nitin gadkari said 1947 will repeat if veer savarkar will be forgotten | Editorji Hindi
  1. home
  2. > राजनीति
  3. > वीर सावरकर को भूले तो दोहरा सकता है 1947: नितिन गडकरी
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

वीर सावरकर को भूले तो दोहरा सकता है 1947: नितिन गडकरी

Feb 28, 2020 09:50 IST

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि वीर सावरकर को बिना जानें टिप्पणी करना उचित नहीं है. गडकरी. सावरकर साहित्य सम्मेलन में बोल रहे थे. नितिन गडकरी ने कहा ''सावरकर को अगर भूल जाएंगे तो जो 1947 में एक बार हुआ, मुझे लगता है कि आगे भविष्य के दिन भी अच्छे नहीं जाएंगे.'' इसके साथ ही ये भी कहा कि भारत को सेकुलरिज्म और लोकतंत्र पर पाठ पढ़ाने की जरूरत नहीं है ये दोनों ही भारतीय संस्कृति में पहले से मौजूद हैं. गडकरी ने पाकिस्तान, सीरिया और तुर्की का उदाहरण देते हुए कहा जिन देशों में मुसलमान बहुसंख्यक हैं वहां सेकुलरिज्म प्रभावित होता है. गडकरी बोले कि बीते 5 हजार साल का इतिहास उठाकर देख लें कभी किसी हिंदू राजा ने किसी मस्जिद को नहीं तोड़ा और न ही किसी का तलवार के दम पर धर्मांतरण करवाया.

राजनीति