Government will digitally maintain every data regarding vaccination - वैक्सीनेशन को लेकर हर डेटा डेटा डिजटली मेंटेन करेगी सरकार | Editorji Hindi
  1. home
  2. > ख़बर को समझें
  3. > जानिए 16 जनवरी से कैसे होगा वैक्सीनेशन, क्या है तैयारी?
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

जानिए 16 जनवरी से कैसे होगा वैक्सीनेशन, क्या है तैयारी?

Jan 11, 2021 14:54 IST

भारत में बनी दो कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सिन को मिली मंजूरी के बाद, 16 जनवरी से देशभर में टीकाकरण प्रोग्राम शुरू होने वाला है. ये मैराथन अभियान काफी बड़ा होने वाला है लिहाजा तैयारी भी पुख्ता की जा रही है. सरकार की ओर से वैक्सीन लेनेवालों का डेटा डिजटली मेंटेन करने पर फोकस किया जा रहा है. इसके लिए CoWIN ऐप का इस्‍तेमाल किया जाएगा और पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड देने वालों को तुरंत यूनिक हेल्‍थ आईडी मिल जाएगी. आखिर इतने बड़े स्तर पर सरकार कैसे करेगी डेटा मैनेज और आधार देनेवालों को क्या है फायदा जानें यहां.

 इस तरह डेटा डिजटली मेंटेन करेगी सरकार

वैक्सीन लगवाने वाले हर शख्स का पूरा डेटा रिकॉर्ड में रखेगी सरकार
पहचान पत्र के रूप में आधार देने वालों को तुरंत मिलेगी यूनिक हेल्‍थ आईडी
UHID जेनरेट होने के साथ ही व्‍यक्ति के हेल्‍थ रिकॉर्ड्स डिजिटली मेंटेन होंगे
CoWIN ऐप का इस्‍तेमाल होगा, इस पर वैक्सीनेशन की होगी पूरी जानकारी
किस शख्स को कौन सी वैक्सीन लगी है, इसका भी रिकॉर्ड रखा जाएगा
सरकार ने क्या दी सलाह?
लाभार्थियों को उनके आधार में लेटेस्‍ट मोबाइल नंबर फीड कराने की सलाह
ताकि रजिस्‍ट्रेशन और बाकी जानकारी SMS के जरिए मिल सके
वैक्‍सीन के लिए आधार के अलावा दूसरी कोई भी सरकारी आईडी भी चलेगी
4 घंटे में यूज करना होगा टीके का डोज
हर वायल में करीब 10 डोज होंगी, जिन्हें 4 घंटे के अंदर यूज करना होगा
ऐसा इसलिए क्‍योंकि वैक्‍सीन वायल मॉनिटर्स उपलब्‍ध नहीं हैं
टीके दो डोज वाले हैं जो 28 दिन के अंतराल पर लगेंगे

ख़बर को समझें