कोरोना की मार- बंगाल में चाय इंडस्ट्री को लगभग 46% का घाटा

  1. home
  2. > लाइफ़स्टाइल
  3. > कोरोना की मार- बंगाल में चाय इंडस्ट्री को लगभग 46% का घाटा
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

कोरोना की मार- बंगाल में चाय इंडस्ट्री को लगभग 46% का घाटा

May 21, 2020 15:54 IST

देश में जारी लॉकडाउन की मार चाय के बागानों पर भी खूब पड़ी है। असम के जोरहाट के चाय अनुसंधान संघ के आंकड़ों से सामने आया है कि लॉकडाउन के चलते बंगाल की चाय उद्योग को करीब 46 प्रतिशत का नुकसान हुआ है। असम और बंगाल देश के सबसे बड़े चाय उत्पादक राज्य हैं....स्थिति का जायजा लेने के लिए असम, बंगाल और त्रिपुरा के करीब 459 चाय बागानों का विश्लेषण किया गया है। रिसर्च दिखाता है कि तराई और डुआर्स के चाय बागानों में पिछले साल की तुलना में लगभग आधी फसल नष्ट हो गई है। तो वहीं दार्जिलिंग की पहाड़ियों में फसल के 30 फीसदी का नुकसान हुआ है। Tea Research Association के मुताबिक, असम के अलग अलग काढ़ा (Brew) बेल्ट में लगभग 47 से 73 प्रतिशत तक का नुकसान हुआ है। ऑर्गनाइजेशन के मुताबिक, तापमान में बदलाव, वर्कफोर्स में कमी और कोविड-19 इस नुकसान के लिए जिम्मेदार हैं

लाइफ़स्टाइल