हाइलाइट्स

  • Uttar Pradesh में इस बार कोविड की वजह से वर्चुअल कैंपेन ज्यादा होगा
  • टेक्नोलॉजी के प्लेटफॉर्म पर UP की कौन सी पार्टी आगे है, यह जानते हैं
  • BJP ने बनाए 1 लाख वॉट्सऐप ग्रुप, 9 हजार धुरंधरों को ट्रेनिंग भी दी

लेटेस्ट खबर

Maharashtra: महाराष्ट्र में पहली बार मिला कोरोना का BA 4 और 5 वैरिएंट, 9 साल के बच्चे में भी संक्रमण

Maharashtra: महाराष्ट्र में पहली बार मिला कोरोना का BA 4 और 5 वैरिएंट, 9 साल के बच्चे में भी संक्रमण

Delhi Auto-Taxi Fare: दिल्‍लीवालों को फिर लगेगा झटका !, ऑटो और टैक्सी का बढ़ेगा किराया

Delhi Auto-Taxi Fare: दिल्‍लीवालों को फिर लगेगा झटका !, ऑटो और टैक्सी का बढ़ेगा किराया

SpiceJet Flight का शीशा चटका, मुंबई हवाई अड्डे पर उतारा गया विमान

SpiceJet Flight का शीशा चटका, मुंबई हवाई अड्डे पर उतारा गया विमान

Domestic Violence: पत्नियों से बेवजह पिटते हैं पति, जानें क्या कहते हैं आंकड़े

Domestic Violence: पत्नियों से बेवजह पिटते हैं पति, जानें क्या कहते हैं आंकड़े

Hubballi-Dharwad: कर्नाटक में BJP की बड़ी जीत, कांग्रेस को छकाया-MIM को भी किया पस्त

Hubballi-Dharwad: कर्नाटक में BJP की बड़ी जीत, कांग्रेस को छकाया-MIM को भी किया पस्त

UP Election 2022: डिजिटल दुनिया में क्यों चलता है BJP का सिक्का?

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में इस बार रैलियों और मीटिंग्स की संख्या में कमी दिखाई देगी, ऐसा कोविड की वजह से होगा, लेकिन वर्चुअली होने वाले कैंपेन में किस पार्टी की तैयारी अच्छी है, आइए जानते हैं

इस बार उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, कोविड के मंडराते खतरे के बीच आयोजित हो रहे हैं. इसी वजह से रैलियों पर, मीटिंग्स पर पाबंदी रहेगी. चुनावों के इस मौसम में, वर्चुअल और डिजिटल कैंपेन वास्तविकता का रूप लेते नजर आएंगे.

UP's digital dangal: बीजेपी को बढ़त?

और बात जब टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल फायदे के लिए करने की आती है, तो बीजेपी साफ तौर पर दूसरे दलों से एक कदम आगे नजर आती है.

यूपी के रणक्षेत्र में बीजेपी ने किस तरह से अपने तकनीकी धुरंधरों को तैयार करना शुरू कर दिया है, आइए जानते हैं:

WhatsUP, BJP: वॉट्सऐप के 1 लाख ग्रुप

बीजेपी का बड़ा फोकस वॉट्सऐप पर है. पार्टी ने एक लाख से भी ज्यादा वॉट्सऐप ग्रुप इसलिए बनाए हैं, ताकि बूथ स्तर पर वोटर्स को एकजुट किया जा सके.

बीजेपी के 9 हजार सोशल मीडिया धुरंधरों के लिए ट्रेनिंग सेशन

बीजेपी नेताओं के हवाले से रिपोर्ट्स में बताया गया है कि पार्टी पहले ही अपने 9 हजार से ज्यादा सोशल मीडिया पदाधिकारियों के लिए कम से कम 85 मीटिंग और वर्कशॉप का आयोजन कर चुकी है.

अब वह डिजिटल रूप से कॉन्टेंट के प्रचार को और तेज करने की योजना पर काम कर रही है.

