पिछले 30 सालों में देश ने झेले हैं बड़े तूफान...जानिए इनका इतिहास

  1. home
  2. > भारत
  3. > पिछले 30 सालों में देश ने झेले हैं बड़े तूफान...जानिए इनका इतिहास
replay trump newslist
up NEXT IN 5 SECONDS sports newslist
tap to unmute
00:00/00:00
NaN/0

पिछले 30 सालों में देश ने झेले हैं बड़े तूफान...जानिए इनका इतिहास

May 20, 2020 14:39 IST

पूरे देश में आपदा प्रबंधन में ओडिशा को सबसे ऊपर माना जाता है. इसकी वजह है यहां आने वाले भयंकर तूफान...अम्फान से पहले भी ओडिशा ने कई बड़े चक्रवाती तूफानों के कहर को झेला है...ओडिशा में साल 1893 से तूफानों का रिकॉर्ड रखा जा रहा है. जिसके बाद 1914, 1917, 1982 , 1989 और 1999 में भी यहां भयंकर तूफान आए. अब नजर डालते हैं हाल के दिनों में देश में आने वाले बड़े तूफानों पर 1999: सुपर साइक्लोन ओडिशा में इस तूफान में करीब 10 हजार की मौत , 15 लाख बेघर तब हवा की रफ्तार करीब 250 किलोमीटर प्रति घंटा थी समुद्र में कई मीटर ऊंची लहरें उठीं, 3 लाख जानवरों की मौत पुल, सड़कें, रेल यातायात के साथ साथ संचार के सभी साधन ठप पड़ गए थे 2013: फैलिन तूफान अक्टूबर महीन में आंध्र प्रदेश से टकराया. इस तूफान से करीब 90 लाख लोग प्रभावित हुए. 30 लोगों की मौत हो गई, हजारों घर तबाह हो गए 2014: हुदहुद तूफान 2014 के अक्टूबर में ओडिशा के 16 जिलों में कहर बरपाया आंध्र प्रदेश में भी असर, दोनों राज्यों में 40 से अधिक की मौत 2017: ओखी तूफान 29 नवंबर 2017 को तमिलनाडु और केरल में आया दोनों राज्यों में भारी नुकसान, 250 से अधिक की मौत 2018: गाजा तूफान तमिलनाडु, पुडुचेरी, आंध्र प्रदेश में इसका असर देखा गया. इस तूफान में 45 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. 2019: तितली तूफान 126 km/ph की रफ्तार से ओडिशा और आंध्र के तटों से टकराया 15 जिलों में असर, 50 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित, 27 की मौत

भारत