कोई 900 तो कोई 1000 Km के पैदल सफर पर... मजदूरों की मजबूरी

  1. home
  2. > भारत
  3. > कोई 900 तो कोई 1000 Km के पैदल सफर पर... मजदूरों की मजबूरी
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

कोई 900 तो कोई 1000 Km के पैदल सफर पर... मजदूरों की मजबूरी

Mar 29, 2020 10:11 IST

ये तस्वीरें जयपुर की हैं... सिर पर और पीठ पर सामान लादे ये लोग गरीब दिहाड़ी मजदूर हैं जो राजस्थान के अलग अलग शहरों में काम करते थे, रहने वाले यूपी बिहार के हैं. अब न काम है, न पैसा, उपर से मालिक ने निकाल दिया है सो अलग... गाड़ियां नहीं है, कोई साधन नहीं है, लिहाजा पैदल ही सैकड़ों किमी दूर अपने घर की ओर निकल पड़े हैं. बाइट- अमर सिंह - "I started my journey from Jodhpur & will go to Banda - a distance of over 900 kilometers," says Amar Singh Yadav, a labourer. अमर की तरह ये भी यूपी के आगरा के गांव के रहने वाले हैं, अहमदाबाद से पैदल चलकर जयपुर पहुंचे हैं, लेकिन आगरा अभी भी बहुत दूर है. बाइट- I am coming from Ahmedabad in Gujarat & have to go to Agra in Uttar Pradesh. I did not want to leave the city but my employer refused to give money & ration. I have not eaten properly for the past 3 days: A labourer in Jaipur, Rajasthan. #CoronavirusLockdown इनकी मजबूरी है, लॉकडाउन के बाद से वो बिना पैसे और खाने के भूख से नहीं मरना चाहते, लिहाजा अपने गांव घर के सफर पर चल दिए हैं. हालांकि सरकारों ने उनके लिए खाने, पानी का इंतजाम करने को कहा है, उम्मीद है इनकी परेशानी जल्द दूर होगी.

भारत