अलग-अलग जिलों पर केंद्रित 100 से भी ज्यादा फेसबुक पेज

अलग-अलग जिलों में पहुंच के लिए 100 से भी ज्यादा फेसबुक पेज तैयार किए गए हैं.

खास जातियों के लिए बीजेपी का वॉट्सऐप ग्रुप

कुर्मी, कोइरी, कश्यप, बुनकर, गुर्जर, आदि ओबीसी जातियों को अपने पक्ष में लामबंद करने के लिए पार्टी ने खास वॉट्सऐप ग्रुप बनाए हैं.

बूथ वर्कर का वोटर से सीधा जुड़ाव

बूथ लेवल पर पार्टी नेताओं को उन्हें सौंपे गए मतदाताओं (वोटर लिस्ट) से संपर्क में रहने की ट्रेनिंग दी गई है, इसमें बड़ी संख्या सरकार की आवास, गैस कनेक्शन, शौचालय, पीने के पानी और बिजली योजना के लाभार्थियों की है.

वर्चुअल रैलियों के लिए वर्कर्स को ट्रेनिंग दी गई

प्रमुख नेताओं के भाषण की लाइव स्ट्रीमिंग को लेकर भी कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग दी गई है.

डिजिटल रैलियों के दौरान छोटी छोटी सभाओं को आयोजित करने के लिए भी ट्रेनिंग सेशन दिए गए हैं.

3D तकनीक का इस्तेमाल

बीजेपी, वर्चुअल रैलियों के लिए 3डी टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल की योजना भी बना रही है.

दो अलग-अलग जगहों पर मौजूद नेताओं को एक साथ दिखाने के लिए 3D स्टूडियो मिक्स तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा.

ग्रामीण इलाकों में घूमेंगे LED स्क्रीन वाले ट्रक

प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बीजेपी के प्रचार की आम रणनीति के अलावा, पार्टी पूरे राज्य में, खासतौर से ग्रामीण इलाकों में LED स्क्रीन वाले वैन और ट्रक भी चला रही है.

BJP: टेक ट्रेंडसेटर

चुनाव प्रचार में तकनीक का इस्तेमाल करने में बीजेपी अग्रणी रही है - चाहे वह 2004 के चुनाव में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का प्री-रिकॉर्डेड कॉल रहा हो या 2014 में 3डी वैन टेक्नोलॉजी या मिस्ड कॉल प्रयोग. पार्टी ने टेक्नोलॉजी पर ट्रेंड सेट किए हैं.

UP's digital dangal: देखादेखी के रास्ते पर सपा, कांग्रेस

तकनीक के इस मैदान में दूसरी पार्टियां देखादेखी के नियम पर चलती दिखाई दे रही हैं. समाजवादी पार्टी वर्चुअल रैलियों की योजना बना रही है, ताकि वह वोटर्स तक पहुंच बढ़ा सके. अखिलेश यादव की पार्टी इसके लिए सोशल मीडिया पर निर्भर है लेकिन समस्या ये है कि पार्टी का कोर वोटर ग्रामीण क्षेत्र से है.

SP भी तेज कर रही है डिजिटल और सोशल मीडिया की रणनीति

अपनी डिजिटल रणनीति को आगे बढ़ाने के लिए, समाजवादी पार्टी ने लोगों को वॉट्सऐप ग्रुप से जोड़ना शुरू कर दिया है. साथ ही, पार्टी ने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह दूर-दराज के ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर मतदाताओं के साथ जुड़ें.

प्रियंका ने लॉन्च किया वर्चुअल कैंपेन

कांग्रेस की प्रियंका गांधी भी जनता से डिजिटली कनेक्ट होने की कोशिश कर रही हैं. प्रियंका ने अपना वर्चुअल कैंपेन उसी वक्त शुरू किया जब चुनाव आयोग ने राज्य में इलेक्शन शेड्यूल का ऐलान किया. पार्टी अपने नेताओं के रोचक ऑनलाइन सेशन और लाइव आयोजित करने की योजना पर काम कर रही है.

