हाइलाइट्स

  • मेरठ के सोतीगंज मार्केट में चोरी की लग्जरी कार डेढ़ से 2 लाख में बिकती थी
  • मोटरसाइकिल चोर यहां बाइक को 5 हजार रुपये में भी बेच देते थे
  • 30 साल से चल रही मार्केट पर अब जड़ा जा चुका है ताला

लेटेस्ट खबर

Telangana परीक्षा केंद्र में पहुंचने में हुई थी देरी तो छात्र ने की आत्महत्या,  पिता से मांगी माफ़ी

Telangana परीक्षा केंद्र में पहुंचने में हुई थी देरी तो छात्र ने की आत्महत्या, पिता से मांगी माफ़ी

On This Day in History 1 Mar: आज ही के दिन हुआ था सबसे विनाशकारी 'हाइड्रोजन बम' का परीक्षण, जानें इतिहास

On This Day in History 1 Mar: आज ही के दिन हुआ था सबसे विनाशकारी 'हाइड्रोजन बम' का परीक्षण, जानें इतिहास

Kashmiri पत्रकार आसिफ सुल्तान 5 साल बाद जेल से रिहा हुआ

Kashmiri पत्रकार आसिफ सुल्तान 5 साल बाद जेल से रिहा हुआ

Lok Sabha Elections 2024: BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक जारी, लोकसभा कैंडिडेट्स की आ सकती है लिस्ट

Lok Sabha Elections 2024: BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक जारी, लोकसभा कैंडिडेट्स की आ सकती है लिस्ट

UP Board: यूपी बोर्ड के दो पेपर हुए लीक! परीक्षा शुरू होते ही व्हाट्सएप पर आ गया पेपर

UP Board: यूपी बोर्ड के दो पेपर हुए लीक! परीक्षा शुरू होते ही व्हाट्सएप पर आ गया पेपर

प्रेगनेंसी अनाउसमेंट के बाद एक साथ दिखाई दिए Ranveer Singh और Deepika Padukone

प्रेगनेंसी अनाउसमेंट के बाद एक साथ दिखाई दिए Ranveer Singh और Deepika Padukone

Russia में फंसे 20 भारतीयों को भारत वापिस लाने के लिया प्रयासरत भारत सरकार

Russia में फंसे 20 भारतीयों को भारत वापिस लाने के लिया प्रयासरत भारत सरकार

Kota Factory Season 3 - स्टूडेंट्स के बीच आ रहे हैं जीतू भैया, वेब सीरीज में हुई इस एक्ट्रेस की एंट्री

Kota Factory Season 3 - स्टूडेंट्स के बीच आ रहे हैं जीतू भैया, वेब सीरीज में हुई इस एक्ट्रेस की एंट्री

सोतीगंज: उत्तर प्रदेश का 'बदनाम बाज़ार' जिसपर योगी ने जड़ा ताला!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब सोतीगंज (Sotiganj Market in Meerut) का नाम लिया, उससे पहले कम ही लोगों को पता था कि इस बाजार पर अब ताला जड़ा जा चुका है...

सोतीगंज: उत्तर प्रदेश का 'बदनाम बाज़ार' जिसपर योगी ने जड़ा ताला!

शाहजहांपुर रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने जब सोतीगंज (Sotiganj Market in Meerut) का नाम लिया, उससे पहले कम ही लोगों को पता था कि इस बाजार पर अब ताला जड़ चुका है. लेकिन अब जब पीएम ने इस जगह का नाम ले लिया, तब बात दूर तलक तो जानी ही थी...

चुनाव अपडेट Live

सोतीगंज कैसे बन गया 'कमेला'

सोतीगंज, मेरठ का वह बदनाम बाजार (Meerut Market Sotiganj) था जहां गाड़ियों का पुर्जा ऐसी महीन कारीगरी के साथ अलग किया जाता था कि हर निगाह धोखा खा जाए. चोरी का वाहन जब इस 'कसाईखाने' में कटने के लिए आते हैं तो कारीगर उसके परखच्चे उड़ा देते थे. इस बाजार को चोरी की गाड़ियों और स्पेयर पार्ट का अड्डा कहा जाता था. गाड़ी कोई भी हो, यहां आपको उसका हर पार्ट मिल ही जाता था.

