लेटेस्ट खबर

Rubina Dilaik की डेब्यू फिल्म Ardh ट्रेलर हुआ रिलीज, Rajpal Yadav का दिखा जबरदस्त अंदाज

Rubina Dilaik की डेब्यू फिल्म Ardh ट्रेलर हुआ रिलीज, Rajpal Yadav का दिखा जबरदस्त अंदाज

Cannes 2022 में Deepika Padukone ने बिखेरा जलवा, उर्वशी और तमन्ना का दिखा ग्लैमरस लुक

Cannes 2022 में Deepika Padukone ने बिखेरा जलवा, उर्वशी और तमन्ना का दिखा ग्लैमरस लुक

Anil Baijal resign: दिल्ली के उपराज्यपाल ने दिया इस्तीफा, जानें क्या बताई वजह

Anil Baijal resign: दिल्ली के उपराज्यपाल ने दिया इस्तीफा, जानें क्या बताई वजह

Top 10 News: ज्ञानवापी मस्जिद विवाद में हिंदू पक्ष की नई मांग, द्रविड़ की जगह हेड कोच बन सकते हैं लक्ष्मण

Top 10 News: ज्ञानवापी मस्जिद विवाद में हिंदू पक्ष की नई मांग, द्रविड़ की जगह हेड कोच बन सकते हैं लक्ष्मण

Tamil Nadu bus accident : तमिलनाडु में 30 लोगों का हुआ मौत से सीधा सामना, देखिए खौफनाक वीडियो

Tamil Nadu bus accident : तमिलनाडु में 30 लोगों का हुआ मौत से सीधा सामना, देखिए खौफनाक वीडियो

आखिर क्यों सबसे अहम और अनूठा था सम्राट अशोक का चरित्र, क्यों नहीं है कोई महाराजा उनके आगे.

प अगर अखंड भारत की बात करते हैं तो भारत के इतने बड़े हिस्से पर अशोक ने ही सबसे पहले राज्य किया.
• अशोक के शासन में हिंदुकुश से लेकर अफगानिस्तान ईरान बलूचिस्तान कहां का हिस्सा नहीं था.
• पाकिस्तान , बांग्लादेश , अफगानिस्तान, नेपाल भूटान , म्यांमार का ज्यादातर हिस्सा अशोक के साम्राज्य का हिस्सा था.
• वो सचमुच के चक्रवर्ती सम्राट थे जिसका मतलब होता है सम्राटों का सम्राट
• अशोक ने संपूर्ण एशिया में बौद्ध धर्म का प्रचार किया. उनके राज्य के चिन्ह भारत में कहीं भी मिल जाते हैं
• कल मैंने आपको बताया था कि एक अशोक बेहद क्रूर और घिनौना था जो महिलाओं को जलवा दिया करता था तो उसी अशोक का जीवन का दूसरा हिस्सा प्रेम, सहिष्णुता, सत्य, अहिंसा और शाकाहार के लिए समर्पित रहां
• अशोक का जीवन बदला कलिंग युद्ध से.
• मेरे खयाल से हृदय परिवर्तन का इससे बड़ा उदाहरण नहीं मिलेगा. कलिंग युद्ध तक जो अशोक हिंसक कामुक और चांडाल हुआ करता था वो अशोक धर्म प्रचार का प्रतीक बन गया. अपने जन्मस्थल लुंबिनी, , सारनाथ , बोधगया, कुशी नगर, श्रीलमंका, थाईलैंड, चीन में आपोक अशोक स्तंभ मिल जाएंगे. अशोक चहां नहीं गया वहां भी अशोक स्तंभ देखे जा सकते है.
• बौद्ध धर्म को श्रीलंका, अफगानिस्तान, वेस्ट एशिया मिश्र और यूनान तक पहुंचाने वाला सम्राट अशोक ही था.
• अशोक ने राजा होते हुए, राजा को क्या जरूरत थी ऐश करता,
• 23 विश्वविद्य़ालय बनवपाए. तक्षशिला, नालंदा, विक्रम शिला , कंधाहार जैसे विश्वविद्यालय सम्राट अशोक ने ही बनाए थे.
• देश विदेश में शिक्षा पाने के लिए छात्र यहां आया करते थे.
• कलिंग का युद्ध 261 ईसापूर्व हुआ था. तब असोक को राज्याभिषेक के आठ ही साल हुए थे.
• तेरहवे शिलालेख के अनुसार कलिंग युद्ध में डेढ़ लाख व्यक्ति बंदी बनाकर निर्वासित किए गए थे.
• एक लाख लोगों की मौत हुई थी. डेढ़ लाख लोग घायल हुए. अशोक ने ये नरसंहार खुद अपनी आंखों से देखा.
• इसके बा अशोक ने युद्ध को हमेशा के लिए बंद कर दिया. उसने महान बौद्ध धर्म को स्वीकार कर लिया,.
• श्रेय उपगुप्त नामके भिक्षु ने उनको दीक्षा दिलाई,
• अपने शासनकाल के बारहबे साल में वो बोधगया गया.
• शासन के बीसलें साल में यानि कलिंग के 12 साल बाद अशोक ने लुंबनी की यात्रा की
• अस्पताल पाठशालाएं और सड़कें बनवाईं
• बौद्ध धर्म के प्रचार के लिए उन्होंने नेपाल, श्रीलंका, अफगानिस्तान सीरिया मिश्र और यूनान में भी अहिंसा का संदेश भेजा.

