चुनाव में भारतीय पत्रकारों की इजराइली कंपनी ने जासूसी की: WhatsApp

home > भारत > चुनाव में भारतीय पत्रकारों की इजराइली कंपनी ने जासूसी की: WhatsApp
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

चुनाव में भारतीय पत्रकारों की इजराइली कंपनी ने जासूसी की: WhatsApp

Oct 31, 2019 17:37 IST

WhatsApp यूजर्स के लिए एक चौंकाने वाली खबर है. कंपनी ने खुलासा किया है कि 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान भारत के कई पत्रकारों और एक्टिविस्टों की एक इज़राइली कंपनी ने जासूसी की. WhatsApp ने इस इज़राइली कंपनी के खिलाफ सैन फ्रैंसिस्को की एक फेडरल कोर्ट में केस दर्ज किया है. WhatsApp ने बताया है कि इस कंपनी ने अपने स्पाई सॉफ्टवेयर पेगसस के जरिए ये जासूसी की. कंपनी ने बताया कि पेगसस के जरिए व्हाट्सऐप मिस्ड कॉल की जाती है और मिस्ड कॉल आते ही यूजर का मोबाइल फोन पूरी तरह से जासूसी कंपनी के कंट्रोल में चला जाता है. आपकी हर चैट, मेसेज, कॉन्टैक्ट, फोटोज और यहां तक कि आपके माइक्रोफोन को भी कंट्रोल किया जा सकता है. WhatsApp ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया है कि भारत के करीब दो दर्जन लोगों को चुनाव के दौरान सर्विलांस में लिया गया था. हालांकि अभी ये साफ नहीं हुआ है कि भारतीय पत्रकारों और सोशल एक्टिविस्टों पर किसके इशारे पर नजर रखी जा रही थी.

भारत