इस बाजार में 70 के दशक की अंबेसडर कार (70's Ambassador Car) का भी पुर्जा मिल जाता था और 60 के दशक के महिंद्रा जीप (60's Mahindra Jeep) का भी. कई रिपोर्ट्स में तो यहां तक कहा गया है कि सेकेंड वर्ल्ड वॉर के वक्त की जीप के टायर भी यहां मिलते थे.

यही वजह रही कि ये बाजार गाड़ियों का 'कमेला' बन गया था. 'कमेला' वह जगह होती है जहां पशुओं को काटा जाता है. सोतीगंज भी एक तरह से गाड़ियों के लिए 'कमेले' का ही काम कर रहा था.

करोड़पति बन गए कबाड़ी

बचपन से हम और आप गली-मोहल्ले में जिस कबाड़ीवाले की आवाज सुनते रहे हैं, यहां पर वह कबाड़ीवाला उस इमेज से बिल्कुल उलट था, जो हमारे दिलो-दिमाग पर बचपन से बनी थी.

यहां के कबाड़ी करोड़ों में खेला करते थे. नाम तो कुछ के ही मीडिया में सामने आए लेकिन अप्रत्यक्ष तौर पर भी यहां के धंधे से जुड़े ऐसे कई कबाड़ीवाले हैं जिन्होंने सल्तनत खड़ी कर दी, वह भी चोरी के इसी धंधे से.

यहां के सबसे बड़े कबाड़ी हाजी गल्ला (Haji Galla) की ही बात करें तो उसने साल 1995 में दिल्ली रोड पर मोटर मैकेनिक की दुकान खोली थी. कबाड़ का कारोबार उसे पसंद आया तो उसने इधर भी हाथ आजमाया. बस यहीं उसकी गाड़ी चल निकली. देखते-देखते वह सोतीगंज का बादशाह बन गया.

हाजी गल्ला ने सोतीगंज और सदर बाजार इलाके में 2 आलीशान मकान खड़े कर लिए. हाजी गल्ला ने कोठी बनवाई, कई प्लॉट खरीदे, इनकी ऊंची बाउंड्री बनवाई और उसी में तैयार कराए अपने गोदाम. इन्हीं गोदामों में चलता था गाड़ियों का पुर्जा पुर्जा उखाड़ने का खेल.

सोतीगंज के बड़े कबाड़ियों की बात करें तो इसमें हाजी गल्ला, हाजी इकबाल, हाजी आफताब, मुस्ताक, मन्नू उर्फ मईनुद़्दीन, हाजी मोहसिन, सलमान उर्फ शेर, राहुल काला, सलाउद्दीन का नाम है.

मार्केट में कैसे होता था काम

सोतीगंज में चोरी की गाड़ी के काले खेल से जुड़ी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि लाखों (20 से 40 लाख) की लग्जरी गाड़ी चोरी के बाद जब यहां लाई जाती थी, तब कॉन्ट्रैक्टर कार की हालत के हिसाब से चोरी करने वाले को 1 लाख रुपये तक जितने पैसे बनते थे, पकड़ा देता था. अगर चोर ने किसी तीसरे को गाड़ी बेची और गाड़ी खरीदने वाला यहां आता था, तो रेट बढ़ जाता था. तब, यही लग्जरी कार डेढ़ से 2 लाख में बिकती थी. कबाड़ी, कारीगरों से खुलवाकर गाड़ी का पुर्जा पुर्जा गोदाम में रखता और 4 से 5 लाख में बेच देता था.

यह तो लग्जरी कार की बात हुई. इसी तरह से साधारण कारों के रेट भी चलते थे. चोरी की मोटरसाइकिल के दाम भी इस बाजार में तय थे. चोरी की गई बाइक यहां 4 हजार रुपये तक में बिक जाती थी, हालांकि इससे ज्यादा रेट भी मिलता था.

यूपी पुलिस की कार्रवाई

यूपी में पुलिस (Uttar Pradesh Police) ने हाल ही में सोतीगंज में ताबड़तोड़ कार्रवाई की है. हाजी गल्ला और इकबाल सहित 43 लोगों पर गुंडा एक्ट लगा दिया गया. पुलिस ने मुईनुद्दीन, शोएब, हाजी गल्ला, गटटू, काला, हाजी नईम को भी शिकंजे में लिया. इन सभी पर आरोप था कि ये चोरी की गाड़ियों को आसानी से खपाने का काम करते थे.

