meet Godawari Dutta, the Shilp Guru of mithila painting | Editorji Hindi
  1. home
  2. > लाइफ़स्टाइल
  3. > 5 दशक से मधुबनी पेंटिंग को पहचान दिला रही हैं 93 साल की गोदावरी दत्ता
prev iconnext button of playermute button of playermaximize icon
mute icontap to unmute
video play icon
00:00/00:00
prev iconplay paus iconnext iconmute iconmaximize icon
close_white icon

5 दशक से मधुबनी पेंटिंग को पहचान दिला रही हैं 93 साल की गोदावरी दत्ता

Feb 26, 2020 16:01 IST

मिलिए बिहार की रहने वाली 93 साल की गोदावरी दत्ता से....जिन्हें मिथिला पेंटिंग की शिल्पगुरु माना जाता है. 93 साल की गोदावरी दत्ता बिहार के मधुबनी जिले में रहती हैं और उन्होंने मिथिला पेंटिग को एक संभाग से निकालकर देश-दुनिया में पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाई है. वो बीते पांच दशक से मिथिला पेंटिंग पर काम कर रही हैं और उनके बनाए चित्रों को देख कर लोग बरबस ही दांतों तले उंगलियां दबा लेते हैं. इतना ही नहीं लोग उनसे पेंटिंग्स के गुर सीखने के लिए भी आते हैं. दत्त की पेंटिंग्स को अंतर्राष्ट्रीय ख्याति भी प्राप्त है जापान के मिथिला म्यूजियम में भी उनकी कृतियों को लगाया गया है. गोदावरी दत्त को मिथिला पेंटिंग में लगातार उत्कृष्ट काम के लिए भारत सरकार की ओर से साल 2019 में पद्मश्री अवार्ड से भी सम्मानित किया गया. इसके अलावा भी उन्हें कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मान मिल चुके हैं.

लाइफ़स्टाइल