Pegasus attack bigger than emergency, not possible without Centre's consent: ShivSena - Pegasus हमला आपातकाल से भी बड़ा, केंद्र की सहमति के बिना ये संभव नहीं: ShivSena | Editorji Hindi
  1. home
  2. > राजनीति
  3. > Pegasus का हमला इमरजेंसी से भी बड़ा, केंद्र की सहमति के बिना ऐसा संभव नहीं: Shiv Sena
prev icon/Assets/images/svg/play_white.svgnext button of playermute button of playermaximize icon
mute icontap to unmute
video play icon
00:00/00:00
prev iconplay paus iconnext iconmute iconmaximize icon
close_white icon

Pegasus का हमला इमरजेंसी से भी बड़ा, केंद्र की सहमति के बिना ऐसा संभव नहीं: Shiv Sena

Jul 22, 2021 21:24 IST | By Editorji News Desk

शिवसेना ने अपने मुखपत्र 'सामना' में कहा है कि Pegasus चुनिंदा भारतीयों पर किया गया एक साइबर हमला है, और ऐसा हमला केंद्र सरकार की सहमति के बिना मुमकिन नहीं. शिवसेना ने 'सामना' में लिखा- Pegasus का हमला आपातकाल से भी बड़ा है. जब कांग्रेस शासन के दौरान जासूसी के मामले सामने आए थे, तब बीजेपी ने प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को इसके लिए ज़िम्मेदार ठहराते हुए उनके इस्तीफ़े की मांग की थी. अब वो खुद सत्ता में है, लेकिन संसद में इस मुद्दे पर चर्चा के लिए भी तैयार नहीं है.

इसके साथ ही शिवसेना ने मांग की है कि इस जासूसी कांड की जांच संयुक्त संसदीय समिति यानि (JPC) द्वारा की जानी चाहिए. नहीं तो सुप्रीम कोर्ट को स्वत: संज्ञान लेना चाहिए और एक स्वतंत्र समिति नियुक्त करनी चाहिए. इसी में राष्ट्रीय हित निहित है. 

यह भी पढ़ें: Pegasus: IT मंत्री ने 'जासूसी' रिपोर्ट को बताया साजिश, TMC सांसद ने स्टेटमेंट छीन कर फाड़ा  

Pegasus का हमला इमरजेंसी से भी बड़ा, केंद्र की सहमति के बिना ऐसा संभव नहीं: Shiv Sena

1/3

Pegasus का हमला इमरजेंसी से भी बड़ा, केंद्र की सहमति के बिना ऐसा संभव नहीं: Shiv Sena

UP Election 2022: BJP ने चुनावों के मद्देनजर कसी कमर, सोमवार को बुलाई प्रदेश पदाधिकारियों की बड़ी बैठक

2/3

UP Election 2022: BJP ने चुनावों के मद्देनजर कसी कमर, सोमवार को बुलाई प्रदेश पदाधिकारियों की बड़ी बैठक

Rajasthan Cabinet Expansion: जल्द होगा कैबिनेट विस्तार, पायलट गुट को तवज्जो मिलेगी

3/3

Rajasthan Cabinet Expansion: जल्द होगा कैबिनेट विस्तार, पायलट गुट को तवज्जो मिलेगी

राजनीति