पुलिस ने 32 से ज्यादा वाहन माफियाओं के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की. कई करोड़ की संपत्ति को जब्त किया गया. अकेले हाजी गल्ला की ही 35 करोड़ की कोठियां-गोदाम और अन्य संपत्ति की कुर्की की गई. दुकानदारों को नोटिस भी जारी किए और जिन्होंने जवाब नहीं दिया, उनकी दुकान भी बंद करवा दी.

अब तक सोतीगंज पर क्यों सोता रहा प्रशासन

किसी भी अपराध की जड़ में नेताओं और खाकी की मिलीभगत का किस्सा तो हम सभी को मालूम हैं. फिल्मों में ये कहानी सभी ने देखी है. यूपी में मेरठ के सोतीगंज के लिए ये सभी बातें सटीक बैठती हैं. कई नेताओं की शरण में ये बाजार फलता फूलता चला गया. बीते 30 सालों में कई सरकारें आई, शहर ने कई अफसर देखे लेकिन कोई इस धंधे पर हाथ न डाल पाया.

हाजी नईम उर्फ गल्ला के बारे में कहा जाता है कि कुछ साल पहले तक किसी की हिमाकत नहीं थी कि उसके खिलाफ कार्रवाई कर सके. गल्ला पर हाथ डालने का मतलब था, सीधा तबादला.

बदल गया माहौल, पर हो रहा विरोध भी

सोतीगंज में दशकों पुरानी कबाड़ की दुकानों में जहां पहले चोरी की गाड़ियों के पार्ट्स बिकते थे, वहां पर मोमोज-चाउमीन, नॉन वेज, कपड़ों की दुकानें चल रही हैं. कई जगह दुकानों के बाहर तख्तियां टंगी हुई हैं जिनपर भविष्य में चोरी की कार के पुर्जे न निकालने की बात कही गई है. इन शपथपत्रों की चर्चा तो है लेकिन पुलिस की कार्रवाई के विरोध में सुर भी कम नहीं है.

कई वीडियो में लोग कहते दिखाई दे रहे हैं कि चंद लोगों की वजह से ये इलाका बदनाम था लेकिन अब वे सभी जेल में हैं. अब प्रशासन को तय करना है कि बाकी लोगों का क्या होगा. यहां बहुत बेगुनाह पिस रहे हैं. जो माल बचा हुआ है, वह कहां लेकर जाएंगे?

दिनेश शर्मा नाम के एक दुकानदार ने कहा कि लूट, डकैती कहां नहीं हो रही है लेकिन सबकी नजर सिर्फ सोतीगंज पर ही है.

इस बीच, ऐसी भी खबरें सामने आई हैं जिनमें बताया गया है कि कारोबार बंद होने से बेरोजगार हुए लोगों के लिए प्रशासन नई व्यवस्था कर रहा है. उन्हें लोन दिलवाकर नया काम शुरू करने में मदद की जा रही है.

जानें- अपर्णा के बीजेपी में जाने से मुलायम खुश या नाराज?


अप नेक्स्ट

सोतीगंज: उत्तर प्रदेश का 'बदनाम बाज़ार' जिसपर योगी ने जड़ा ताला!

सोतीगंज: उत्तर प्रदेश का 'बदनाम बाज़ार' जिसपर योगी ने जड़ा ताला!

Kashmiri पत्रकार आसिफ सुल्तान 5 साल बाद जेल से रिहा हुआ

Kashmiri पत्रकार आसिफ सुल्तान 5 साल बाद जेल से रिहा हुआ

Telangana परीक्षा केंद्र में पहुंचने में हुई थी देरी तो छात्र ने की आत्महत्या,  पिता से मांगी माफ़ी

Telangana परीक्षा केंद्र में पहुंचने में हुई थी देरी तो छात्र ने की आत्महत्या, पिता से मांगी माफ़ी

UP Board: यूपी बोर्ड के दो पेपर हुए लीक! परीक्षा शुरू होते ही व्हाट्सएप पर आ गया पेपर

