लॉकडाउन 4: पैदल ही पलायन करने को मजबूर मजूदर की कहानी

  1. home
  2. > हिन्दुस्तान
  3. > लॉकडाउन 4: पैदल ही पलायन करने को मजबूर मजूदर की कहानी
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

लॉकडाउन 4: पैदल ही पलायन करने को मजबूर मजूदर की कहानी

May 20, 2020 23:55 IST

कोरोना वायरस लॉकडाउन की सबसे अधिक मार गरीब और प्रवासी मजदूरों पर पड़ रही है। काम-धंधे बंद होने कारण एक ओर इनके पास जहां भरपेट खाने तक के पैसे नहीं बचे हैं। वहीं इनके दुधमुंहे बच्चे भी अब पानी पीकर दिन काट रहे हैं। पैदल ही पलायन करने को मजबूर इन मजूदरों को भुखमरी से बचाने के लिए केंद्र से लेकर राज्य सरकारें भले ही लाख दावें करें, लेकिन हकीकत इसके बिल्कुल विपरीत है। सरकारों को इन गरीब प्रवासी मजदूरों को राशन देने के साथ ही इनके दुधमुंहे नौनिहालों के लिए भी दूध का कोई इंतजाम करना चाहिए था, लेकिन इस पर किसी ने कोई ध्यान नहीं दिया। इसके चलते ये बेबस और लाचार छोटे-छोटे बच्चे अब पानी के सहारे ही अपना पेट भर रहे हैं।

हिन्दुस्तान