Why Petrol diesel price on rice in domestic market - जल्द ही 100 रुपये हो सकती है पेट्रोल की कीमत, जानें क्यों बढ़ रहे हैं दाम | Editorji Hindi
  1. home
  2. > ख़बर को समझें
  3. > सेंचुरी लगाने के करीब पेट्रोल, जानें 30 रुपए का पेट्रोल क्यों 90 रुपए का?
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

सेंचुरी लगाने के करीब पेट्रोल, जानें 30 रुपए का पेट्रोल क्यों 90 रुपए का?

Feb 10, 2021 15:00 IST

भारत में पहले ही तेल के दाम आसमान छू रहे हैं. ऐसे में कच्चे तेल के दाम में आई तेजी की वजह से जानकार मान रहे हैं कि भारतीय बाज़ार में पेट्रोल की कीमत बहुत जल्द 100 रुपये के पार जा सकती है. बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड 61 डॉलर प्रति बैरल के ऊपर पहुंच गया है जो कि 24 जनवरी 2020 के बाद सबसे ऊंचा स्तर है. लेकिन जब कीमतें 50 डॉलर के अँदर थीं तब भी भारत में पेट्रोल 85 रुपए के करीब था. आइए आपको बताते हैं कि आखिर क्यों भारत में पेट्रोल-डीजल इतना महंगा है... 

-- करीबन 30 रुपये की लागत वाला पेट्रोल दिल्ली में 87 रुपए के पार है तो मुंबई में 94 रुपए प्रति लीटर के करीब 

-- यानि 55 से 60 रुपए सिर्फ टैक्स है 

-- पेट्रोलियम पर सबसे ज्यादा टैक्स लगाने के मामले में भारत दुनिया के टॉप 5 देशों में शामिल है 

-- पेट्रोल-डीजल पर बिक्री कर ( Excise Duty) कलेक्शन में इस वित्त वर्ष में जबरदस्त उछाल  

-- अप्रैल से नवंबर 2020 तक सरकार का एक्साइज ड्यूटी कलेक्शन पिछले साल के 1,32,899 करोड़ से बढ़कर 1,96,342 करोड़ रुपये पहुंच गया 

-- सरकार ने लॉकडाउन के दौरान ही पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी में 13 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 16 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी थी 

पेट्रोल-डीजल के दामों में डीलर कमीशन और सरकार के जरिए वसूला गया टैक्स भी जुड़ा हुआ रहता है. केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी तो राज्य सरकारें वैट लगाती हैं. वहीं, कई जगहों पर ट्रांसपोर्ट और लोकल बॉडी टैक्स भी लगता है. आइए आपको समझाते हैं कि कैसे 30 रुपए का पेट्रोल 90 रुपए पहुंच जाता है... 

- 16 जनवरी को दिल्ली में डीलर के लिए पेट्रोल की बेस प्राइस थी 28.50 रुपये प्रति लीटर

- इस पर एक्साइज ड्यूटी यानि केंद्र का टैक्स लगा 32.98 रुपये प्रति लीटर

- राज्य सरकार का वैट लगा था 19.55 रुपये प्रति लीटर

- डीलर का कमीशन था 3.67 रुपये प्रति लीटर

- सब मिलाकर 16 जनवरी को दिल्ली में आम आदमी को पेट्रोल मिला 84.60 रुपये प्रति लीटर

- यानि 84.60 रुपये प्रति लीटर के पेट्रोल में कुल 52.53 रुपये का टैक्स लगा

इसी वजह से लंबे समय से ये मांग हो रही है कि पेट्रोल-डीजल को भी GST के दायरे में लाया जाए. अगर ऐसा हुआ तो पेट्रोल-डीजल के दाम में भारी गिरावट आ सकती है, क्योंकि जीएसटी की अध‍िकतम दर 28 फीसदी ही है. 

 

 

 

ख़बर को समझें