UP Board: यूपी बोर्ड के दो पेपर हुए लीक! परीक्षा शुरू होते ही व्हाट्सएप पर आ गया पेपर

Haldwani Violence:: उत्तराखंड पुलिस ने 'मास्टरमाइंड' के बेटे को किया गिरफ्तार

Haldwani Violence:: उत्तराखंड पुलिस ने 'मास्टरमाइंड' के बेटे को किया गिरफ्तार

IMD Weather Update: मार्च के पहले दिन जारी रहेगी बारिश और बर्फबारी का सिलसिला, जानें आपने शहर का हाल

IMD Weather Update: मार्च के पहले दिन जारी रहेगी बारिश और बर्फबारी का सिलसिला, जानें आपने शहर का हाल

और वीडियो

Gurmeet Ram Rahim को लेकर HC सख़्त, 'राम रहीम को पैरोल देने से पहले हमसे इजाजत लें'

Gurmeet Ram Rahim को लेकर HC सख़्त, 'राम रहीम को पैरोल देने से पहले हमसे इजाजत लें'

Sukhvinder Singh Sukhu ही बने रहेंगे हिमाचल के CM, पर्यवेक्षक डीके शिवकुमार का ऐलान

Sukhvinder Singh Sukhu ही बने रहेंगे हिमाचल के CM, पर्यवेक्षक डीके शिवकुमार का ऐलान

Viral: कैमरे में कैद हुआ कोलंबिया में हेलिकॉप्टर क्रैश का वीडियो, देखें Video

Viral: कैमरे में कैद हुआ कोलंबिया में हेलिकॉप्टर क्रैश का वीडियो, देखें Video

Shahjahan Sheikh TMC से 6 साल के लिए सस्पेंड

Shahjahan Sheikh TMC से 6 साल के लिए सस्पेंड

PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana को मिली मंज़ूरी, 1 करोड़ घरों को मिलेगी 300 यूनिट बिजली मुफ्त

PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana को मिली मंज़ूरी, 1 करोड़ घरों को मिलेगी 300 यूनिट बिजली मुफ्त

Shahjahan Sheikh: 'जेल में कुछ नहीं होगा, 5 स्टार सुविधा मिलेगी', शुभेंदु अधिकारी का ममता सरकार पर वार

Shahjahan Sheikh: 'जेल में कुछ नहीं होगा, 5 स्टार सुविधा मिलेगी', शुभेंदु अधिकारी का ममता सरकार पर वार

Ajmer: अदालत ने सिलसिलेवार बम विस्फोट मामले में मुख्य आरोपी टुंडा को बरी किया

Ajmer: अदालत ने सिलसिलेवार बम विस्फोट मामले में मुख्य आरोपी टुंडा को बरी किया

Uttar Pradesh: सहारनपुर में कुत्ते को पीटकर अधमरा करने के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार

Uttar Pradesh: सहारनपुर में कुत्ते को पीटकर अधमरा करने के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार

Sukesh Chandrashekhar: 'CM केजरीवाल के खिलाफ लड़ूंगा चुनाव', सुकेश चंद्रशेखर ने चिट्ठी में किए कई खुलासे

Sukesh Chandrashekhar: 'CM केजरीवाल के खिलाफ लड़ूंगा चुनाव', सुकेश चंद्रशेखर ने चिट्ठी में किए कई खुलासे

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के 6 बागी विधायक अयोग्य करार, स्पीकर ने सुनाया फैसला

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के 6 बागी विधायक अयोग्य करार, स्पीकर ने सुनाया फैसला

हमारे बारे में

एडिटरजी भारत में स्थित एक लोकप्रिय वीडियो समाचार और सूचना प्लेटफार्म है. इसकी शुरुआत साल 2018 में भारत के प्रमुख पत्रकारों में से एक, विक्रम चंद्रा, ने की थी, और कुछ ही सालों में एडिटर्जी ने  डिजिटल समाचार की दुनिया में अपनी अलग पहचान बना ली है. ये प्लेटफ़ॉर्म मुख्य रूप से मोबाइल उपकरणों के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसमें एंड्रॉइड और आईओएस के लिए एप्लिकेशन उपलब्ध हैं.

हमसे संपर्क करें

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.