अप नेक्स्ट

आखिर क्यों सबसे अहम और अनूठा था सम्राट अशोक का चरित्र, क्यों नहीं है कोई महाराजा उनके आगे.

आखिर क्यों सबसे अहम और अनूठा था सम्राट अशोक का चरित्र, क्यों नहीं है कोई महाराजा उनके आगे.

भारत सरकार ने गेहूं के एक्सपोर्ट बैन पर बोला आधा झूठ, जानिये अंदर की कहानी

भारत सरकार ने गेहूं के एक्सपोर्ट बैन पर बोला आधा झूठ, जानिये अंदर की कहानी

5G टावर को लेकर सुपर मेहरबान सरकार , जहां चाहो लगाओ, सिर्फ 100 रुपये फीस

5G टावर को लेकर सुपर मेहरबान सरकार , जहां चाहो लगाओ, सिर्फ 100 रुपये फीस

इस साल के अंत तक तबाह हो सकते हैं 69  देश , वर्ल्ड बैंक की वार्निंग में क्या भारत भी

इस साल के अंत तक तबाह हो सकते हैं 69 देश , वर्ल्ड बैंक की वार्निंग में क्या भारत भी

लोगों की नौकरियां क्यों ले रही है दो  करोड़ देने के वादे वाली सरकार

लोगों की नौकरियां क्यों ले रही है दो करोड़ देने के वादे वाली सरकार

दूसरे देशों का रुख क्यों कर रहे हैं अमेरिकन, देश में क्या है कमी?

दूसरे देशों का रुख क्यों कर रहे हैं अमेरिकन, देश में क्या है कमी?

और वीडियो

पूरी कोशिश के बावजूद गेहूं एक्सपोर्ट नहीं कर सकी सरकार, क्यों पीछे खींचना पड़ा हाथ

पूरी कोशिश के बावजूद गेहूं एक्सपोर्ट नहीं कर सकी सरकार, क्यों पीछे खींचना पड़ा हाथ

एयर प्यूरीफायर के लिए भी चुनौती है ये नया प्रदूषण, कहीं कहीं मास्क भी है फेल

एयर प्यूरीफायर के लिए भी चुनौती है ये नया प्रदूषण, कहीं कहीं मास्क भी है फेल

फार्मा लॉबी के खिलाफ खुलकर क्यों नहीं बोलती सरकार, किस बात का है डर

फार्मा लॉबी के खिलाफ खुलकर क्यों नहीं बोलती सरकार, किस बात का है डर

सावधान : खतरे में आ सकती है आपकी है नौकरी, वेतन कटने के भी दिन आए

सावधान : खतरे में आ सकती है आपकी है नौकरी, वेतन कटने के भी दिन आए

क्या भारत सीखेगा इन तीन देशों से सबक, हम क्या न करें तो बेहतर है

क्या भारत सीखेगा इन तीन देशों से सबक, हम क्या न करें तो बेहतर है

कोरोना आने से पहले ज्यादा मौतें. महामारी में हो गईं कम, सरकारी डेटा में खुलासा

कोरोना आने से पहले ज्यादा मौतें. महामारी में हो गईं कम, सरकारी डेटा में खुलासा

क्या राजद्रोह का कानून हटने से आजादी बढेगी, सुप्रीम कोर्ट के फैसले का क्या है मतलब

क्या राजद्रोह का कानून हटने से आजादी बढेगी, सुप्रीम कोर्ट के फैसले का क्या है मतलब

नेशनल फेमिली हेल्थ सर्वे में सामने आए आम लोगों के अजीब रुझान

नेशनल फेमिली हेल्थ सर्वे में सामने आए आम लोगों के अजीब रुझान

क्या भारत के हालात श्रीलंका की तरह हो रहे हैं. क्या कहते हैं आंकड़े

क्या भारत के हालात श्रीलंका की तरह हो रहे हैं. क्या कहते हैं आंकड़े

रूस से लगातार कैसे हार रहा है अमेरिका, ये तो ऐतिहासिक बेइज्जती है

रूस से लगातार कैसे हार रहा है अमेरिका, ये तो ऐतिहासिक बेइज्जती है

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.