This German artist is on a mission to clean Kerala's beach | Editorji Hindi
  1. home
  2. > पर्यावरण
  3. > समंदर के कचरे का बेस्ट इस्तेमाल, कोवलम बीच पर जर्मन आर्टिस्ट का कमाल
prev icon/Assets/images/svg/play_white.svgnext button of playermute button of playermaximize icon
mute icontap to unmute
video play icon
00:00/00:00
prev iconplay paus iconnext iconmute iconmaximize icon
close_white icon

समंदर के कचरे का बेस्ट इस्तेमाल, कोवलम बीच पर जर्मन आर्टिस्ट का कमाल

Mar 01, 2020 10:20 IST

केरल में जर्मनी की महिला गैब्रिएल एक खास मकसद से हर साल कोवलम आती हैं। गैब्रिएल हर साल यहां आकर बीच के किनारे फेंके गए कचरों में से कुछ का इस्तेमाल कर कलाकृतियां बनाती हैं। मछली पकड़ने के नाव के टुकड़ों से लेकर प्लास्टिक की बोतल और कंटेनर तक...कोवलम के हावा बीच पर घूमते टहलते उन्होंने इसका कलेक्शन तैयार किया है। बर्लिन की रहने वाली ये आर्टिस्ट पिछले 24 सालों से यहां आ रही हैं और अब उनका मकसद कोवलम में बीचों पर होने वाले कचरे के लिए वेस्ट ट्रीटमेंट सेटअप तैयार करना है। बता दें कि तिरुवनंतपुरम का कोवलम अपने खूबसूरत बीच और ताड़ के पेड़ों के लिए काफी मशहूर है।

समंदर के कचरे का बेस्ट इस्तेमाल, कोवलम बीच पर जर्मन आर्टिस्ट का कमाल

1/1

समंदर के कचरे का बेस्ट इस्तेमाल, कोवलम बीच पर जर्मन आर्टिस्ट का कमाल

लाइफ़स्टाइल