Oxford University will reintroduce the virus into the bodies of those who have defeated Corona! - कोरोना को हरा चुके लोगों के शरीर में फिर से वायरस डालेगी ऑक्सफ़र्ड यूनिवर्सिटी ! | Editorji Hindi
  1. home
  2. > कोविड-19
  3. > ऑक्सफ़र्ड की कोरोना वैक्सीन और प्रभावी बनाने की कोशिश, नए सिरे से ट्रायल
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

ऑक्सफ़र्ड की कोरोना वैक्सीन और प्रभावी बनाने की कोशिश, नए सिरे से ट्रायल

Apr 19, 2021 11:49 IST | By Editorji News Desk

दुनिया भर में वैक्सीनेशन के बावजूद कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में वैक्सीन को और ज्यादा असरदार बनाने के लिए ऑक्सफ़र्ड यूनिवर्सिटी (Oxford University) ने नई योजना बनाई है. जिसके तहत ऐसे लोगों के शरीर में ज़िंदा वायरस (Live virus) डाला जाएगा जो पहले कोरोना से ठीक हो चुके हैं. ऐसे लोगों की उम्र 18-30 साल के बीच होनी चाहिए. यूनिवर्सिटी के मुताबिक इन सभी लोगों के शरीर में कोरोना वायरस की वुहान स्ट्रेन (Wuhan strain) डाली जाएगी. ऑक्सफ़र्ड यूनिवर्सिटी ये परीक्षण 64 लोगों पर करना चाहती है.
इन वॉलंटियर्स को 17 दिनों तक क्वारंटीन में रखा जाएगा. रिसर्च के नतीजों से वैज्ञानिकों को और असरदार वैक्सीन बनाने में मदद मिलेगी. इसके अलावा ये भी पता चलेगा कि कितने दिनों में दोबारा किसी मरीज़ में कोरोना वायरस (Corona virus) का संक्रमण हो रहा है. बता दें कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने ही एस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर कोरोना की वैक्सीन तैयार की है, जिसे भारत में कोवाशिल्ड के नाम से जाना जाता है.

कोविड-19