लेटेस्ट खबर

Congress: राज्यों में अपनी पकड़ खोती जा रही है कांग्रेस! 'आलाकमान' की बातें बेअसर

Congress: राज्यों में अपनी पकड़ खोती जा रही है कांग्रेस! 'आलाकमान' की बातें बेअसर

Viral video: UP के उन्नाव में फूफा ने भतीजे की बना दी जिंदा समाधि, युवक समेत 3 पुजारी गिरफ्तार

Viral video: UP के उन्नाव में फूफा ने भतीजे की बना दी जिंदा समाधि, युवक समेत 3 पुजारी गिरफ्तार

Shinzo Abe funeral: शिंजो आबे को पीएम PM Modi ने अंतिम विदाई, दोस्त को यादकर हुए भावुक

Shinzo Abe funeral: शिंजो आबे को पीएम PM Modi ने अंतिम विदाई, दोस्त को यादकर हुए भावुक

Dearness Allowance Hike: इस महीने बढ़कर आ सकती है सैलरी, सरकार कर्मचारियों को दे सकती है ये बड़ा तोहफा!

Dearness Allowance Hike: इस महीने बढ़कर आ सकती है सैलरी, सरकार कर्मचारियों को दे सकती है ये बड़ा तोहफा!

Android Dynamic Island: ऐपल का ये फीचर आया एंड्राइड में; बच जायेंगे हज़ारों रूपए

Android Dynamic Island: ऐपल का ये फीचर आया एंड्राइड में; बच जायेंगे हज़ारों रूपए

अमेरिका में हालात बिगड़े, देश छोड़ने के लिए भगदड़, यूरोप में 40 परसेंट पलायन

अमेरिकी कर रहे हैं यूरोपके लिए पलायन
सबसे ज्यादा लोगों ने पकड़ा पुर्तगाल का रुख
यूरोप जाने वालों की संख्या 45 परसेंट बढ़ी
इटली पुर्तगाल, फ्रांस स्पेन और ग्रीस जाने वालों की संख्या बढी


कारण
एक साल की तुलना करें तो अभी अमेरिका में कंज्यूमर प्राइस 9.1 फीसद की दर पर पहुंच गई है. मई में यह दर 8.6 फीसद थी. महीने के स्तर पर देखें तो उपभोक्ता मूल्यों में 1.3 फीसद की बढ़ोतरी है.
अप्रैल से मई के बीच इस दर में 1 फीसद की बढ़त देखी गई थी.
कम आय वाले, अश्वेत और हिस्पैनिक अमेरिकी सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं क्योंकि इस वर्ग की कमाई का बड़ा हिस्सा हाउसिंग, ट्रांसपोर्टेशन और भोजन पर खर्च होता है.

क्या-क्या हुआ महंगा
अमेरिका में घर का किराया 5.8 फीसद तक बढ़ गया है. 1986 के बाद यह सबसे बड़ी महंगाई है.
एक साल की तुलना करें तो नई कारों के दाम में 11.4 फीसद की बढ़ोतरी देखी गई है.
विमानों के किराये एक साल पहले की तुलना में 34 फीसद अधिक है.
मई से जून तक डेंटल सर्विस में 1.9 परसेंट की तेजी देखी गई है जो कि 1995 के बाद सबसे अधिक है.
घरों के दाम में भी बढ़ोतरी है. होम लोन की दरें भी बढ़ी हुई हैं.
एक घऱ की कीमत तीन करोड़ रुपये हो चुकी है.

योरप ही क्यों चुना
डालर का दाम ज्यादा तो उतनी ही कमाई में आप योरप मं ज्यादा सुविधाएं प्राप्त कर सकते हैं
अमेरिका में पढ़ॉई बहुत महंगी है और लोगों को कर्ज लेकर बच्चों को पढ़ाना पड़ताहै जबकि योरप के देशों में शिक्षा मुफ्त है
स्वास्ध्य सेवाएं भी मुफ्त हैं लेकिन अमेरिका ने दोनों ही चीजों को कारोबार बना रखा है.
उसे लगता है कि कारोबार होगा तो मुनाफा होगा मुनाफे के लिए और स्कूल और अस्पताल खुलेंगे उससे आर्थिक तरक्की होगी


***About Knocking News (नॉकिंग न्यूज़)***
शिक्षा , इतिहास , अर्थशास्त्र, राजनीति और अन्य समसामयिक विषयों पर पत्रकार गिरिजेश वशिष्ठ के विश्लेषण इस चनल पर लगातार मिलता है. आजाद, खुली और स्वस्थ पत्रकारिता को अपने अनुभव से लेकर आते हैं.
ये चैनल पत्रकार गिरिजेश वशिष्ठ के विश्लेषणों का चैनल है. गिरिजेश वशिष्ठ वरिष्ठ पत्रकार हैं. वो इन्डिया टुडे ग्रुप, दिल्ली आजतक, ज़ी, दैनिक भास्कर, दैनिक जागरण, सहारा समय समेत अनेक महत्वपूर्ण समाचार संस्थानों में संपादक के स्तर पर जिम्मेदारियां संभाल चुके हैं और पिछले 34 साल से लगातार सक्रिय हैं.
This is a analysis channel of Girijesh Vashistha. Girijesh Vashistha is a senior journalist; he has worked with India Today group, Zee Network, Dainik Bhaskar, Dainik Jagran and sahara samay like Prominent News organizations for 34 years at Editor Level

