1. home
  2. > हिन्दुस्तान
  3. > एक ऐसी राखी जो ढाल बनकर करती है भाई की रक्षा
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

एक ऐसी राखी जो ढाल बनकर करती है भाई की रक्षा

Aug 02, 2020 22:29 IST

आईये हम आप को लिए चलते है मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के एक ऐसे गांव में जहां देश सेवा का जज्बा कूट-कूट कर भरा हुआ है। छोटे से गांव से हर दूसरे-तीसरे घर में एक फौजी है। लेकिन आज तक इस गांव में मातृभूमि की रक्षा कर कोई शहीद होकर नहीं लौटा है। गांव में रक्षा बंधन के अवसर बहनें अपने भाईयों को घर आने के बजाए सेना में ही रखकर देश की रक्षा का वचन लेती है। इसके साथ ही बहनें भाईयों की याद में उनकी फोटों और पेड़ों को राखी बांधकर राखी का त्यौहार मनाती है।बहन पूजा राठौर ने बताया कि उसके दोनों भाई दिलीप और दशरत आर्मी में है रक्षा बंधन पर छूटी नहीं मिलने पर उन्हें उनकी याद तो आती है वो फिर भी अपने भाईयों को देश की रक्षा करने का वचन लेकर अपने भाईयों की याद में तुलसी और उनके फोटों को राखी बांधकर ये पर्व मनाती है। भंवरसिंह ने बताया कि ये नौकरी और परिवार का पालन-पोषण ही, नहीं बल्कि जिस देश की मिट्टी में जन्म लिया है, उसका कर्ज चुकाना है।क्षेत्र में दांगी और राजपूत समाज के लोग ज्यादा रहते हैं। इन परिवारों के कई लोग सेना में सेवाएं दे रहे हैं। इसके अलावा ब्राह्मण, हरिजन, लुहार, साहू, गाडरी आदि समाज के लोग सेना में अधिक जा रहे हैं।

हिन्दुस्तान