बचपन में ऑयली मछली खाने से अस्थमा का खतरा 50% कम- रिसर्च - बचपन में ऑयली मछली खाने से अस्थमा का खतरा 50% कम- रिसर्च | Editorji Hindi
  1. home
  2. > लाइफ़स्टाइल
  3. > बचपन में ऑयली मछली खाने से अस्थमा का खतरा 50% कम: रिसर्च
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

बचपन में ऑयली मछली खाने से अस्थमा का खतरा 50% कम: रिसर्च

Jan 30, 2021 18:15 IST

बच्चों के डाइट में शामिल करें ओमेगा 3 फैटी एसिड, इससे उनमें अस्थमा का खतरा 50 फीसदी तक कम हो सकता है. यूरोपियन रेस्पिरेटरी जर्नल में छपी एक स्टडी ने ये खुलासा किया है. स्टडी के मुताबिक 90 के दशक में करीब 4500 बच्चों पर इसे लेकर स्टडी की गई जिसके नतीजे बताते हैं कि - जिन बच्चों ने ओमेगा-3 से भरपूर मछली अधिक से अधिक खाई उनमें 11-14 की उम्र के बीच जानलेवा सांस की बीमारी यानि अस्थमा का खतरा 50 फीसदी तक कम पाया गया. एक्सपर्ट्स ने हफ्ते में कम से कम दो बार ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर सालमन, बांगरा और सार्डीन जैसी मछलियां खाने की सलाह दी है. हालांकि, रिसर्चर्स का ये भी कहना है कि ज्यादा मछली खाने से बच्चों में अस्थमा की बीमारी बिल्कुल चली जाएगी ऐसा भी नहीं है, लेकिन खतरा 50 फीसद तक कम जरूर हो जाएगा. 

लाइफ़स्टाइल