For donations and support you may pay from any app by using UPI facility. our upi id is....
**************
girijeshv@okicici
**************
Editorial Partner – editorji :
https://www.editorji.com/hindi/partner/knockingnew-com
Please subscribe to our youtube channel:
https://www.youtube.com/c/KnockingNews
Another channel for Girijesh Vashistha Videos:
https://www.youtube.com/c/girijeshvashistha
Check out the KnockingNews website for more news:
https://www.KnockingNews.com/
Like us on Facebook:
https://www.facebook.com/KnockingNews/
Follow us on twitter:
https://twitter.com/KnockingNews
Our videos also available on Instagram:
https://www.instagram.com/KnockingNews/...

Our telegram channel :
https://t.me/KNLive

latest videos are at odysee
https://odysee.com/@KnockingNews
***For sponsordhip and advertisement related enquiries please contact ***
Email - knockingnews@gmail.com
-For donations and support you may pay from any app by using UPI facility. our upi id is....
***************
girijeshv@okicici
********************
-For news information please mail on above address. mobile number will be shared only if required

अप नेक्स्ट

अमेरिका में हालात बिगड़े, देश छोड़ने के लिए भगदड़, यूरोप में 40 परसेंट पलायन

अमेरिका में हालात बिगड़े, देश छोड़ने के लिए भगदड़, यूरोप में 40 परसेंट पलायन

हाइड्रोजन रेल इंजन को लेकर आधा झूठ क्यों बोल रही है सरकार

हाइड्रोजन रेल इंजन को लेकर आधा झूठ क्यों बोल रही है सरकार

क्यों खाली हो रहा है विदेशी मुद्रा भंडार, आरबीआई ने खुद के छापे नोट डालर देकर खरीदे

क्यों खाली हो रहा है विदेशी मुद्रा भंडार, आरबीआई ने खुद के छापे नोट डालर देकर खरीदे

नीतियों के कारण रोज़गार का ऐतिहासिक संकट

नीतियों के कारण रोज़गार का ऐतिहासिक संकट

शंकराचार्य से क्यों चिढ़ता है संघ. क्या होगा उनके जाने के बाद

शंकराचार्य से क्यों चिढ़ता है संघ. क्या होगा उनके जाने के बाद

कितने गुना बढ़ने वाला है गैस का दाम

कितने गुना बढ़ने वाला है गैस का दाम

और वीडियो

क्या है अचानक कुत्तों के काटने की समस्या का समाधान, कैसे बचे कोई?

क्या है अचानक कुत्तों के काटने की समस्या का समाधान, कैसे बचे कोई?

नितिन गडकरी एयरबैग को लेकर फैला रहे हैं भ्रम, ये कैसे पहुंचा सकता है नुकसान

नितिन गडकरी एयरबैग को लेकर फैला रहे हैं भ्रम, ये कैसे पहुंचा सकता है नुकसान

क्या स्मृति ईरानी गिरफ्तार की जा सकती है, दस्तावेज़ों में साबित हुआ गुनाह ?

क्या स्मृति ईरानी गिरफ्तार की जा सकती है, दस्तावेज़ों में साबित हुआ गुनाह ?

ब्रिटिश प्रधानमंत्री लायी केजरीवाल वाली नीति, बिजली पर दिया ये तोहफा

ब्रिटिश प्रधानमंत्री लायी केजरीवाल वाली नीति, बिजली पर दिया ये तोहफा

दवाओं के इस खुले घोटाले के बारे में सुना था? कहां सो रही है सरकार?

दवाओं के इस खुले घोटाले के बारे में सुना था? कहां सो रही है सरकार?

सरकार के सामने बड़ा सवाल, रिटायर 65 में करें या 40 की उम्र में

सरकार के सामने बड़ा सवाल, रिटायर 65 में करें या 40 की उम्र में

क्या टैक्नोलाजी बनने लगी है आदमी के लिए सिरदर्द

क्या टैक्नोलाजी बनने लगी है आदमी के लिए सिरदर्द

राहुल गांधी ने जो मुद्दे उठाये वे सही थे? क्या यही होना था भाषण

राहुल गांधी ने जो मुद्दे उठाये वे सही थे? क्या यही होना था भाषण

मास्टर स्ट्रोक का आघात बहुत गहरा. संभल नहीं पा रही जीडीपी

मास्टर स्ट्रोक का आघात बहुत गहरा. संभल नहीं पा रही जीडीपी

क्या सरकार ने कानून बनाकर आपका धन नियंत्रित कर लिया है. किसे मिल रहा है आपके धन का फायदा

क्या सरकार ने कानून बनाकर आपका धन नियंत्रित कर लिया है. किसे मिल रहा है आपके धन का फायदा

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.