दूसरी पार्टियां जब देखादेखी करती दिखाई दे रही हैं, वे यूपी चुनाव में बीजेपी की तकनीक और डिजिटल प्रचार स्ट्रैटिजी से पीछे ही दिखाई दे रही हैं.

अप नेक्स्ट

UP Election 2022: डिजिटल दुनिया में क्यों चलता है BJP का सिक्का?

UP Election 2022: डिजिटल दुनिया में क्यों चलता है BJP का सिक्का?

Yasin Malik अब भी आ सकता है जेल से बाहर, ये हैं बचने के रास्ते

Yasin Malik अब भी आ सकता है जेल से बाहर, ये हैं बचने के रास्ते

Driving License के नियमों में सरकार ने किया बड़ा बदलाव, जानें अब कैसे बनेगा DL

Driving License के नियमों में सरकार ने किया बड़ा बदलाव, जानें अब कैसे बनेगा DL

RBI Hikes Repo Rate: EMI होगी महंगी, RBI ने बढ़ा दी ब्याज दरें...जानें कितनी कटेगी जेब?

RBI Hikes Repo Rate: EMI होगी महंगी, RBI ने बढ़ा दी ब्याज दरें...जानें कितनी कटेगी जेब?

Jodhpur: बालमुकुंद बिस्सा थे कौन, जिनकी मूर्ति पर झंडा लगाने पर भड़की हिंसा

Jodhpur: बालमुकुंद बिस्सा थे कौन, जिनकी मूर्ति पर झंडा लगाने पर भड़की हिंसा

World Press Freedom Day 2022: जानें विश्व प्रेस आजादी दिवस का इतिहास, क्या है दुनिया में भारत की रैंकिंग?

World Press Freedom Day 2022: जानें विश्व प्रेस आजादी दिवस का इतिहास, क्या है दुनिया में भारत की रैंकिंग?

और वीडियो

Exit Poll Results 2022: जानें कब कब गलत साबित हुए एग्जिट पोल?

Exit Poll Results 2022: जानें कब कब गलत साबित हुए एग्जिट पोल?

Elections 2022: जानें क्या है Exit Poll और Opinion Poll ? ये रही पूरी ABCD

Elections 2022: जानें क्या है Exit Poll और Opinion Poll ? ये रही पूरी ABCD

UP Elections 2022 : 2nd Phase की वोटिंग को समझिए

UP Elections 2022 : 2nd Phase की वोटिंग को समझिए

UP Elections 2022 : दूसरे चरण में इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर

UP Elections 2022 : दूसरे चरण में इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर

छात्र आंदोलन में FIR झेलने वाले Khan Sir को कितना जानते हैं आप?

छात्र आंदोलन में FIR झेलने वाले Khan Sir को कितना जानते हैं आप?

UP Elections: स्वामी प्रसाद मौर्य के कॉन्फिडेंस की वजह क्या है?

UP Elections: स्वामी प्रसाद मौर्य के कॉन्फिडेंस की वजह क्या है?

UP Elections: अयोध्या-मथुरा छोड़ योगी ने क्यों चुनी गोरखपुर सदर सीट?

UP Elections: अयोध्या-मथुरा छोड़ योगी ने क्यों चुनी गोरखपुर सदर सीट?

UP Elections 2022 : 35 सालों की 'टाइम मशीन'!

UP Elections 2022 : 35 सालों की 'टाइम मशीन'!

Bulli Bai ऐप और Sulli Deals: अब तक हुआ क्या-क्या, पूरी जानकारी यहां लें

Bulli Bai ऐप और Sulli Deals: अब तक हुआ क्या-क्या, पूरी जानकारी यहां लें

Wheat Export : कभी भारत को 'भिखारियों का देश' कहने वाला अमेरिका, गेहूं के लिए क्यों गिड़गिड़ा रहा?

Wheat Export : कभी भारत को 'भिखारियों का देश' कहने वाला अमेरिका, गेहूं के लिए क्यों गिड़गिड़ा रहा?

Editorji Technologies Pvt. Ltd. © 2022 All Rights Reserved.