Gudi Padwa 2021: जानिये कब है गुड़ी पड़वा और क्या है इसका महत्व - Gudi Padwa 2021: जानिये कब है गुड़ी पड़वा और क्या है इसका महत्व | Editorji Hindi
  1. home
  2. > लाइफ़स्टाइल
  3. > Gudi Padwa 2021: जानिये कब है गुड़ी पड़वा और क्या है इसका महत्व ?
prev iconnext button of playermute button of playermaximize icon
mute icontap to unmute
video play icon
00:00/00:00
prev iconplay paus iconnext iconmute iconmaximize icon
close_white icon

Gudi Padwa 2021: जानिये कब है गुड़ी पड़वा और क्या है इसका महत्व ?

Apr 09, 2021 18:02 IST | By Editorji News Desk

महाराष्ट्र में मनाये जाने वाले त्यौहारों में गुड़ी पड़वा सबसे महत्वपूर्ण है. हिंदू पंचांग के अनुसार, साल के पहले महीने के पहले दिन इस त्यौहार को मनाया जाता है. इस साल गुड़ी पड़वा 13 अप्रैल को मनाया जाएगा.

इस दिन को फसल दिवस के तौर पर मनाते हैं. महाराष्‍ट्र और गोवा के साथ ही दक्षिण भारत के कुछ राज्‍यों में इस दिन को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. यहां ये त्यौहार को 'उगादि' कहलाता है, तो वहीं उत्‍तर भारत में इस दिन से चैत्र नवरात्र की शुरुआत होती है जिसमें 9 दिनों तक देवी दुर्गा की उपासना होती है. महाराष्ट्र में गुड़ी पड़वा का विशेष महत्व है. इस दिन एक बांस लेकर उसके ऊपर चांदी, तांबे या पीतल का उल्टा कलश रखा जाता है जो गुड़ी कहलाता है फिर सुन्दर कपड़े से इसे सजाया जाता है. इसके अलावा घरों में मुख्‍य द्वार को तोरण यानी आम या अशोक के पत्तों से बंदरवार बनाकर सजाया जाता है और घरों में मीठी रोटी बनाई जाती है. जिसे पूरन पोली कहा जाता है. पूरन पोली गुड़, नमक, नीम के फूल, इमली और कच्चा आम मिलाकर बनाई जाती है. मान्‍यता है कि इस दिन सृष्टि के रचयिता ब्रह्माजी ने संसार की रचना की थी और बुराइयों का अंत किया था. इसीलिए इस दिन ब्रह्माजी की विशेष रूप से पूजा की जाती है. मान्‍यता है इस दिन अपने घर को सजाने और गुड़ी फहराने से घर में सुख समृद्धि आती है और बुराइयों का नाश होता है.

लाइफ़स्टाइल