मरकज ने मांगा था 17 गाड़ियों का कर्फ्यू पास, पुलिस की चुप्पी पर सवाल

  1. home
  2. > भारत
  3. > मरकज ने मांगा था 17 गाड़ियों का कर्फ्यू पास, पुलिस की चुप्पी पर सवाल
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

मरकज ने मांगा था 17 गाड़ियों का कर्फ्यू पास, पुलिस की चुप्पी पर सवाल

Mar 31, 2020 19:17 IST

दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के मरकज़ की ओर से अब तमाम आरोपों और सवालों का जवाब आया है. मरकज की ओर से जारी जवाब में कहा गया है कि उनकी तरफ से नियम का कोई उल्लंघन नहीं किया गया, बल्कि पुलिस और प्रशासन ने लापरवाही बरती. मरकज ने कहा है कि लॉकडाउन में फंसे लोगों को भेजने के लिए उन्होंने पुलिस प्रशासन ने कर्फ्यू पास मांगा लेकिन कोई जवाब नहीं मिला. जवाब में ये भी कहा गया है कि जब जनता कर्फ्यू का ऐलान हुआ उस समय बहुत सारे लोग मरकज में थे, लेकिन कर्फ्यू के ऐलान के साथ ही मरकज को बंद कर दिया गया. फिर 21 मार्च से ही रेल और बस सेवाएं बन्द होने लगीं, पर हमने जैसे तैसे आसपास के 1500 लोगों को वापस भेजा. बचे हुए 1000 लोगों में से ज्यादातर विदेशी नागरिक थे. मरकज के मुताबिक लॉकडाउन के ऐलान के बाद प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का आदेश मानते हुए लोगों को बाहर भेजना सही नहीं समझा गया, और जो लोग वहां पहले से थे वो मरकज में ही फंस गए. पर जवाब में सबसे अहम बात ये है कि जमात ने मरकज खाली करने के लिए एसडीएम को अर्जी देकर 17 गाड़ियों के लिए कर्फ्यू पास मांगा, लेकिन उन्हें आजतक जवाब नहीं मिला. मरकज ने अपनी सफाई में कहा है कि वो लगातार पुलिस को सूचना दे रहे थे कि उनके यहां लोग यहां फंसे हुए हैं, लेकिन सुनवाई नहीं हुई.

भारत