गांव, किसान, मज़दूर, महिला, सैलरीड ... सबको मिला छप्परफाड़

  1. home
  2. > भारत
  3. > गांव, किसान, मज़दूर, महिला, सैलरीड ... सबको मिला छप्परफाड़
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

गांव, किसान, मज़दूर, महिला, सैलरीड ... सबको मिला छप्परफाड़

Feb 01, 2019 16:13 IST

आमचुनाव से ऐन पहले मोदी सरकार ने अपने अंतरिम बजट में सबको साधने की कोशिश की है। इंटेरिम वित्त मंत्री पीयूष गोयल के पिटारे से हर किसी के लिए तोहफे निकले। किसान, महिला, टैक्स पेयर, युवा, मजदूर ... गोयल ने हर किसी की झोली भरी। लोअर मिडिल क्लास को अब 5 लाख तक की सैलरी पर टैक्स नहीं देना होगा, किसानों को हर साल 6 हजार रुपये की कैश मदद मिलेगी, मजदूरों से हर महीने 100 रुपये लेकर 3000 की पेंशन, महिलाओं को उज्जवला योजना के तहत 2 करोड़ और गैस कनेक्शन, तो ग्रेच्युटी की सीमा 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 20 लाख रुपये। यानि अबकी बार सौगातें हजार।

भारत