हाइलाइट्स

  • Apple ने IPhone सहित अपने यूजर्स के लिए जारी किया इमरजेंसी सॉफ्टवेयर अपडेट
  • पेगासस जासूसी मामले के मद्देनजर यूजर्स की सुरक्षा के लिए Apple ने उठाया कदम
  • कंपनी की रिसर्च टीम ने किया था IPhone हैक होने का खुलासा

लेटेस्ट खबर

Raipur Train Blast: रायपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में धमाका, CRPF के 6 जवान घायल

Raipur Train Blast: रायपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में धमाका, CRPF के 6 जवान घायल

'Vikram Vedha': ऋतिक रोशन के फैंस का इंतजार खत्म, विक्रम वेधा की शूटिंग शुरू...देखें फोटो

'Vikram Vedha': ऋतिक रोशन के फैंस का इंतजार खत्म, विक्रम वेधा की शूटिंग शुरू...देखें फोटो

विक्की कौशल की 'सरदार उधम सिंह' की हुई स्क्रीनिंग, कैटरीना पर रही कैमरे की नजर

विक्की कौशल की 'सरदार उधम सिंह' की हुई स्क्रीनिंग, कैटरीना पर रही कैमरे की नजर

CWC Meeting: सोनिया गांधी ने खुद को बताया पूर्णकालिक अध्यक्ष, बैठक में राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा जारी

CWC Meeting: सोनिया गांधी ने खुद को बताया पूर्णकालिक अध्यक्ष, बैठक में राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा जारी

Singhu Border Murder: किसान नेता टिकैत बोले- जो हुआ वह गलत, आंदोलन प्रभावित नहीं होगा

Singhu Border Murder: किसान नेता टिकैत बोले- जो हुआ वह गलत, आंदोलन प्रभावित नहीं होगा

Apple ने निकाला Pegasus का तोड़, इमरजेंसी सॉफ्टवेयर अपडेट किया जारी

एप्पल ने अपने आईफोन और दूसरे एप्पल प्रोडक्ट यूजर्स के लिए एक इमरजेंसी सॉफ्टवेयर अपडेट जारी किया है...जिसके माध्यम से पेगासस से जासूसी को नाकाम किया जा सकता है.

पेगासस जासूसी कांड (Pegasus Controversy) को लेकर भारत सहित पूरी दुनिया में हंगामा बरपा हुआ है. पहले खबर आई थी कि इजराइली कंपनी का ये सॉफ्टवेयर इतना मजबूत है कि ये एप्पल (Apple) के सुरक्षा चक्र को भी भेद सकता है...लेकिन ताजा खबर ये है कि एप्पल ने एक इमरजेंसी सॉफ्टवेयर अपडेट जारी किया है जिसके बाद पेगासस के जरिए एप्पल के आईफोन और दूसरे एप्पल प्रोडक्ट्स हैक नहीं किए जा सकेंगे. एप्पल कंपनी का दावा है कि अब उनके प्रोडक्ट पूरी तरह से सेफ हैं.  

दरअसल इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक खबर के मुताबिक एप्पल ने अपनी जांच में पाया कि एक सऊदी सिटीजन के आईफोन से पेगासस के जरिए जीरो कल्कि पर फोन में मौजूद डाटा चुराया गया है. वहीं कंपनी की रिसर्च टीम ने पाया कि फोन में बिना कोई छेड़छाड़ के भी इसके जरिए यूजर्स के कैमरे को ऑन किया जा सकता है. मेल पढ़े जा सकते हैं. किसी भी ऐप में मौजूद पर्सनल इंफॉर्मेशन को लीक किया सकता है.

आपको बता दें कि बीते कुछ महीनों से पेगासस को लेकर भारत में भी चर्चा गरम है. पेगासस के जरिए केंद्र सरकार पर विपक्ष के नेताओं, सोशल एक्टिविस्ट्स और कुछ मीडिया परसन्स की जासूसी का आरोप लग रहा है. हालांकि मामला अभी कोर्ट में है और सीजेआई एन वी रमना की अध्यक्षता वाली बेंच इसकी सुनवाई कर रही है.

अप नेक्स्ट

Apple ने निकाला Pegasus का तोड़, इमरजेंसी सॉफ्टवेयर अपडेट किया जारी

Apple ने निकाला Pegasus का तोड़, इमरजेंसी सॉफ्टवेयर अपडेट किया जारी

Google ने बैन किए पैसे चुराने वाले Apps, आप भी कर दें डिलीट

Google ने बैन किए पैसे चुराने वाले Apps, आप भी कर दें डिलीट

Realme GT Neo 2: मात्र 36 मिनट में फुल चार्ज होगा ये सुपर फोन, कैमरे का भी नहीं कोई तोड़

Realme GT Neo 2: मात्र 36 मिनट में फुल चार्ज होगा ये सुपर फोन, कैमरे का भी नहीं कोई तोड़

MG Astor: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस है MG की ये नई कार, आपसे करेगी बातें

MG Astor: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस है MG की ये नई कार, आपसे करेगी बातें

मेड इन इंडिया Mercedes Benz S Class लॉन्च, देखें जर्मन ऑटोमेकर का इंडियन लक्जरी स्टाइल

मेड इन इंडिया Mercedes Benz S Class लॉन्च, देखें जर्मन ऑटोमेकर का इंडियन लक्जरी स्टाइल

Ola Cars: ई-स्कूटर के लॉन्च के बाद Ola ने गाड़ियो की खरीद- बिक्री के लिए लॉन्च किया नया प्लेटफॉर्म

Ola Cars: ई-स्कूटर के लॉन्च के बाद Ola ने गाड़ियो की खरीद- बिक्री के लिए लॉन्च किया नया प्लेटफॉर्म