World Blood Donor Day 2021: 'Give blood and keep the world beating' - World Blood Donor Day 2021: रक्तदान के दौरान इन बातों का रखें ख्याल | Editorji Hindi
  1. home
  2. > हेल्थ
  3. > करने जा रहे हैं ब्लड डोनेट? इन बातों का रखें खास ख्याल
prev icon/Assets/images/svg/play_white.svgnext button of playermute button of playermaximize icon
mute icontap to unmute
video play icon
00:00/00:00
prev iconplay paus iconnext iconmute iconmaximize icon
close_white icon

करने जा रहे हैं ब्लड डोनेट? इन बातों का रखें खास ख्याल

Jun 13, 2021 13:54 IST | By Editorji News Desk

 

एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में ही खून की कमी से हर साल लगभग 30 लाख लोगों की जान जाती है. जबकि अगर भारत की सिर्फ एक फीसदी आबादी रक्तदान शुरू कर दे तो भारत में इससे एक भी मौत नहीं होगी. इसीलिए तो रक्तदान को कहते हैं जीवन का सबसे बड़ा दान.


सुरक्षित ब्लड डोनेशन के लिए कुछ सावधानियों को बरतना बेहद जरूरी है. अगर आप भी कहीं ब्लड डोनेट करने जा रहे हैं तो इन खास बातों का जरूर ध्यान रखें.

 

- ब्लड डोनेशन से 2 घंटे पहले सही डायट लें
- रक्तदान से पहले और बाद में खुद का हाइड्रेटेड रखें
- अगर आप नियमित डोनर हैं तो आयरन से भरपूर डायट लें

- ध्यान रखें कि डोनेशन से एक हफ्ते पहले आपको कोल्ड या फीवर ना रहा हो.

- रक्तदान के 24 से 48 घंटे के भीतर एल्कोहल का सेवन ना करें

- अगर आप एंटीबायोटिक ट्रीटमेंट या इंसुलिन थेरेपी या कोई दवाई ले रहे हों तो ब्लड डोनेट नहीं कर सकते

- पिछले 6 महीने में अगर कोई मेजर सर्जरी रही हो तो भी ब्लड डोनेट नही कर सकेंगे

- पिछले 24 घंटे में किसी तरह की कोई वैक्सीन ली हो तो ब्लड डोनेट नहीं कर सकते

- पिछले 6 महीने में कोई मिसकैरेज या प्रेग्नेंसी हो या फिर

- एक साल से ब्रेस्टफीडिंग करवा रही हों

इस स्थिति में भी ब्लड डोनेट नहीं कर सकते

 



करने जा रहे हैं ब्लड डोनेट? इन बातों का रखें खास ख्याल

1/3

करने जा रहे हैं ब्लड डोनेट? इन बातों का रखें खास ख्याल

Coconut water benefits: रोज़ाना पिएं एक नारियल पानी, स्वास्थ्य के लिए है बेहद फायदेमंद

2/3

Coconut water benefits: रोज़ाना पिएं एक नारियल पानी, स्वास्थ्य के लिए है बेहद फायदेमंद

Covid-19 से रिकवर होने के 9 महीनों बाद भी शरीर में रहती है एंटीबॉडी: स्टडी

3/3

Covid-19 से रिकवर होने के 9 महीनों बाद भी शरीर में रहती है एंटीबॉडी: स्टडी

लाइफ़स्टाइल