Before suicide, the laborer wrote - not so much at home that there is action | Editorji Hindi
  1. home
  2. > कोविड-19
  3. > खुदकुशी से पहले मजदूर ने लिखा- घर पर इतना भी नहीं कि क्रिया कर्म हो
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

खुदकुशी से पहले मजदूर ने लिखा- घर पर इतना भी नहीं कि क्रिया कर्म हो

May 30, 2020 21:40 IST

देश में कोरोना वायरस की मार ने सबसे ज्यादा मजदूर तबके को चोट पहुंचाई है. अब उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में मैगलगंज थाना क्षेत्र में एक मजदूर ने रेल से कटकर खुदकुशी कर ली. मृतक मजदूर का नाम भानू प्रताप गुप्ता है और वो लॉकडाउन की वजह से बेरोजगार हो गया था. खबरों के मुताबिक भानू प्रताप के घर में अनाज का एक दाना भी नहीं बचा था, जिसके बाद उसने खुदकुशी कर ली. मृतक मजदूर की जेब से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसमें उसने अपनी गरीबी और बेरोजगारी का जिक्र किया है. यहीं नहीं सुसाइड नोट में उसने ये तक लिखा है कि हम इतनी गरीबी झेल रहे हैं कि मेरे मरने के बाद मेरे अंतिम संस्कार तक का भी पैसा मेरे परिवार के पास नहीं है. मजदूर भानू घर का इकलौता कमाने वाला था. उसके परिवार में बीमार बूढी मां, तीन बेटियां, एक बेटा और उसकी पत्नी हैं. भानू की पत्नी अब पूछ रही है कि हम कैसे जीएंगे. 

कोविड-19