court gives important statement while giving bail to Disha Ravi - दिशा रवि को बेल देते वक्त कोर्ट ने क्या कहा, देखें यहां | Editorji Hindi
  1. home
  2. > भारत
  3. > दिशा को बेल देते हुए अदालत ने कहा- राज्य से अलग सोचने पर किसी को जेल में नहीं डाल सकते
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

दिशा को बेल देते हुए अदालत ने कहा- राज्य से अलग सोचने पर किसी को जेल में नहीं डाल सकते

Feb 24, 2021 11:03 IST

22 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने मंगलवार को जमानत दे दी. अपने फैसले में एडिशनल सेशंस जज धर्मेंद्र राणा ने कई अहम टिप्पणियां की हैं, Livelaw के मुताबिक आइए जानते हैं अदालत ने क्या कुछ कहा... 

दिशा रवि पर अदालत की बड़ी बातें 

- किसी भी लोकतांत्रिक देश में नागरिक सरकार की आत्मा की आवाज़ होते हैं
- किसी नागरिक को सिर्फ इसलिए जेल में बंद नहीं किया जा सकता क्योंकि वो राज्य की नीतियों से अलग सोचते हैं 
- राजद्रोह के केस का इस्तेमाल सरकार के आहत घमंड को राहत पहुंचाने के लिए नहीं किया जा सकता 
- हमारी पचास हजार साल की परंपरा हर तरह के विचारों और मतों को लेकर कभी असहनशील नहीं रही 
- ऋगवेद का उदाहरण देकर कोर्ट ने कहा कि सभी मतों को सम्मान देना हमारी सांस्कृतिक पहचान रही है 
- जागरूक नागरिक एक स्वस्थ लोकतंत्र की मजबूती को दर्शाते हैं 

- रिकॉर्ड्स को देखते हुए ये नहीं लगता कि दिशा के किसी भी अलगववादी संगठन से संबंध रहे हैं 

- कोर्ट ने कहा कि बिखरे और अपर्याप्त सबूतों के आधार पर दिशा को बेल के अधिकार से वंचित नहीं किया जा सकता  

 

भारत