharokha 3 August

और वीडियो

Dadra and Nagar Haveli History: नेहरू के रहते कौन सा IAS अधिकारी बना था एक दिन का PM? Jharokha 2 August

Dadra and Nagar Haveli History: नेहरू के रहते कौन सा IAS अधिकारी बना था एक दिन का PM? Jharokha 2 August

Non-Cooperation Movement: जब अंग्रेज जज ने गांधी के सामने सिर झुकाया और कहा-आप संत हैं| Jharokha 1 August

Non-Cooperation Movement: जब अंग्रेज जज ने गांधी के सामने सिर झुकाया और कहा-आप संत हैं| Jharokha 1 August

Unemployment in India: देश में नौकरियों का नाश क्यों हो रहा है ? सरकारी दावों के उलट क्या कह रहे आंकड़ें

Unemployment in India: देश में नौकरियों का नाश क्यों हो रहा है ? सरकारी दावों के उलट क्या कह रहे आंकड़ें

Freebies Culture: क्या सियासत की 'रेवड़ी कल्चर' पर लगेगी रोक ? अर्थव्यवस्था को कैसे हो रहा नुकसान जानिए

Freebies Culture: क्या सियासत की 'रेवड़ी कल्चर' पर लगेगी रोक ? अर्थव्यवस्था को कैसे हो रहा नुकसान जानिए

Mission 2024 में मोदी का मुकाबला कर पाएंगे क्षत्रप, क्या है जमीनी हकीकत ?

Mission 2024 में मोदी का मुकाबला कर पाएंगे क्षत्रप, क्या है जमीनी हकीकत ?

5 July Jharokha: पाकिस्तान के खूंखार तानाशह Zia Ul Haq को पायलट ने मारा या आम की पेटियों में रखे बम ने ?

5 July Jharokha: पाकिस्तान के खूंखार तानाशह Zia Ul Haq को पायलट ने मारा या आम की पेटियों में रखे बम ने ?

Alluri Sitarama Raju: अंग्रेजों की बंदूकों पर भारी थे अल्लूरी सीताराम राजू के तीर, बजा दी थी ईंट से ईंट

Alluri Sitarama Raju: अंग्रेजों की बंदूकों पर भारी थे अल्लूरी सीताराम राजू के तीर, बजा दी थी ईंट से ईंट

Apple iPhone 1: आज ही बाजार में आया था पहला आईफोन, मच गया था तहलका!

Apple iPhone 1: आज ही बाजार में आया था पहला आईफोन, मच गया था तहलका!

Field Marshal General Sam Manekshaw: 9 गोलियां खाकर सर्जन से कहा- गधे ने दुलत्ती मार दी, ऐसे थे मानेकशॉ

Field Marshal General Sam Manekshaw: 9 गोलियां खाकर सर्जन से कहा- गधे ने दुलत्ती मार दी, ऐसे थे मानेकशॉ

Russia-Ukraine War: ‘वैक्यूम बम’ यानी फॉदर ऑफ ऑल बम ? जानिए सबकुछ

Russia-Ukraine War: ‘वैक्यूम बम’ यानी फॉदर ऑफ ऑल बम ? जानिए सबकुछ

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.