30 मार्च को क्यों मनाते हैं विश्व इडली दिवस? | Editorji Hindi
  1. home
  2. > लाइफ़स्टाइल
  3. > 30 मार्च को क्यों मनाते हैं विश्व इडली दिवस?
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

30 मार्च को क्यों मनाते हैं विश्व इडली दिवस?

Mar 29, 2019 19:15 IST

30 मार्च ... यानि विश्व इडली दिवस ... इडली ... और सांभर ... इसका नाम सुनते ही ख्याल आता है एक ऐसे डिश का ... जो न सिर्फ सेहतमंद है बल्कि डेलिशस भी है ... और जब बात इडली की हो तो बिना अपनी खासमखास दाल और नारियल वाली चटनियों के इसका TASTE अधूरा है ... सोच कर ही मुंह में पानी आ जाता है ... सांचे से निकली गर्मागर्म इडलियां... मज़ेदार सांभर ... और तरह तरह की चटनियां ... बस और क्या चाहिए ... शायद आपको ये पता ना हो ... लेकिन अपने TASTE के साथ साथ हेल्दी होने की वजह से इडली सांभर आज देश के फेवरिट ब्रेकफास्ट में शुमार हो चुका है ... सिर्फ साउथ इंडिया में ही नहीं, पूरे देश में ब्रेकफास्ट का ये फेवरिट आइटम बन चुका है ... अच्छा अब आपको इससे जुड़ी एक और खास बात बताते हैं ... हम सब इडली को साउथ इंडियन डिश समझते हैं ... पर माना जाता है कि इडली मूल रूप से इंडोनेशिया से है, इसे वहां 'केडली' कहते हैं ... हर साल 30 मार्च को इडली दिवस मनाते हैं ... इसके पीछे की कहानी भी दिलचस्प है ... दरअसल ये चेन्नई के एक बेहद पॉपुलर इडली बनाने वाले कैटरर एनियावन के दिमाग की उपज है, साल 2015 में एनिया

लाइफ़स्टाइल